आज के समाचार

पिछला पृष्ठ
.

कोरोना के विरूद्ध लड़ाई में डॉक्टर्स सेवा देने आगे आयें

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने की चिकित्सकों से अपील
केन्द्रीय मंत्री श्री धर्मेन्द्र प्रधान एवं मुख्यमंत्री श्री चौहान ने "रजिस्ट्रेशन ऑफ डॉक्टर्स एज़ वॉलेंटियर" एप लॉन्च किया
 

भोपाल : रविवार, मई 9, 2021, 19:54 IST

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि जनता को कोरोना से बचाने में डॉक्टर्स की भूमिका सर्वोपरि है। कोरोना के विरूद्ध इस लड़ाई में डॉक्टर्स स्वैच्छिक रूप से चिकित्सकीय सेवा देने के लिए आगे आयें। ''मैं एक डॉक्टर-मैं एक वॉलेंटियर'' एप के माध्यम से वे स्वयं को वॉलेंटियर्स के रूप में पंजीकृत करें और कोरोना को समाप्त करने में अपना बहुमूल्य योगदान दें।

केन्द्रीय मंत्री श्री धर्मेन्द्र प्रधान एवं मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने आज मंत्रालय से 'रजिस्ट्रेशन ऑफ डॉक्टर्स एज़ वॉलेंटियर' एप को वर्चुअली लॉन्च किया। केन्द्रीय मंत्री श्री प्रधान ने कहा कि यह एप कोविड के विरूद्ध लड़ाई में उपयोगी साबित होगा। देश-विदेश के डॉक्टर्स इससे जुड़कर जनता को चिकित्सा परामार्श दे सकेंगे।

'मैं एक डॉक्टर-मैं एक वॉलेंटियर' एप

  • यह सेवा मैप आई टी के पोर्टल https://mapit.gov.in/covid-19 एवं एमपी माईगव के पोर्टल https://mp.mygov.in/ के माध्यम से दी जा रही है।

  • पोर्टल में मोबाइल नंबर दर्ज कर कोई भी चिकित्सक, जो प्रदेश में स्वैच्छिक सेवा देना चाहते हैं, अपना पंजीयन करा सकते हैं।

  • पोर्टल में पंजीयन उपरांत डॉक्टर्स की सूची संबंधित जिलों के कंट्रोल रूम एवं कलेक्टरों को उपलब्ध कराई जाएगी।

  • संबंधित जिला इन चिकित्सकों से संपर्क कर उन्हें वर्तमान में होम आइसोलेशन अथवा अन्य स्टेज पर पेशेंट्स की सूची उपलब्ध कराएगा तथा पेशेंट्स और डॉक्टर के बीच समन्वय का कार्य करेगा।

  • स्वास्थ्य विभाग द्वारा उपयोग में लाए जाने वाले ई संजीवनी ओपीडी मोबाइल एप डाउनलोड करने के उपरांत पंजीकृत डॉक्टर प्रदेश के कोरोना पेशेन्ट्स को टेलीमेडिसिन माध्यम से चिकित्सीय परामर्श दे सकेंगे।

  • इस व्यवस्था के अंतर्गत डॉक्टर अपनी सेवा के क्षेत्र का चयन कर सकेंगे तथा अपनी सुविधानुसार सेवा देने के लिए दिन एवं समय भी पोर्टल पर दर्ज कर सकेंगे। डॉक्टर्स की उपलब्धता अनुसार मरीजों को उनसे संबद्ध कर चिकित्सकीय परामर्श दिया जा सकेगा।

  • इच्छुक डॉक्टर्स जिला कमांड एवं कन्ट्रोल सेंटर पर उपस्थित होकर भी मरीजों को टेली माध्यम से चिकित्सकीय परामर्श दे सकेंगे।

  • इस सेवा के प्रदाय हेतु डॉक्टर्स का प्रदेश में होना आवश्यक नहीं है। देश-विदेश का कोई भी चिकित्सक सेवा दे सकेगा।


पंकज मित्तल
Post a Comment

समय से पूरी की जाएँ सभी सीवरेज परियोजनाएँ
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने मंत्रियों से की वन-टू-वन चर्चा
कोरोना मुक्ति में होगी युवाओं की महत्वपूर्ण भूमिका
वैक्सीनेशन जैसा पुनीत कार्य दूसरा नहीं
कोविड-19 की दूसरी लहर पर काबू के बाद अब शत-प्रतिशत वैक्सीनेशन का लक्ष्य
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बादाम का पौधा लगाया
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने सर संघ संचालक श्री के.एस. सुदर्शन की जयंती पर किया माल्यार्पण 
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने महारानी लक्ष्मी बाई को किया नमन
दतिया में 50 लाख से बनेगी सर्व-सुविधायुक्त आधुनिक सब्जी मण्डी - डॉ. मिश्रा
मुख्यमंत्री कोविड-19 विशेष अनुग्रह योजना क्रियान्वयन के संबंध में निर्देश जारी
आपदा प्रबंधन की तैयारियों के लिये ट्रेनिंग व मॉकड्रिल का आयोजन
मोतीझील फीडर के डिस्ट्रीब्यूशन ट्रांसफार्मर पर लापरवाही के चलते विद्युत कंपनी ने की दो कार्यपालन यंत्री, 3 सहायक यंत्री एवं तीन कनिष्ठ यंत्री पर कार्रवाई
इंदौर जिले का महू बन रहा पूर्णतः स्मार्ट मीटर वाला पहला शहर
किसानों से धोखाधड़ी करने वालों को बख्शा नहीं जायेगा - मंत्री श्री पटेल
कोरोना वैक्सीनेशन महा-अभियान को अपनी भागीदार से सफल बनायें- राज्य मंत्री श्री यादव
योजना के कार्यस्थलों का करें नियमित निरीक्षण
रोजगार गतिविधियों के सृजन से आत्म-निर्भर बनेगा मध्यप्रदेश- लोक निर्माण मंत्री श्री भार्गव
वैक्सीनेशन कराएं और दूसरो को भी प्रेरित करें : राज्य मंत्री श्री परमार
राज्य मंत्री श्री परमार ने स्कूल शिक्षा विभाग की ऑनलाइन अनुकंपा नियुक्ति प्रबंधन प्रणाली का शुभारंभ किया
राज्य आनंद संस्थान ने किया बच्चों के लिए ऑनलाइन आनंद सभा का आयोजन
वैक्सीन से नहीं घबराए वृद्धाश्रम के वृद्ध
नोवल कोरोना वायरस (COVID-19) मीडिया बुलेटिन
गाँव-गाँव जाना है - कोरोना मुक्त बनाना है
वैक्सीनेशन के लिये ग्रामीणों को पीले चावल दिये
कोरोना की रोकथाम के लिये ट्रांसजेंडर्स की अद्भुत पहल
देवास में 102 वर्षीय मिट्ठू बाई ने लगवाया कोरोना का टीका
1