आज के समाचार

पिछला पृष्ठ
.

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने पीपल का पौधा लगाया

 

भोपाल : मंगलवार, अप्रैल 6, 2021, 14:26 IST

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने आज मंगलवार को स्मार्ट उद्यान में पीपल का पौधा लगाया। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि पीपल का पौधा और वृक्ष प्रगति का प्रतीक है। मध्यप्रदेश के सभी नागरिक पौधे लगाएँ। परिवार के सदस्यों की जन्म और विवाह वर्षगाँठ भी पौधारोपण कर मनाई जाए।

पीपल का महत्व

पीपल एक छायादार वृक्ष है। पर्यावरण शुद्ध करता है। इसका धार्मिक महत्व भी है। स्कंद पुराण के अनुसार पीपल के मूल में विष्णु, तने में केशव, शाखाओं में नारायण, पत्तो में हरि आदि देव रहते हैं। पीपल वृक्ष की पूजा करने से सभी देव प्रसन्न होते हैं। पीपल में पितरों का निवास भी माना गया है। इसमें सब तीर्थों का निवास होता है, इसलिए ज्यादातर संस्कार इसके नीचे कराए जाते हैं। पीपल के वृक्ष की महत्ताभ का पुराणों और अन्यज धार्मिक ग्रंथों में खूब वर्णन किया गया है। इस वृक्ष की सकारात्मक उर्जा को देखते हुए ऋषि-महात्माओं नें पीपल वृक्ष के नीचे बैठ कर तप किया और ज्ञान अर्जित किया। महात्मा बुद्ध नें भी पीपल के नीचे बैठकर ही जन्म-मृत्यु और संसार के रहस्यों को जाना था।

सर्दी-जुकाम जैसी समस्या में भी पीपल लाभदायक होता है। पीपल के पत्तों को छाँव में सुखाकर मिश्री के साथ इसका काढ़ा बनाकर पीने से काफी लाभ होता है। इससे जुकाम जल्दी ठीक होने में मदद मिलती है। पीलिया हो जाने पर पीपल के 3-4 नए पत्तों के रस में मिश्री मिलाकर बनाए गए शरबत को पीना बेहद फायदेमंद होता है। इसे 3-5 दिन तक दिन में दो बार लेने से लाभ होता है।

प्रकृति विज्ञान के अनुसार पीपल का वृक्ष दिन-रात आक्सीजन छोड़ता है, जो पर्यावरण के लिए महत्वपूर्ण है। इसके अलावा पीपल के पेड़ को अक्षय वृक्ष भी कहा जाता है क्योंकि ये पेड़ कभी भी पत्ते विहीन नहीं होता। इसमें एकसाथ पतझड़ नही होता। पत्ते झड़ते रहते हैं और नए आते रहते हैं। पीपल के वृक्ष की इस खूबी के कारण इसे जीवन-मृत्यु चक्र का घोतक बताया गया है।


अशोक मनवानी
Post a Comment

कोरोना के नियंत्रण एवं उपचार में कोई कोर-कसर न रहे
"मैं आपसे स्वास्थ्य आग्रह कर रहा हूँ, क्योंकि कोरोना संकट विकट है"
कोरोना वालेंटियर्स को जारी होंगे परिचय पत्र : मुख्यमंत्री श्री चौहान
कोरोना अनुकूल आचरण बनाने में मीडिया मदद करे- मुख्यमंत्री श्री चौहान
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने की संभागों और जिलों में प्रमुख व्यक्तियों से चर्चा
कोरोना संक्रमण को थामने के लिए हर संभव व्यवस्थाएँ होगी- मुख्यमंत्री श्री चौहान
मुख्यमंत्री श्री चौहान के जन-जागरूकता अभियान को विभिन्न संगठन ने दिया समर्थन
कोरोना संक्रमण रोकने के लिए जन-जागृति आवश्यक - मुख्यमंत्री श्री चौहान
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने पीपल का पौधा लगाया
बीजेपी के स्थापना दिवस पर राज्य मंत्री श्री यादव ने किया पौधारोपण
जबलपुर संभाग में 959 करोड़ रूपये की जलसंरचनाओं के कार्य जारी
कक्षा 9वी से 12वीं तक की वार्षिक एवं प्री-बोर्ड परीक्षाओं संबंधी निर्देश जारी
राज्यमंत्री श्री परमार ने किया शिक्षकों को सम्मानित
नरेगा से देश में पहली बार निर्मित हो रहे हैं अनाज भण्डारण के लिए पक्के चबूतरे
एकलव्य मॉडल आवासीय विद्यालय शिक्षण कर्मचारी चयन परीक्षा
प्रदेश में महिलाओं के सशक्तिकरण के लिये बनाये जा रहे हैं स्व-सहायता समूह
धान मीलिंग के लिये गठित मंत्रि-मंडलीय उप समिति की बैठक संपन्न
मंत्री श्री सिलावट कोरोना बचाव के लिए शिक्षाविदों-प्रबुद्धजनों के साथ लेंगे बैठक
नोवल कोरोना वायरस (COVID-19) मीडिया बुलेटिन
होम आइसोलेशन व्यवस्था हुई और अधिक सुदृढ़
1