आज के समाचार

पिछला पृष्ठ
.
अनूठी पहल

जन-सहयोग से इंदौर में निर्मित हुआ प्रदेश का सबसे बड़ा कोविड केयर सेंटर

600 बेड्स की क्षमता के साथ आज हुआ ट्रायल रन
6 हजार बेड्स की कार्य-योजना तैयार
 

भोपाल : गुरूवार, अप्रैल 22, 2021, 16:56 IST

कोरोना संक्रमण के बढ़ते हुए मामलों को देखते हुए मरीजों के लिये पर्याप्त बेड व्यवस्था सुनिश्चित करने के लिये शासकीय सहित जन-सहयोग से भी व्यापक स्तर पर कोविड केयर सेंटर बनाये जा रहे हैं। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान के आव्हान पर अनेक समाजसेवी संस्थाएँ इसके लिये स्वेच्छा से आगे आ रही हैं। इंदौर में खंडवा रोड स्थित राधास्वामी सत्संग ब्यास आश्रम में देश का दूसरा तथा प्रदेश का सबसे बड़ा कोविड केयर सेंटर बनाया गया है। जन-सहयोग से निर्मित इस अत्याधुनिक कोविड केयर सेंटर को 600 बेड्स के साथ शुरू किया जा रहा है। इसकी बेड्स क्षमता को 6000 तक बढ़ाये जाने की कार्य-योजना भी तैयार की जा चुकी है।

प्रदेश के इस सबसे बड़े कोविड केयर सेंटर का गुरुवार सुबह ट्रायल रन हुआ। सब कुछ ठीक-ठाक होने पर रेपिड रिस्पोंस टीम द्वारा मरीजों को भर्ती करना शुरू कर दिया जाएगा। यहाँ मरीजों के उपचार, भोजन के साथ मनोरंजन की भी व्यवस्था रहेगी। रामायण, महाभारत जैसे सीरियल का प्रसारण 10 बड़ी एलईडी के माध्यम से होगा। सेंटर पर तैनात किए जाने वाले मेडिकल स्टाफ को पूरी तरह प्रशिक्षित किया जा चुका है। इस सेंटर पर यह प्रयास होगा कि मरीज को चिकित्सा सुविधा यहीं पर मिल जाए।

सेंटर में रेपिड रिस्पोंस टीम द्वारा लाये गये एवं चिकित्सकों द्वारा अनुशंसा प्राप्त कम लक्षण/एसिम्टोमेटिक मरीज, जिनके घर में होम आइसोलेशन की सुविधा उपलब्ध नहीं है या फिर ऐसे मरीज जिनकी स्वास्थ्य स्थिति का नियमित रूप से अवलोकन करने की आवश्यकता है, को यहाँ रखा जायेगा। इस सेंटर में मरीजों के उचित इलाज हेतु सभी आवश्यक सुविधाएँ एवं संसाधन उपलब्ध कराये जाएंगे। सेंटर को चार भागों में बाँटा गया है। इंदौर के चार प्रमुख अस्पताल मेदांता हॉस्पिटल, बॉम्बे हॉस्पिटल, चोइथराम हॉस्पिटल एवं राजश्री अपोलो हॉस्पिटल को सेन्टर के सुपरविजन की जवाबदारी सौंपी गई है। इन अस्पतालों का चिकित्सकीय अमला यहाँ पर चिकित्सा सुविधा प्रदान करेगा। साथ ही गंभीर स्थिति होने पर मरीजों को एम्बुलेंस से दूसरे अस्पतालों में भी रेफर किया जा सकेगा।

राज्य स्तरीय कोविड सलाहकार समिति के सदस्य डॉ. निशांत खरे ने बताया कि कोविड केयर सेंटर की सम्पूर्ण व्यवस्थाएँ जन-सहयोग द्वारा की गई हैं। सेंटर पूर्णत: एयरकूल्ड रहेगा और मरीजों के लिये बेड से लेकर भोजन आदि की सभी आधारभूत सुविधाएँ राधास्वामी न्यास आश्रम द्वारा प्रदान की जायेगी। कोविड केयर सेंटर में प्रतिभा सिन्टेक्स द्वारा मरीजों के कपड़ों की व्यवस्था, अभूदय संस्था द्वारा बेड, क्रेडाई एवं यूथ क्रेडाई द्वारा ऑक्सीजन प्लांट, जवेरी ग्रुप, नरेडको द्वारा ऑक्सीजन कंसंट्रेटर आदि अन्य व्यवस्थाएँ उपलब्ध कराने हेतु स्वेच्छा से योगदान दिया गया। इसी तरह मरीजों के बेहतर इलाज के लिये अन्य आधारभूत संसाधन एवं सुविधाओं की उपलब्धता प्रदान करने के लिये 420 पापड़, सहोदय जन कल्याण संस्था, नन्हे फरिश्ते, प्लास्टिक एसोसिएशन, एंटर 10 टेलीविजन लिमिटेड, अपोलो डीबी, बीसीएम, सजन प्रभा, मोइरा आदि संस्थाओं एवं उद्योगों द्वारा योगदान दिया गया है।

सेन्टर में 2 ऑक्सीजन प्लांट भी लगेंगे

कलेक्टर श्री मनीष सिंह ने बताया कि यह सेंटर सर्व सुविधाओं से परिपूर्ण रहेगा। यहाँ जन-भागीदारी से करीब दो करोड़ से अधिक की लागत के दो ऑक्सीजन प्लांट तैयार किए जा रहे हैं। इनकी क्षमता 850 लीटर प्रति मिनट रहेगी। सीएमएचओ को नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया है। कोविड केयर सेंटर में स्वास्थ्य विभाग का दायित्व सीएमएचओ कार्यालय के चिकित्सा अधिकारी डॉ. अमित मालाकार एवं डॉ. अनिल डोंगरे को सौंपा गया है। कोविड केयर सेंटर का प्रशासनिक हेड एसडीएम श्री रवि सिंह को बनाया गया है, जो सभी व्यवस्थाओं का सुपरविजन करेंगे। कोविड केयर सेंटर की साफ-सफाई, हाउसकीपिंग, भोजन एवं पेयजल व्यवस्था के साथ फायर सेफ्टी की व्यवस्थाओं का दायित्व भी अधिकारियों को सौंपा गया हैं।


आर.आर.पटेल/राजेश पाण्डेय
Post a Comment

इंदौर हवाई अड्डे से रेमडेसिवीर इंजेक्शन को ग्वालियर, ढाना और भोपाल पहुंचाया गया
मुख्यमंत्री कोविड उपचार योजना का अनुसमर्थन
कोरोना का टेस्ट हर नागरिक का अधिकार
प्रदेश में निरंतर नियंत्रण में आ रहा है कोरोना - मुख्यमंत्री श्री चौहान
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने नीम का पौधा लगाया
जन-सहयोग से कोरोना संक्रमण को रोकने में सफल होंगे : मुख्यमंत्री श्री चौहान
नकली दवा और इंजेक्शन बेचने वालों को होगी उम्र कैद : डॉ.मिश्रा
शहर के साथ-साथ ग्रामीण क्षेत्र में भी संक्रमण की रोकथाम के पुख्ता प्रबंध हों
राज्यमंत्री ने सुखपुर और ईसागढ़ में मरीजों से मिलकर पूछी कुशलक्षेम
अभी तक 2 लाख 26 हजार 901 कोरोना मरीजों तक पहुँची मेडिकल किट
नगरीय विकास मंत्री श्री सिंह ने विधायक श्री जुगलकिशोर बागरी के निधन पर शोक व्यक्त किया
वार्डवार करें संकट प्रबंधन समूह का गठन- मंत्री श्री भूपेन्द्र सिंह
साढ़े 13 लाख से अधिक किसानों से समर्थन मूल्य पर एक करोड़ मी. टन गेहूँ-चना की खरीदी
बिना पात्रता पर्ची वाले भी ले सकेंगे तीन माह का नि:शुल्क राशनःखादय मंत्री श्री सिंह
मंत्री सुश्री ठाकुर ने इंदौर और देवास में कोविड केयर सेंटर का किया निरीक्षण
इंदौर सेवा कुंज हॉस्पिटल में सवा करोड़ रुपए लागत से बनेगा ऑक्सीजन प्लांट
इंदौर ग्रामीण क्षेत्रों में बाहरी व्यक्तियों का प्रवेश पूर्णतः प्रतिबंधित
नोवल कोरोना वायरस (COVID-19) मीडिया बुलेटिन
मुख्यमंत्री कोविड उपचार योजना का गंभीरता से क्रियान्वयन सुनिश्चित करें - स्वास्थ्य मंत्री डॉ. चौधरी
किल कोरोना अभियान में गाँव में डोर-टू-डोर सर्वे शीघ्र कराये जायें - स्वास्थ्य मंत्री डॉ. चौधरी
कोविड-19 के बाद सामाजिक बदलावों पर चिंतन की जरूरत - मंत्री श्री सखलेचा
चिकित्सा शिक्षा मंत्री श्री सारंग की मौजूदगी में डॉक्टर्स की अहम बैठक
कोरोना काल में देवतुल्य कार्य कर रहे चिकित्सक एवं स्वास्थ्यकर्मी-  मंत्री श्री डंग 
1