आज के समाचार

पिछला पृष्ठ
.

केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ. हर्षवर्धन से वर्चुअल बैठक

प्रदेश के कोविड-19 के संक्रमण की रोकथाम एवं वैक्सीनेशन के किये जा रहें प्रयासों की सराहना 

भोपाल : शनिवार, मई 15, 2021, 21:12 IST

केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ. हर्षवर्धन की अध्यक्षता में कोविड-19 की स्थिति और वैक्सीनेशन के संबंध में केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा 4 राज्यों उत्तरप्रदेश, आन्ध्रप्रदेश, मध्यप्रदेश और गुजरात के स्वास्थ्य मंत्री से व्हीसी के माध्यम से बैठक की गई। केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने प्रदेश में कोविड-19 संक्रमण की रोकथाम एवं वैक्सीनेशन के बारे में संबंधित राज्य के स्वास्थ्य मंत्रियों से जानकारी प्राप्त की।

केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने कहा कि वैक्सीन का जीरो वेस्टेज करने के लिए कोविन एप में वेटिंग लिस्ट बनाये जाने की व्यवस्था की जाये। उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य कर्मियों को प्रशिक्षित करने के लिए न्यूनतम एक सप्ताह का समय दिया जाये। केन्द्रीय मंत्री ने कहा कि कोविन ऐप क्रियाशील होने के बाद ही नवीन नियम लागू किये जाएँ, जिससे अनावश्यक भीड़ न हों। उन्होंने कहा कि ए.ई.एफ.आई. का नया मॉडल बनाया जाये, जिससे सामान्य मृत्यु और कोविड से हो रही मृत्यु को ए.ई.एफ.आई. के रूप में विवेचना न करना पड़े। उन्होंने कहा कि राज्य शासन द्वारा खरीदी जा रही वैक्सीन का नियंत्रण राज्य एप के माध्यम से क्रियान्वयन करने की ऑटोनोमी हो। इससे वैक्सीनेशन का सही समय में समुचित योजनाबद्ध तरीके से अभियान संचालित किया जा सके।

स्वास्थ्य मंत्री डॉ. प्रभुराम चौधरी ने प्रदेश में कोविड-19 संक्रमण की रोकथाम के लिए किये जा रहे प्रयासों की जानकारी दी। मंत्री डॉ. चौधरी ने कहा कि प्रदेश में 13 अप्रैल से जनता कर्फ्यू लगाया गया था। कोविड-19 संक्रमण की दर में कमी न आने के कारण 25 अप्रैल से कोरोना कर्फ्यू लगाया गया, जिसके अच्छे परिणाम आये हैं। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा प्रभारी मंत्री, सांसद, विधायक एवं संबंधित अधिकारी की उपस्थिति में जिला क्राईसेस मेनेजमेंट समूह के साथ वर्चुअल मीटिंग के माध्यम से प्रतिदिन समीक्षा की जा रही है। इसके आशातीत परिणाम आ रहें हैं। उन्होंने कहा कि किल कोरोना अभियान के माध्यम से ग्रामीण क्षेत्रों में टेस्टिंग में वृद्धि की गई है। ग्रामों में आइसोलेशन सेंटर बनाये गये हैं। साथ ही आई.सी.यू बेड भी बढ़ाये जा रहें हैं एवं दवाओं की उपलब्धता भी सुनिश्चित की गई है। इसकी सतत् निगरानी भी की जा रही है।

मध्यप्रदेश ड्राईव इन वैक्सीन लगाने वाला प्रथम राज्य

स्वास्थ्य मंत्री डॉ. चौधरी ने बताया कि मध्यप्रदेश प्रथम राज्य है जहाँ ड्राईव इन वैक्सीन प्रारंभ हुई है। उन्होंने बताया कि प्राप्त वैक्सीन के अनुसार 45 वर्ष से अधिक आयु के वर्ग को वैक्सीनेशन के प्रथम डोज का 70 प्रतिशत उपयोग करने में प्रदेश प्रथम पाँच राज्यों में शामिल हुआ है। उन्होंने बताया कि प्रदेश में हेल्थ केयर वर्कर को 98.3 प्रतिशत एवं फ्रंट लाईन वर्कर को 90.4 प्रतिशत वैक्सीनेशन किया गया है। मंत्री डॉ. चौधरी ने बताया कि प्रदेश में अभी तक लगभग 91 लाख वैक्सीन लाभार्थियों को लग चुकी है। शेष लगभग 9 लाख वैक्सीन उपलब्ध हैं। स्वास्थ्य मंत्री डॉ. चौधरी ने बताया कि वैक्सीनेशन उपयोगिता के दृष्टि से प्रदेश प्रथम पाँच राज्यों में सूचिबद्ध किया गया है, जहाँ लक्ष्य अनुसार 70 प्रतिशत वैक्सीनेशन पूर्ण किया गया है। उन्होंने प्रदेश की आवश्यकता के अनुरूप वैक्सीन कोटा बढ़ाने की मांग रखी। केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने आश्वस्त किया कि वैक्सीन व्यवस्था में आवश्यक सुधार किये जायेंगे।

केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री ने मध्यप्रदेश में कोविड-19 संक्रमण एवं वैक्सीनेशन के किये जा रहें प्रयासों की सराहना की। उन्होंने मध्यप्रदेश को पूर्ण सहयोग देने का आश्वासन दिया। बैठक में मिशन संचालक, एन.एच.एम श्रीमती छवि भारद्वाज एवं संचालक, एन.एच.एम. श्री संतोष शुक्ला उपस्थित थे।


के.के. जोशी
Post a Comment

समय से पूरी की जाएँ सभी सीवरेज परियोजनाएँ
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने मंत्रियों से की वन-टू-वन चर्चा
कोरोना मुक्ति में होगी युवाओं की महत्वपूर्ण भूमिका
वैक्सीनेशन जैसा पुनीत कार्य दूसरा नहीं
कोविड-19 की दूसरी लहर पर काबू के बाद अब शत-प्रतिशत वैक्सीनेशन का लक्ष्य
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बादाम का पौधा लगाया
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने सर संघ संचालक श्री के.एस. सुदर्शन की जयंती पर किया माल्यार्पण 
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने महारानी लक्ष्मी बाई को किया नमन
दतिया में 50 लाख से बनेगी सर्व-सुविधायुक्त आधुनिक सब्जी मण्डी - डॉ. मिश्रा
मुख्यमंत्री कोविड-19 विशेष अनुग्रह योजना क्रियान्वयन के संबंध में निर्देश जारी
आपदा प्रबंधन की तैयारियों के लिये ट्रेनिंग व मॉकड्रिल का आयोजन
मोतीझील फीडर के डिस्ट्रीब्यूशन ट्रांसफार्मर पर लापरवाही के चलते विद्युत कंपनी ने की दो कार्यपालन यंत्री, 3 सहायक यंत्री एवं तीन कनिष्ठ यंत्री पर कार्रवाई
इंदौर जिले का महू बन रहा पूर्णतः स्मार्ट मीटर वाला पहला शहर
किसानों से धोखाधड़ी करने वालों को बख्शा नहीं जायेगा - मंत्री श्री पटेल
कोरोना वैक्सीनेशन महा-अभियान को अपनी भागीदार से सफल बनायें- राज्य मंत्री श्री यादव
योजना के कार्यस्थलों का करें नियमित निरीक्षण
रोजगार गतिविधियों के सृजन से आत्म-निर्भर बनेगा मध्यप्रदेश- लोक निर्माण मंत्री श्री भार्गव
वैक्सीनेशन कराएं और दूसरो को भी प्रेरित करें : राज्य मंत्री श्री परमार
राज्य मंत्री श्री परमार ने स्कूल शिक्षा विभाग की ऑनलाइन अनुकंपा नियुक्ति प्रबंधन प्रणाली का शुभारंभ किया
राज्य आनंद संस्थान ने किया बच्चों के लिए ऑनलाइन आनंद सभा का आयोजन
वैक्सीन से नहीं घबराए वृद्धाश्रम के वृद्ध
नोवल कोरोना वायरस (COVID-19) मीडिया बुलेटिन
गाँव-गाँव जाना है - कोरोना मुक्त बनाना है
वैक्सीनेशन के लिये ग्रामीणों को पीले चावल दिये
कोरोना की रोकथाम के लिये ट्रांसजेंडर्स की अद्भुत पहल
देवास में 102 वर्षीय मिट्ठू बाई ने लगवाया कोरोना का टीका
1