आज के समाचार

पिछला पृष्ठ
.

मुख्यमंत्री मदद योजना के नियमों में संशोधन

विभाग ने जारी किये आदेश 

भोपाल : बुधवार, जनवरी 6, 2021, 19:50 IST

आदिम-जाति कल्याण विभाग ने मुख्यमंत्री मदद योजना के नियमों की कुछ कण्डिकाओं में संशोधन किये हैं। इस संबंध में विभाग ने आदेश भी जारी किये हैं।

संशोधन के अनुसार ग्राम पंचायत द्वारा क्रय की गई सामग्री को अब ग्राम पंचायत सचिव प्राप्त कर स्टॉक पंजी में संधारित किया जायेगा। ग्राम पंचायत द्वारा ग्राम में अनुसूचित-जनजाति के परिवार में सामाजिक संस्कारों के कार्यक्रम के लिये उक्त सामग्री संबंधित परिवार को नि:शुल्क उपयोग के लिये उपलब्ध कराई जायेगी। किये गये संशोधन के अनुसार ग्राम पंचायत सचिव द्वारा सामग्री प्रदाय किये जाने की जानकारी संधारित करने के लिये एक पंजी तैयार की जायेगी। उक्त पंजी में समय-समय पर जिस परिवार को उपयोग के लिये सामग्री दी जायेगी, उसका विवरण पंजी में लिखा जायेगा।

मध्यप्रदेश के विभिन्न जन-जातीय समुदाय में जन्म, मृत्यु आदि संस्कारों पर उत्सव करने की परम्परा रही है। इन अवसरों पर सामाजिक भोज का आयोजन परम्परागत रूप से किया जाता रहा है। ऐसे अवसरों पर निर्धनता के कारण कई जन-जातीय परिवार भोज आदि की व्यवस्था में कठिनाई का सामना करते हैं। कई मौकों पर उन्हें ऋणग्रस्तता का सामना करना पड़ता है। जन-जातीय परिवारों को इस समस्या से मुक्त करने के लिये राज्य सरकार ने प्रदेश के 89 जन-जातीय विकासखण्डों में मदद योजना संचालित की है। योजना के अंतर्गत बच्चे का जन्म होने पर उत्सव के लिये 50 किलो अनाज (गेहूँ अथवा चावल) और मृत्यु होने पर भोज के लिये एक क्विंटल अनाज संबंधित परिवार को निर्धारित दर पर उचित मूल्य की दुकान से उपलब्ध कराया जा रहा है।

योजना में सामूहिक भोज के अवसर पर खाना पकाने के लिये बर्तन आदि व्यवस्था के लिये प्रत्येक ग्राम पंचायत के माध्यम से संबंधित ग्राम को 25 हजार रुपये के बर्तन उपलब्ध करवाये गये हैं।


मुकेश मोदी
Post a Comment

कोरोना संक्रमण चेन को तोड़ने में सहयोग करें जन-प्रतिनिधि: मुख्यमंत्री श्री चौहान
अस्पतालों में ऑक्सीजन के उपयोग और आपूर्ति की निगरानी करेंगे नोडल अधिकारी - मुख्यमंत्री श्री चौहान
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने निवास में आंवले का पौधा रोपा
रेमडेसिविर की कालाबाजारी करने वालों पर रासुका लगायें : मुख्यमंत्री श्री चौहान
मुख्यमंत्री श्री चौहान को मंत्री श्री देवड़ा ने प्रभार के जिलों की स्वास्थ्य सुविधाओं से कराया अवगत
कोविड पीड़ित बिजली कर्मियों को 3 लाख तक चिकित्सा एडवांस की सुविधा
उर्जा मंत्री श्री तोमर ने हाथ जोड़ कर शहर के प्रायवेट अस्पताल संचालकों से मांगा सहयोग
प्रदेश में ऑक्सीजन की कमी नहीं होने दी जायेगी - सहकारिता मंत्री डॉ. भदौरिया
चक्क आगासौद बीना रिफायनरी में 5 मई से शुरू होगा 1000 बिस्तर का अस्थाई अस्पताल
ग्राहक स्वयं को मजबूर नहीं मजबूत समझें - तरूण पिथौड़े
नोवल कोरोना वायरस (COVID-19) मीडिया बुलेटिन
12,572 ग्राम पंचायतों ने स्व-प्रेरणा से लिया जनता कर्फ्यू लगाने का संकल्प
कोरोना योद्धा सेल : बुरहानपुर जिले में नवाचार
सागर ग्रुप के रातीबड़ कैम्पस में 500 बेड का कोविड केयर सेंटर शुरू
जन-सहयोग से इंदौर में निर्मित हुआ प्रदेश का सबसे बड़ा कोविड केयर सेंटर
महिला सुरक्षा के प्रति जागरूकता के लिए रेडियो कार्यक्रम
"योग से निरोग कार्यक्रम होगा शुरू : मुख्यमंत्री करेंगे शुभारंभ
भोपाल में कोविड केयर सेंटर और बिस्तरों में होगी वृद्धि
आयुष मंत्री श्री कावरे ने गोंगलई कोविड-केयर सेंटर का किया निरीक्षण
पृथ्वी दिवस- पर्यावरण मंत्री श्री डंग की अधिक से अधिक पेड़ लगाने की अपील
कोविड संक्रमण की चेन तोड़ने मंत्रीगण को दी गयी कार्यों की जिम्मेदारी
श्री ओ.पी. रावत को लगा कोरोना वैक्सीन का दूसरा डोज
टीकाकरण के विरुद्ध भ्रामक प्रचार करने वालों पर होगी कार्रवाई - पशुपालन मंत्री श्री पटेल
1