आज के समाचार

पिछला पृष्ठ
.

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने दमोह में प्रबुद्धजनों से चर्चा की

दमोह जिला किसी भी क्षेत्र में पीछे नहीं रहेगा 

भोपाल : शनिवार, फरवरी 27, 2021, 17:39 IST

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान दमोह जिले के प्रवास के दौरान प्रबुद्धजनों से मिले और दमोह जिले के विकास को लेकर चर्चा की। चर्चा में प्रबुद्धजनों ने दमोह के विकास के बारे में अपने सुझाव रखे। मुख्यमंत्री श्री चौहान आश्वस्त किया कि दमोह जिला विकास के किसी भी क्षेत्र में पीछे नहीं रहेगा और पैसे की कमी नहीं आने दी जायेगी। उन्होने बताया कि यहां मीथेन गैस भण्डार मिलने से क्षेत्र की तस्वीर बदल जायेगी। बुंदेलखंड में पर्यटन की अच्छी संभावना है। इसका विकास एवं पर्यटन के लिये पूरा उपयोग किया जायेगा।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने कोरोनाकाल की आपदा को अवसर में बदला है। उन्होंने आत्म-निर्भर भारत बनाने की बात कही है। आत्म-निर्भर भारत के लिए आत्म-निर्भर मध्यप्रदेश बनाया जायेगा। इसका रोडमेप तैयार कर लिया गया है और संकल्प के साथ इस दिशा कार्य प्रारंभ हो गया है। भौतिक अधोसंचरनाएँ अच्छी सड़क, सिंचाई व्यवस्था, पेयजल, शिक्षा, अर्थव्यवस्था और रोजगार के लिए प्रतिद्धधता से कार्य किया जा रहा है।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि दमोह में आज मेडिकल कॉलेज की आधारशिला रखी जा रही है। दमोह की भूमि से प्रदेश के 20 लाख किसानों के खातों में 400 करोड़ रूपये अंतरित किये जा रहे है। प्रदेश में कोरोना काल में विभिन्न योजनाओं के अंतर्गत एक लाख 18 हजार करोड़ रूपये की राशि जनता के खातों में डाली गई। ग्रामीण क्षेत्रों में शिक्षा की गुणवत्ता की सुधार के लिए 20-25 किलोमीटर के दायरे में सी.एम. राईज स्कूल खोले जायेंगे। तीन साल में दमोह जिले के प्रत्येक गाँव और घर में नल से शुद्ध जल मिलने लगेगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि केन और बेतवा नदी बुन्देलखण्ड की जीवन रेखा है। केन और बेतवा नदी पर बांध बनाने में आ रहे अवरोधों को दूर कर लिया गया है। नदियों को जोड़कर बाँध बनाया जायेगा और बुन्देलखण्ड की भूमि को सिंचित किया जायेगा। इसमें दमोह जिले की अधिकांश कृषि भूमि सिंचित होगी। उन्होंने कहा कि चर्चा में रेल्वे के संबंध में सुझाव प्राप्त हुआ है, प्रदेश सरकार इसे प्रभावी ठंग से रखेगी। उन्होंने कुर्मी समाज के भवन के लिये जमीन देने और सिन्धी समाज के लोगों को स्थाई पट्टे देने की बात भी कही।

कार्यक्रम को केन्द्रीय संस्कृति एवं पर्यटन राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्री प्रहलाद पटेल ने भी संबोधित किया। उन्होंने कहा कि उनके संसदीय क्षेत्र में तीन जिले दमोह, सागर और छतरपुर आते हैं। तीनों जिलों में मेडीकल कॉलेज की सुविधा होगी। दमोह ऐसा संसदीय क्षेत्र है जिसके प्रत्येक जिले में मेडीकल कॉलेज होगा।

इस अवसर पर नगरीय विकास मंत्री श्री भूपेन्द्र सिंह, लोक निर्माण मंत्री श्री गोपाल भार्गव, खजुराहो सांसद श्री वी.डी. शर्मा, पूर्वमंत्री श्री जयंत मलैया, श्री रामकृष्ण कुसमरिया, मध्यप्रदेश वेयरहाउसिंग एवं लॉजिस्टिक्स कॉरपोरेशन अध्यक्ष श्री राहुल सिंह सहित स्थानीय विधायक, समाजसेवी, चिकित्सक, साहित्यकार, इंजीनियर, एडवोकेट, सामाजिक कार्यकर्ता और विभिन्न समाजों के अध्यक्ष और वरिष्ठ नागरिक मौजूद रहे।


यशवंत बरारे
Post a Comment

कोरोना संक्रमण नियंत्रण में विश्वविद्यालय सहयोग करें : श्रीमती पटेल
कोरोना नियंत्रण के लिए हो रही दिन रात समीक्षा
लक्षित समूह का हो शत-प्रतिशत टीकाकरण
प्रदेश व्यापी लॉकडाउन नहीं लगाया जाएगा
कोरोना संक्रमण रोकने में जनता कर्फ्यू अत्यंत कारगर- राज्यपाल श्रीमती पटेल
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कदम्ब का पौधा रोपा
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने महात्मा ज्योतिबा फुले की जयंती पर नमन किया
कर्मचारियों की 25 प्रतिशत उपस्थिति के साथ लगेंगे कार्यालय
मंत्री श्री पटेल ने किया उपार्जन केंद्रों का निरीक्षण
बेहतर शिक्षा के लिए हर संभव मदद करेंगे : मंत्री श्री पटेल
45 वर्ष से अधिक आयु के सभी लोग टीका अवश्य लगवाएँ - कृषि मंत्री श्री पटेल
प्रदेश में 291 किलोमीटर राष्ट्रीय राजमार्गों के लिए भारत सरकार द्वारा 726 करोड़ रुपए स्वीकृत
विज्ञान और गणित विषय पर कार्यक्रम का ऑनलाइन प्रसारण
नोवल कोरोना वायरस (COVID-19) मीडिया बुलेटिन
स्वास्थ्य मंत्री डॉ. चौधरी के आग्रह पर डॉ. श्रीवास्तव ने इस्तीफा वापस लिया
रेमडेसिविर और ऑक्सीजन की माँग अनुसार व्यवस्था
चिकित्सा शिक्षा मंत्री श्री सारंग ने देखी हमीदिया अस्पताल की व्यवस्था
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने वरिष्ठ फोटोग्राफर श्री गयूर खान के निधन पर शोक व्यक्त किया
1