खुशियों की दास्ताँ

कर्जमाफी के ऐतिहासिक फैसले से गदगद हैं अन्नदाता

रीवा : सोमवार, दिसम्बर 24, 2018, 16:34 IST

किसानों के कर्ज माफ करने का राज्य शासन द्वारा लिया गया ऐतिहासिक निर्णय प्रदेश के लाखों अन्नदाताओं के लिये संजीवनी से कम नहीं है। इस फैसले से रीवा जिले के भी किसान गदगद हैं। वह नवनियुक्त मुख्यमंत्री कमलनाथ को कोटिश: धन्यवाद दे रहे हैं जिन्होंने किसानों के हित में एक बड़ा व कारगर निर्णय लिया व अपने वायदे को निभाया।

जिले के रायपुर कर्चुलियान जनपद अन्तर्गत बरेही के कृषक शिवेश गौतम बताते है कि उन्होंने कृषि कार्य के लिये ऋण लिया था मगर प्राकृतिक आपदा के कारण वह कर्ज चुकता नहीं कर पाये थे। कर्ज के बोझ से दबे जा रहे थे और उन्हें यह कतई उम्मीद नहीं थी कि इतनी आसानी से उनका कर्ज माफ हो जायेगा। अब वह खुशी से कहते हैं कि हमारे मुख्यमंत्री कमलनाथ ने हम किसानों के सीने से कर्ज जैसा बड़ा बोझ हटा दिया है।

हुजूर तहसील के खड्डा गांव की महिला कृषक सुशीला सिंह ने कहा कि उन्होंने अपने पति शारदा सिंह के नाम पर क्रेडिट कार्ड से बैंक ऋण लिया था मगर उपज ठीक न होने के कारण समय पर चुका नहीं पायीं। अब नई सरकार नई रोशनी लायी है और हम किसानों को राहत महसूस हुई जब प्रदेश के मुखिया कमलनाथ ने अपने वादे को पूरा करते हुए किसानों के कर्ज माफ कर दिये। खैरा निवासी धनराज सिंह कहते हैं कि शासन द्वारा किसानों के हित में लिया गया कर्जमाफी का फैसला मील का पत्थर साबित होगा। इससे किसान समृद्ध होंगे व उनके ऊपर से कर्ज का बोझ हट जायेगा। उन्होंने किसानों के हितैषी मुख्यमंत्री को इस बड़े निर्णय के लिये किसान भाइयों की ओर से कोटिश: धन्यवाद दिया। खैरा गांव के इन्द्रजीत सिंह, केरन सिंह, सौखीलाल सिंह राजभान सिंह व रीतेश सिंह जैसे सैकड़ों किसान शासन के कर्जमाफी के फैसले से खुश हैं और वह सभी इस निर्णय का स्वागत करते हुये मुख्यमंत्री जी को साधुवाद दे रहे हैं जिन्होंने किसानों के पक्ष में पदभार संभालते ही बड़ा ऐतिहासिक फैसला लिया।


-