आज के समाचार

पिछला पृष्ठ
.

सबके सहयोग से मई माह में ही कोरोना संक्रमण मिटाने का प्रयास होगा सफल - मुख्यमंत्री श्री चौहान

आपदा प्रबंधन दलों को कोरोना नियंत्रण के निर्देश 

भोपाल : गुरूवार, मई 13, 2021, 19:22 IST

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने रीवा मुख्यालय से संभाग के सभी जिलों की विकासखण्ड एवं ग्राम स्तरीय आपदा प्रबंधन समिति के सदस्यों से वर्चुअल चर्चा की। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि विन्ध्य क्षेत्र के निवासी जो मन में ठान लेते हैं उसे कर गुजरते हैं। अब सबने मिलकर कोरोना की चेन को तोड़ने का संकल्प लिया है। सबके सहयोग से मई माह में ही कोरोना संक्रमण की चेन को तोड़ने में हमे सफलता मिलेगी। विन्ध्य क्षेत्र में बहुत जल्दी कोरोना संक्रमण पर नियंत्रण पाया जा सकेगा। सदियों के बाद कोरोना संकट जैसी विषम परिस्थितियों का सामना करना पड़ता है। यह हम सबके लिये कठिन परीक्षा है। हम सब अपने प्रयासों से इस परीक्षा में अवश्य सफलता प्राप्त करेंगे।

जनता कर्फ्यू के निर्देशों का सख्ती से पालन करें

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि कोरोना की संक्रमण चेन तोड़ने का एक मात्र उपाय है कि जनता कर्फ्यू के निर्देशों का कठोरता से पालन करें। भीड़ न तो एकत्रित होने दें और न ही भीड़-भाड़ में जायें। शहर के हर मोहल्ले और हर गाँव की आपदा प्रबंधन समिति कोरोना संक्रमण की चेन तोड़ने के लिये प्रयास करे। किल कोरोना अभियान के दौरान हर घर का सर्वे करें। सर्दी-खाँसी अथवा कोरोना के लक्षणों को छुपायें नहीं। तत्काल टेस्ट कराकर उचित दवायें लें। समय पर दवा लेने से कोरोना पूरी तरह से ठीक हो जाता है। सबके प्रयासों से मध्यप्रदेश में एक महीने में पॉजिटिविटी रेट 23 प्रतिशत से घटकर 13 प्रतिशत पहुँच गई है। कुछ जिलों में यह 5 प्रतिशत से नीचे हो गई है।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि कम संक्रमित रोगियों को होम आइसोलेशन में रखें। जहाँ इसकी सुविधा नहीं है, वहाँ कोविड सेंटर तथा ग्रामीण क्षेत्रों में पंचायतों में इसकी व्यवस्था करें। मनरेगा के कार्य कोरोना संक्रमण से बचाव के उपायों के साथ चलायें। गाँव में ही कोरोना की चेन तोड़ने का प्रयास करें। होम आइसोलेशन के रोगी यदि गंभीर होते हैं तो तत्काल अस्पताल में भर्ती करायें। रीवा संभाग में पर्याप्त बेड, ऑक्सीजन तथा रेमडेसिविर इंजेक्शन उपलब्ध हैं। संभाग में पॉजिटिविटी रेट लगातार घट रहा है। हमने अगले 15 दिनों तक यदि जनता कर्फ्यू का ठीक से पालन किया और सावधानी बरती तो विन्ध्य क्षेत्र से मई माह में ही कोरोना संक्रमण पर नियंत्रण हो जायेगा। इसके लिये हमें व्यवहार में सुधार करना आवश्यक है। सभी जन-प्रतिनिधि, सामाजिक संगठन तथा आपदा प्रबंधन समिति के सदस्य मिलकर प्रयास करेंगे तो हमे सफलता अवश्य मिलेगी।

कोरोना से बचाव का सबसे कारगर साधन है टीकाकरण

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि कोरोना से बचाव का सबसे कारगर साधन टीकाकरण है। टीकाकरण के लिये वैक्सीन की पर्याप्त मात्रा उपलब्ध कराने के प्रयास किये जा रहे हैं। शहरी और ग्रामीण क्षेत्र में टीकाकरण जागरूकता के प्रयास करें। लोगों के मन में टीकाकरण की आशंकाओं को दूर करने के लिये लगातार प्रयास करें। हमने मई माह में सावधानी बरती तो जून माह से व्यवस्थायें सामान्य होनी शुरू हो जायेंगी। बैठक में विधानसभा अध्यक्ष श्री गिरीश गौतम, सांसद श्री जनार्दन मिश्र, विधायक, जिला आपदा प्रबंधन समिति के सदस्य तथा संबंधित अधिकारी उपस्थित रहे। वर्चुअल माध्यम से संभाग के सभी जिलों के विकासखण्ड स्तरीय तथा ग्राम पंचायत स्तरीय आपदा प्रबंधन दल इससे जुड़े रहे।


उमेशचन्द्र तिवारी
Post a Comment