आज के समाचार

पिछला पृष्ठ
.

पर्यटन मंत्री सुश्री ठाकुर ने संवाद-सत्र में भागीदारी की

केरल के रिसॉर्ट मालिकों तथा पर्यटन से जुड़ी नामचीन हस्तियों से किया संवाद  

भोपाल : रविवार, जनवरी 17, 2021, 19:58 IST

अपने केरल प्रवास के दौरान पर्यटन मंत्री सुश्री उषा ठाकुर ने कोट्टायम, कुमारकम्, असवायकम के रिसॉर्ट मालिकों, चेम्बर ऑफ होटल एसोसिएशन, होम स्टे ओनर, होम स्टे फेडरेशन के अध्यक्ष, डीटीपीसी के सचिव, ताज होटल के महाप्रबंधक कुमार अनुभव, नॉट ऑन मैप के संस्थापक के साथ चर्चा में मध्यप्रदेश में पर्यटन को बढ़ावा देने के सिलसिले में विस्तृत विचार-विमर्श किया।

कार्यक्रम में अपने उद्बोधन में मंत्री सुश्री ठाकुर ने कहा कि आज का दिन बेहद महत्वपूर्ण है जब हम केरल के प्रतिष्ठित पर्यटन व्यवसाय से जुड़े लोगों से रू-ब-रू होकर पर्यटन को बढ़ावा देने के गुर सीख रहे हैं। उन्होंने कहा कि केरल से हमारा अनुबंध मध्यप्रदेश पर्यटन को नई ऊँचाई देगा और प्रदेश में पर्यटन के विकास के मार्ग में मील का पत्थर साबित होगा। सुश्री ठाकुर ने कहा कि केरल का जीवन धार्मिक, सांस्कृतिक और मौलिक है, इसीलिये हमारे यहाँ के ऋषि परशुराम ने अपनी कर्मभूमि यहीं बनाई थी। यह आदि शंकराचार्य की जन्म-भूमि है और इस पावन भूमि को मैं नमन करती हूँ।

इस दौरान पर्यटन इण्डस्ट्री एवं रिस्पांसिबिल टूरिज्म मिशन के स्टेट को-ऑर्डिनेटर श्री रूपेश कुमार ने मध्यप्रदेश की पर्यटन मंत्री की केरल विजिट और रिस्पांसिबिल टूरिज्म मिशन के अनुबंध के बारे में विस्तार से जानकारी दी।

संवाद-सत्र में चैम्बर ऑफ रिसॉर्ट्स के अध्यक्ष एवं लेक सांग के महाप्रबंधक श्री संजय वर्मा ने भी रिस्पांसिबिल टूरिज्म मिशन के विभिन्न आयामों पर प्रकाश डाला। उन्होंने कहा कि टूरिज्म मिशन में काम करने से स्थानीय समुदाय और निवासियों ने पर्यटन उद्योग को स्वीकार किया और वे इस उद्योग में सहभागी बने हैं। स्थानीय लोगों को रोजगार मिलने और उनके उत्पाद क्रय करने के कारण स्थानीय लोग आत्मनिर्भर हुए और 'लोकल फॉर वोकल'' सार्थक हुआ।

डीटीपीसी सचिव इन्दु नायर ने कहा कि रिस्पांसिबिल टूरिज्म मिशन के आने से समुदाय एवं महिलाओं का सशक्तिकरण हुआ है। ताज ग्रुप के महाप्रबंधक श्री आशीर्वाद ने कहा कि वे स्थानीय पर्यटन और ग्रामीण पर्यटन में रुचि रखते हैं और पुरानी सम्पत्तियों का नवीनीकरण करते हैं। श्री आशीर्वाद ने कहा कि मध्यप्रदेश में पर्यटन की अपार संभावनाओं के मद्देनजर हम पर्यटन विभाग के साथ होमस्टे एवं ग्रामीण पर्यटन प्रारंभ करना चाहते हैं। अपर प्रबंध संचालक ने मध्यप्रदेश में पर्यटन की अपार संभावनाओं को रेखांकित किया।

डीटीपीसी के सचिव श्री इन्दु नायर ने कहा कि वर्ष 1986 में डीटीपीसी की स्थापना हुई है। रिस्पांसिबिल टूरिज्म मिशन के आने से समुदाय, विशेषकर महिलाओं का सशक्तिकरण हुआ है। इस मौके पर श्री सलिल दास ने भी अपने विचार व्यक्त किये।


नीरज शर्मा
Post a Comment

किसानों की मेहनत मध्यप्रदेश को फिर बनाएगी सिरमौर : मुख्यमंत्री श्री चौहान
देश के प्रथम राष्ट्रपति डॉ. राजेन्द्र प्रसाद को मुख्यमंत्री श्री चौहान ने दी श्रद्धांजलि
मुख्यमंत्री श्री चौहान द्वारा राष्ट्रीय विज्ञान दिवस की बधाई
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने पश्चिम बंगाल के जगतवल्लभपुर में बाँस का पौधा लगाया
किसानों को उन्नत तकनीकी के साथ औषधीय खेती के लिए प्रोत्साहित करें : मंत्री डॉ. मिश्रा
समाज के अंतिम पंक्ति के व्यक्ति का विकास सबसे पहले हो : डॉ. मिश्र
कृषि मंत्री श्री पटेल द्वारा आत्मा कार्यालय भवन उर्वरक गुण नियंत्रण प्रयोगशाला का लोकार्पण
किसान और खेती देश की मजबूत अर्थव्यवस्था के हैं आधार : मंत्री श्री पटेल
राज्य मंत्री श्री यादव ने जिला जेल का किया औचक निरीक्षण
नगरीय विकास मंत्री श्री भूपेंद्र सिंह द्वारा वीरांगना झलकारी बाई ट्रैफिक पार्क का लोकार्पण
अग्नि-सुरक्षा संबंधी प्रावधानों का करें सख्ती से पालन - नगरीय विकास मंत्री श्री सिंह
त्याग और संतोष से बनेंगे स्थितप्रज्ञ - स्वामी तद्रूपानंद
नोवल कोरोना वायरस (COVID-19) मीडिया बुलेटिन
एक वर्ष में 12 हजार से अधिक महिलाओं को मिली "181" से सहायता
सतना जिले के अमरपाटन में सिविल अस्पताल भवन का होगा विस्तार
मौका मिला तो बतियाऐ शकील शाह प्रदेश के मुख्यमंत्री से
तय समय से पहले पूरी हुई बरही जल-प्रदाय परियोजना
1