आज के समाचार

पिछला पृष्ठ
.

कोविड काल में अच्छे कार्य के लिए हुई मध्यप्रदेश पुलिस की सराहना

प्रदेश की पुलिस कार्य प्रणाली को सर्वश्रेष्ठ बनाएं
प्रधानमंत्री श्री मोदी की डी.जी.-आई.जी. कान्फ्रेंस के संदर्भ में मुख्यमंत्री श्री चौहान ने की समीक्षा
 

भोपाल : मंगलवार, दिसम्बर 22, 2020, 21:32 IST

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि कोविड काल में मध्यप्रदेश की पुलिस द्वारा किए गए कार्य की राष्ट्र स्तर पर प्रशंसा हुई है। इसके लिए हमारा पुलिस महकमा बधाई का पात्र है। हमें प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी द्वारा दिए गए दिशा-निर्देशों के अनुरूप मध्यप्रदेश की पुलिस कार्यप्रणाली को देश में सर्वश्रेष्ठ बनाना है।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने आज निवास पर प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी द्वारा गत दिनों ली गई देश के समस्त डी.जी. एवं आई.जी. कॉन्फ्रेंस के संदर्भ में बैठक ली। बैठक में मुख्य सचिव श्री इकबाल सिंह बैंस, डीजीपी श्री विवेक जौहरी, एडीजी श्री मकरंद देउस्कर आदि उपस्थित थे।

'क्राइम एनालिसिस' एवं 'हॉट स्पॉट' को छांटने में आई.टी. का प्रयोग

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने निर्देश दिए कि अपराधों की प्रभावी रोकथाम के लिए 'क्राइम एनालिसिस' और अपराधों के 'हॉट स्पॉट' छांटने में आई.टी. का पूरा उपयोग किया जाना चाहिए। सी.सी.टी.वी. नैटवर्क को और उन्नत किया जाए। पी.एच.क्यू. में चीफ टैक्निकल ऑफीसर भी नियुक्त किया जाए।

महिला एवं बच्चों के विरूद्ध अपराधों पर प्रभावी कार्रवाई

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने निर्देश दिए कि महिला एवं बच्चों के विरूद्ध अपराध के मामलों में प्रभावी कार्यवाही की जाना चाहिए। इसके लिए सभी जिलों में जागरूकता अभियान चलाया जाएगा। बाल एवं किशोर न्यायालयों को 'चाइल्ड फ्रेंडली' बनाया जाए।

नक्सली क्षेत्रों में 'कम्यूनिटी रेडियो'

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि नक्सलवाद को रोकने के लिए सभी प्रयास किए जाने चाहिए। आंध्रप्रदेश, उड़ीसा तथा छत्तीसगढ़ राज्यों की तरह मध्यप्रदेश की नक्सली आत्मसमर्पण योजना को बेहतर बनाएं। नक्सली क्षेत्रों में 'कम्यूनिटी रेडियो' प्रारंभ करें, जो वहीं की भाषा में लोगों को जानकारी दे।

मिशन मोड में हो भगोड़ों के विरूद्ध कार्यवाही

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने निर्देश दिए कि भगोड़ों केविरूद्ध मिशन मोड में कार्रवाई होनी चाहिए, जिससे वे समाज में यहां-वहां न घूम सकें। गंभीर अपराधों (7 वर्ष से ऊपर सजा वाले) में एफ.एस.एल. विजिट अनिवार्य हो। जेलों के सुधार के संबंध में भी कार्य किया जाए। पुलिस अपना 'विजन 2030' तैयार करे। आंध्रप्रदेश की तर्ज पर 'इंटीग्रेटेड क्राइम मैनेजमेंट व्हीकल' तैयार की जा सकती है।

मध्यप्रदेश में खोला जा सकता है 'एन.एफ.एस.यू.' का कैंपस

इस बैठक से पूर्व मुख्यमंत्री श्री चौहान ने 'नेशनल फॉरेंसिक साइंस यूनीवर्सिटी' से संबद्धता संबंधी बैठक में निर्देश दिए कि प्रदेश में अपराधों की रोकथाम के लिए पुलिस की दक्षता, ज्ञान, अत्याधुनिक प्रणाली का उपयोग आदि के लिए इस विश्वविद्यालय की पूरी सेवाएं ली जाएं। प्रदेश में 'नेशनल फॉरेंसिक साइंस यूनिवर्सिटी' का कैंपस खोला जा सकता है। इस संबंध में 01 सप्ताह में जानकारी दी जाए।


पंकज मित्तल 
Post a Comment

आमजन को एक क्लिक पर मिलेगी बेड्स उपलब्धता की जानकारी - मुख्यमंत्री श्री चौहान
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने पीपल का पौधा लगाया
अगले तीन दिन में रेमडेसिविर इंजेक्शन का संकट समाप्त हो जायेगा- मुख्यमंत्री श्री चौहान
कोरोना संक्रमण रोकने के लिए जारी रहे जन-जागरूकता अभियान 
श्री आकाश त्रिपाठी बने आयुक्त स्वास्थ्य
आरक्षक श्रीवास्तव पुलिस महानिदेशक प्रशस्ति-पत्र से सम्मानित
कर्मचारी निष्ठा पूर्वक कर्तव्य निर्वहन करें: मंत्री श्री पटेल
कृषि मंत्री श्री पटेल ने वैक्सीन का दूसरा टीका भी लगवाया
सहकारिता मंत्री 13 और 14 अप्रैल को जबलपुर और छिंदवाड़ा प्रवास पर
गांवो में नल से जल के लिए उज्जैन में हो रहे 300 करोड़ रूपये के कार्य
"मन के हारे-हार, मन के जीते-जीत हम मिलकर करें कोरोना पर प्रहार- मंत्री श्री पटेल
अनुमति प्राप्त ऑक्सीजन वाहन एम्बुलेंस के समकक्ष घोषित
नोवल कोरोना वायरस (COVID-19) मीडिया बुलेटिन टीकाकरण सहित
कोविड नियंत्रण में लगी सामाजिक न्याय विभाग के अधिकारियों/कर्मचारियों की ड्यूटी
महाविद्यालयीन परीक्षाएँ समय-सीमा में कराई जायें - उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. यादव
उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. यादव ने उज्जैन में ऑक्सीजन प्लांट का किया निरीक्षण
बालाघाट-सिवनी का प्रभार मिलते ही एक्शन में आए आयुष मंत्री श्री कावरे
मंत्रीगण करेंगे कोरोना व्यवस्थाओं का अनुश्रवण और पर्यवेक्षण
1