आज के समाचार

पिछला पृष्ठ
.

चिटफंड कंपनियों के खिलाफ प्रशासन का बड़ा अभियान जारी

कलेक्टर होशंगाबाद ने चिटफंड कंपनी एसएलडीआई इन्फ्राकान लिमिटेड  की संपत्तियों की कुर्की के दिए आदेश
कंपनी से 12 लाख 87 हजार 720 रुपए की होगी वसूली
 

भोपाल : शुक्रवार, जनवरी 15, 2021, 18:50 IST

राज्य शासन के निर्देशानुसार होशंगाबाद जिले में भू-माफिया, राशन माफिया, चिटफंड कंपनियों एवं अन्य चिन्हित अपराधों के खिलाफ लगातार कठोर कार्यवाही की जा रही है। इसी क्रम में कलेक्टर श्री धनजंय सिंह द्वारा वित्तीय लेन-देन में गड़बड़ी करने वाली चिटफंड कंपनी एसएलडीआई इन्फ्राकान लिमिटेड  के विरूद्ध बड़ी कार्यवाही की गई है। न्यायालय कलेक्टर होशंगाबाद ने जिले के इटारसी शहर में संचालित उक्त चिटफंड कंपनी की विभिन्न जिलों एवं प्रदेश में स्थित संपत्तियों की कुर्की करने तथा कंपनी के 6 संचालकों के विरुद्ध आपराधिक प्रकरण (एफआईआर) दर्ज करने के आदेश पारित किए हैं। न्यायालय कलेक्टर होशंगाबाद द्वारा मध्यप्रदेश में निक्षेपकों के हितों का संरक्षण अधिनियम 2000 के तहत चिटफंड कंपनी के विरूद्ध कार्रवाई की गई है।

चिटफंड कंपनी एसएलडीआई इन्फ्राकान लिमिटेड की विभिन्न जिलों एवं प्रदेशों में स्थित संपत्तियों की कुर्की के पश्चात नीलामी से प्राप्त होने वाली राशि से होशंगाबाद में कंपनी की तीन पॉलिसियों का आकलन एवं सत्यापन के अनुसार 12 लाख 87 हजार 720  मय ब्याज 12 प्रतिशत से वसूली की जाएगी।

पूरे  प्रकरण में होशंगाबाद जिले के इटारसी शहर के मालवीय गंज निवासी श्रीमती आशारानी श्रीवास्तव एवं राजकुमार श्रीवास्तव द्वारा एसएलडीआई इन्फ्राकान लिमिटेड कंपनी, पंजीकृत कार्यालय खमपुर मैन पटेल रोड नई दिल्ली  एवं कंपनी के 6 संचालकों श्री अनिल कुमार जैन, दिलीपकुमार जैन, मंगला प्रसाद विश्वकर्मा, गिरिराज सिंह सोलंकी, प्रदीपकुमार सिंह, अनुज सिंह सेंगर के विरुद्ध उनकी जमाराशि नियत समय में वापस नहीं करने की शिकायत की गई थी। न्यायालय कलेक्टर द्वारा समस्त पक्षों की सुनवाई उपरांत कंपनी के विरुद्ध कड़ी  कार्रवाई की गई है।

 न्यायालय कलेक्टर द्वारा एसएलडीआई इन्फ्राकान लिमिटेड कंपनी से ब्याज सहित वसूली के साथ ही निक्षेपकों के हितों का संरक्षण अधिनियम के तहत प्रत्येक अनावेदक  कंपनी पर 1 -1 हजार रुपए का जुर्माना करने तथा प्रत्येक डायरेक्टर को तीन-तीन माह की सजा एवं पूर्व तथा वर्तमान डायरेक्टर के विरुद्ध अपराधिक प्रकरण दर्ज करने के आदेश दिए हैं।  उल्लेखनीय है कि जिला प्रशासन द्वारा जिले में आमजनों से वित्तीय लेनदेन में गड़बड़ी करने वाली चिटफंड कंपनियों के विरुद्ध  लगातार प्रभावी कार्रवाई की जा रही है। जिले में पूर्व में भी 6 चिटफंड कंपनी संचालकों के विरुद्ध एफआईआर दर्ज कराई गई थी।


राजेश पाण्डेय/रोमित उइके
Post a Comment

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान की केन्द्रीय रेल मंत्री श्री पीयूष गोयल और कृषि मंत्री श्री नरेन्द्र सिंह तोमर से मुलाकात
मुख्यमंत्री श्री चौहान सिंगरौली से करेंगे प्रदेश में कोरोना वैक्सीन टीकाकरण का शुभारंभ
मध्यप्रदेश केन्द्र सरकार की योजनाओं में बेहतर प्रदर्शन करने वाला राज्य
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने थल सेना दिवस पर जांबाज सैनिकों को नमन किया
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने प्रदान की सहयोग राशि
जनता को अधिकतम लाभ दिलायें, समय पर कार्य पूर्ण करें - डॉ. मिश्रा
देश की एकता एवं अखण्डता अक्षुण्ण बनाये रखने बाबा साहेब ने किया संविधान निर्माण
तकनीकी शोध और अमल से लाई जा सकती है सड़क दुर्घटनाओं में कमी - श्री बोरासो
रहटगाँव की पोल्ट्री में बर्डफ्लू वायरस मिला
रेस्क्यू कर लाया गया एक घायल नर बाघ
नगरीय प्रशासन द्वारा निकायों के बकाया बिजली बिल के लिए 50 करोड़ का भुगतान
राष्ट्रीय जल जीवन मिशन के क्रियान्वयन में प्रदेश अग्रणी तीन राज्यों में
12 नगरीय निकायों को फायर ब्रिगेड लेने 2 करोड़ 25 लाख स्वीकृत
स्वच्छ प्राकृतिक ईंधन के उपयोग से होगा पर्यावरण स्वच्छ- खाद्य मंत्री श्री सिंह
नोवल कोरोना वायरस (COVID-19) मीडिया बुलेटिन
स्वास्थ्य मंत्री डॉ. चौधरी ने कोविड-19 वैक्सीनेशन सेशन साइट्स का जायजा लिया
कोविड वैक्सीनेशन : 16 जनवरी से होगी शुरूआत
राज्य में किसानों के लिए 500 करोड़ के फूड प्रोसेसिंग प्लांट्स लगाए जाएँगे
आयुष राज्य मंत्री श्री कावरे ने दो जिला आयुष कार्यालय भवन का किया लोकार्पण
मंत्री श्री ओमप्रकाश सखलेचा का दो दिवसीय दौरा कार्यक्रम
पर्यावरण मंत्री श्री हरदीप सिंह डंग का दौरा कार्यक्रम
चिटफंड कंपनियों के खिलाफ प्रशासन का बड़ा अभियान जारी
विशेष जाँच दल गठित
एनसीसी केडेट्स के लिये आज का दिन गौरवशाली
पशुपालन मंत्री श्री पटेल ने 9 गाँवों में 9 करोड़ की नल-जल योजनाओं का किया भूमि-पूजन
1