आज के समाचार

पिछला पृष्ठ
.

डाटाबेस आधारित रणनीति तैयार करें : डॉ. मित्तल

न्यूनतम संसाधनों में अधिकतम परिणाम दें : एडीजी श्री सागर 

भोपाल : गुरूवार, जनवरी 14, 2021, 19:52 IST

सड़क दुर्घटनाओं के आंकड़ों का डाटाबेस तैयार कर रणीनीति बनायें। यह बात पीटीआरआई द्वारा आयोजित 6 दिवसीय ऑनलाइन वर्कशाप को संबोधित करते हुए डॉ. श्रीमती निशी मित्तल सदस्य माननीय सुप्रीम कोर्ट कमेटी ऑन रोड सेफ्टी ने कही। वर्कशाप के द्वितीय सत्र में अपने संबोधन में पीटीआरआई के अतिरिक्त महानिदेशक श्री डी.सी. सागर ने कहा कि सभी नोडल एजेंसियों को मौजूद संसाधनों का समुचित उपयोग कर अधिकतम परिणाम देना चाहिए।

ऑनलाइन वर्कशाप के प्रथम को सत्र को संबोधित करते हुए डॉ. निशी मित्तल ने कहा कि जहाँ सड़क दुर्घटनाएँ अधिक होती हैं उन क्षेत्रों में अधिक निगरानी की जाये। उन्होंने मोटर व्हीकल एक्ट के अंतर्गत पुख्ता कार्यवाही की आवश्यकता जताई। डॉ. मित्तल ने कहा कि जहाँ तेज गति से वाहन चलते है वहाँ स्पीड रडारगन एवं अन्य यंत्रों से सड़क दुर्घटनाओं को रोकने के प्रयास किये जाने चाहिए। उन्होंने यातायात नियमों से लोगों में जन-जागृति लाने पर बल दिया। खराब सड़कों के सुधार के लिये सड़क निर्माण एजेंसियों को दुर्घटनाओं के आंकड़े देखकर सुधारात्मक कार्य करने को भी कहा।

ऑनलाइन वर्कशाप के द्वितीय सत्र को संबोधित करते हुए एडीजी श्री सागर ने पुलिस को यातायात के नियमों जैसे ओवर स्पीडिंग, ओवरलोडिंग, शराब पीकर वाहन चालन, बिना लायसेंस, बिना हेलमेट एवं बिना सीटबेल्ट धारण किए एवं मोबाइल फोन का उपयोग करते हुए वाहन चालन इत्यादि के उल्लंघन पर सख्त कार्यवाही करने को कहा। उन्होंने कहा कि यद्धपि प्रदेश में सड़क दुर्घटनाओं के तथ्यों को दृष्टिगत रखते हुए नोडल एजेंसियों के पास संसाधनों की कमी है तथापि न्यूनतम संसाधनों में सभी को मिलकर अधिकतम बेहतर परिणाम देना है, जिससे कि दुर्घटनाओं में कमी लाई जा सके और दुर्घटना पीड़ितों के प्राणों की रक्षा की जा सके। श्री सागर ने सड़क दुर्घटनाओं को रोकने के लिए अपनाये जाने वाले उपायों को सरल एवं सुबोध तरीके से पुलिस एवं अन्य सड़क सुरक्षा से संबंधित नोडल एजेंसियों को बहुत ही रोचक एवं रोमांचक तरीके से समझाया।


अलूने
Post a Comment

घर-घर जाकर होगी कोरोना मरीजों की पहचान: स्वास्थ्य मंत्री डॉ. चौधरी
ऑक्सीजन टैंकरों के निर्बाध परिवहन की सभी स्तरों से हो मॉनीटरिंग
प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने कोविड-19 पर मुख्यमंत्रियों से किया संवाद
कोरोना के विरूद्ध युद्ध में मुख्यमंत्री से लेकर पंच तक एक हों - मुख्यमंत्री श्री चौहान
कोरोना से बचाव में प्रभावी है योग - मुख्यमंत्री श्री चौहान
प्रतिदिन 50 हजार से अधिक हो रहे टेस्ट, पॉजिटिविटी दर लगातार हो रही कम
रेमडेसिविर और ऑक्सीजन की आपूर्ति निर्बाध रूप से जारी: मुख्यमंत्री श्री चौहान
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने हरसिंगार का पौधा रोपा
रेमडेसिविर की कालाबाजारी करने वालों पर लगायें रासुका - गृह मंत्री डॉ. मिश्रा
परिवहन मंत्री श्री राजपूत ने राहतगढ़ में किया कोविड सेंटर का शुभारंभ
मीटर रीडर एवं बिल वितरक को सहयोग की अपील
समुचित इलाज के साथ जन-जागरूकता जरूरी है - राज्य मंत्री श्री यादव
मंत्री सुश्री ठाकुर ने किया श्री सुनील मिश्र के निधन पर शोक व्यक्त
कोरोना संक्रमण की चेन तोड़ना हमारी प्राथमिकता - मंत्री सुश्री उषा ठाकुर
नोवल कोरोना वायरस (COVID-19) मीडिया बुलेटिन
ऑक्सीजन की सतत आपूर्ति के लिए मध्यप्रदेश कर रहा है युद्ध स्तर पर प्रयास
स्वास्थ्य मंत्री डॉ. प्रभुराम चौधरी ने पीपीई किट पहनकर कोरोना मरीजों का हालचाल जाना
राष्ट्रीय वर्चुअल मीटिंग में मलेरिया उन्मूलन के लिए प्रतिबद्धता व्यक्त की
प्रदेश में कोरोना पॉजिटिविटी रेट में हो रही है कमी - मंत्री श्री सारंग
मंत्री श्री पटेल ने बड़वानी अस्पताल को सौपे 100 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर और 5 वेंटिलेटर
1