मंत्रिपरिषद के निर्णय

व्यापक लोकहित में आपराधिक प्रकरणों के प्रत्याहरण के लिए नयी प्रक्रिया अनुमोदित

मंत्रि-परिषद के निर्णय

भोपाल : गुरूवार, जनवरी 17, 2019, 17:09 IST

मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ की अध्यक्षता में हुई मंत्रि-परिषद की बैठक में व्यापक लोकहित में आपराधिक प्रकरणों के प्रत्याहरण के लिए नयी प्रक्रिया अनुमोदित की गई है। अनुमोदित प्रक्रिया अनुसार प्रत्याहरण के लिए अब किसी भी आवेदक को राजधानी आने की आवश्यकता नहीं होगी। वह अपना आवेदन सीधे संबंधित जिले के जिलादण्डाधिकारी को प्रस्तुत कर सकेगा।

प्रकरण के प्रत्याहरण के लिए जिला एवं राज्य स्तरीय समिति के गठन के साथ ही प्रकरण प्रत्याहरण की त्वरित कार्यवाही सुनिश्चित करने के लिए संचालक लोक अभियोजन को संयोजक एवं नोडल एजेंसी घोषित किया गया है। जिला स्तरीय समिति में जिलादण्डाधिकारी को अध्यक्ष, जिला पुलिस अधीक्षक को सदस्य और जिला लोक अभियोजन अधिकारी को सदस्य सचिव बनाया गया है।

राज्य स्तरीय समिति में अपर मुख्य सचिव/प्रमुख सचिव गृह विभाग, प्रमुख सचिव विधि एवं विधायी कार्य, पुलिस महानिदेशक और महाधिवक्ता अथवा उनके द्वारा नामांकित प्रतिनिधि सदस्य होंगे। संचालक लोक अभियोजन को समिति का संयोजक बनाया गया है। राज्य स्तरीय समिति प्रक्रिया के प्रभावी क्रियान्वयन के लिए समय-समय पर अनुशंसा कर सकेगी। मंत्रि-परिषद की बैठक में जय किसान फसल ऋण माफी योजना के क्रियान्वयन की समीक्षा भी की गई।


दुर्गेश रायकवार/संदीप कपूर
आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग को 10 प्रतिशत आरक्षण की मंजूरी
निर्माण को बढ़ावा देने कलेक्टर गाइड लाइन दर में 20 प्रतिशत की कमी की जाएगी
राज्य शासन की सेवाओं में नियुक्ति के लिए आयु सीमा में वृद्धि
शासकीय सेवकों और पेंशनर्स को 3 प्रतिशत महँगाई भत्ता
शासकीय सेवकों और पेंशनर्स को 3 प्रतिशत महँगाई भत्ता
आदिवासी संस्कृति के देव-स्थानों के संरक्षण की योजना स्वीकृत
तेंदूपत्ते की संग्रहण दर 2500 रूपये प्रति मानक बोरा निर्धारित
भारतीय वायु सेना द्वारा की गई कार्यवाही पर प्रशंसा प्रस्ताव पारित
प्रदेश में सूचना प्रौद्योगिकी संचालनालय का गठन होगा
प्रदेश में युवा स्वाभिमान योजना शुरू करने का निर्णय
नि:शुल्क आवासीय शिक्षा योजना को निरंतर रखने की मंजूरी
व्यापक लोकहित में आपराधिक प्रकरणों के प्रत्याहरण के लिए नयी प्रक्रिया अनुमोदित
मुख्यमंत्री फसल ऋण माफी योजना में 31 मार्च 2018 तक के ऋण माफ होंगे और 12 दिसंबर तक ऋण पटाने वाले किसान लाभांवित होंगे
1