आज के समाचार

पिछला पृष्ठ
.

आधुनिक उपकरणों का समुचित उपयोग और मॉनीटरिंग जरूरी - एडीजी श्री सागर

आधुनिक उपकरणों के उपयोग के लिये ऑनलाइन वर्चुअल कोर्स 

भोपाल : मंगलवार, दिसम्बर 22, 2020, 18:53 IST

पुलिस प्रशिक्षण एवं शोध संस्थान के अतिरिक्त महानिदेशक श्री डी.सी. सागर ने कहा है कि आधुनिक उपकरणों की उपयोगिता तभी है, जब हमारी टीम उसकी प्रॉपर तरीके से मॉनीटरिंग करना सुनिश्चित करें। मॉनीटरिंग के अभाव में दुर्घटनाओं में कमी लाने के लिये ये उपकरण नाकाफी साबित होंगे। श्री सागर ने पुलिस मुख्यालय में सड़क सुरक्षा के लिये आधुनिक उपकरणों के लिये ऑनलाइन वर्चुअल कोर्स में 17 दिसम्बर को इंदौर के पलासिया में हुई दुर्घटना को उद्घृत करते हुए यह बात कही।

एडीजी श्री सागर ने कहा कि सी.सी. टी.व्ही का उपयोग पुलिस विभाग द्वारा किया जा रहा है। यह बहुत उपयोगी भी है। ये और अधिक उपयोगी हो सकते हैं, जब इनकी मॉनीटरिंग भी नियमित और प्रॉपर तरीके से हो। उन्होंने कहा कि इंदौर के पलासिया में हुई दुर्घटना सी.सी. टी.व्ही. में कैद हुई। दो व्यक्ति आपस में लगभग 3 मिनट से अधिक समय तक लड़ते रहे। दोनों को किसी भी व्यक्ति ने रोकने का प्रयास नहीं किया। अंतत: एक व्यक्ति की जान चली गई। यदि सही तरीके से सी.सी. टी.व्ही. की मॉनीटरिंग की जाकर उस पर एक्शन लिया गया होता या कि जन-सामान्य में जागरूकता होती, तो एक व्यक्ति की अमूल्य जान को बचाया जा सकता था। साथ ही भविष्य में मृतक के परिवार को होने वाली प्रताड़ना और परेशानियों से भी बचाया जा सकता था। उन्होंने कोर्स में ऑनलाइन सम्मिलित हुए प्रदेश के समस्त यातायात प्रभारियों और नोडल एजेंसियों से अपेक्षा की कि वे सड़क दुर्घटनाओं में कमी लाने के लिये न केवल अपनी जिम्‍मेदारियों का भली-भांति निर्वहन करना सुनिश्चित करें, अपितु जन-सामान्य को भी जागृत कर 'दूसरे की फटी में टांग न डालना'' की मानसिकता से उबारने का प्रयास करें, जिससे कि असमय प्राण गंवाने वाली जिंदगियों को बचाया जा सके।

ऑनलाइन कोर्स में सी.सी. टी.व्ही., ब्रिथ एनेलाइजर, अल्को मीटर, लेजर स्पीड राडार गन, स्पीड इन्टरसेप्टर आदि के बेहतर उपयोग के बारे में बताया गया। एडीजी श्री सागर ने यातायात के आधुनिक उपकरणों का लोगों की जिंदगियों को बचाने के लिये बेहतर उपयोग करने की अपेक्षा की। उन्होंने कहा कि नियमों के विरुद्ध कार्य करने वालों के खिलाफ मोटर व्हीकल एक्ट-1985 संशोधित 2020 में कार्यवाही करना सुनिश्चित करें। श्री सागर ने नोडल एजेंसियों से सड़क दुर्घटनाओं का क्रेश इन्वेस्टिगेशन करने और भविष्य में दुर्घटनाओं को रोकने के लिये ऐहतियाती कदम उठाने के निर्देश दिये।

शराब पीकर वाहन न चलाने के लिये मुहिम चलायें

एडीजी श्री सागर ने निर्देश दिये कि जिलों में शराब पीकर वाहन चलाने वालों के खिलाफ अभियान चलाना सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि आमजन को जागरूक करने की आवश्यकता है कि शराब पीने से मानसिक, शारीरिक और आर्थिक खामियाजा उठाना पड़ता है। साथ ही सामाजिक तौर पर भी शराब पीने वालों को प्रताड़ित होना पड़ता है। शराब पीकर वाहन चलाने वाले यातायात में न केवल बाधा उत्पन्न करते हैं, बल्कि दुर्घटनाओं का कारण भी बनते हैं। कई मर्तबा शराबी वाहन चालक स्वयं काल के गाल में समा जाते हैं, क्योंकि शराब हमारे नर्वस सिस्टम को शिथिल कर देती है, जिससे वाहन नियंत्रण से बाहर हो जाता है। श्री सागर ने अपेक्षा की कि सभी बेहतर प्रचार-प्रसार पर सड़क दुर्घटनाओं को रोकने में अपनी जिम्मेदारियों का निर्वहन करेंगे।


अलूने
Post a Comment

आमजन को एक क्लिक पर मिलेगी बेड्स उपलब्धता की जानकारी - मुख्यमंत्री श्री चौहान
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने पीपल का पौधा लगाया
अगले तीन दिन में रेमडेसिविर इंजेक्शन का संकट समाप्त हो जायेगा- मुख्यमंत्री श्री चौहान
कोरोना संक्रमण रोकने के लिए जारी रहे जन-जागरूकता अभियान 
श्री आकाश त्रिपाठी बने आयुक्त स्वास्थ्य
आरक्षक श्रीवास्तव पुलिस महानिदेशक प्रशस्ति-पत्र से सम्मानित
कर्मचारी निष्ठा पूर्वक कर्तव्य निर्वहन करें: मंत्री श्री पटेल
कृषि मंत्री श्री पटेल ने वैक्सीन का दूसरा टीका भी लगवाया
सहकारिता मंत्री 13 और 14 अप्रैल को जबलपुर और छिंदवाड़ा प्रवास पर
गांवो में नल से जल के लिए उज्जैन में हो रहे 300 करोड़ रूपये के कार्य
"मन के हारे-हार, मन के जीते-जीत हम मिलकर करें कोरोना पर प्रहार- मंत्री श्री पटेल
अनुमति प्राप्त ऑक्सीजन वाहन एम्बुलेंस के समकक्ष घोषित
नोवल कोरोना वायरस (COVID-19) मीडिया बुलेटिन टीकाकरण सहित
कोविड नियंत्रण में लगी सामाजिक न्याय विभाग के अधिकारियों/कर्मचारियों की ड्यूटी
महाविद्यालयीन परीक्षाएँ समय-सीमा में कराई जायें - उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. यादव
उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. यादव ने उज्जैन में ऑक्सीजन प्लांट का किया निरीक्षण
बालाघाट-सिवनी का प्रभार मिलते ही एक्शन में आए आयुष मंत्री श्री कावरे
मंत्रीगण करेंगे कोरोना व्यवस्थाओं का अनुश्रवण और पर्यवेक्षण
1