आज के समाचार

पिछला पृष्ठ
.

किसान उत्पादक सहकारी संस्थाओं के पंजीयन के लिये कृषकों को प्रोत्साहित करेंगे - मंत्री डॉ. भदौरिया

सहकारिता विभाग द्वारा किसान उत्पादक सहकारी संस्थाओं के गठन हेतु दिशा-निर्देश जारी 

भोपाल : बुधवार, दिसम्बर 16, 2020, 17:14 IST

सहकारिता एवं लोक सेवा प्रबंधन मंत्री डॉ. अरविंद सिंह भदौरिया ने कहा है कि भारत सरकार के कृषि एवं सहकारिता मंत्रालय नई दिल्ली द्वारा किसान उत्पादक सहकारी संस्था (एफपीओ) के राज्य के सहकारिता अधिनियमों में पंजीयन हेतु निर्देश प्रदान कर विस्तृत कार्य योजना जारी की गई है। उन्होंने कहा कि किसान उत्पादक सहकारी संस्था के गठन हेतु मध्यप्रदेश सहकारिता अधिनियम 1960 के सुसंगत प्रावधानों के अनुरूप मॉडल बायलॉज का निर्माण किया गया है तथा सभी संयुक्त आयुक्त, उप आयुक्त व सहायक आयुक्त को निर्देशित किया गया है कि वे मैदानी स्तर पर कृषक संगोष्ठी आयोजित कर कृषकों को किसान उत्पादक सहकारी संस्थाओं के पंजीयन के लिये प्रोत्साहित करें।

मंत्री डॉ. भदौरिया ने कहा कि मध्यप्रदेश एक कृषि प्रधान राज्य है तथा कृषकों के सामाजिक आर्थिक विकास में सहकारिता का महत्वपूर्ण योगदान रहा है। कृषकों को आत्मनिर्भर बनाने व संगठित रूप से कृषि सेवाओं की उपलब्धता, विपणन व नई तकनीकों के अंगीकार करने में सहकारिता में गठित किसान उत्पादक संगठन अपनी सार्थक भूमिका निभा सकते हैं। उन्होंने कहा कि सहकारिता अन्तर्गत मॉडल बायलॉज के अनुसार किसान उत्पादक सहकारी संस्थाओं के गठन हेतु सहकारिता विभाग ने विस्तृत दिशा-निर्देश तैयार किये हैं।

सदस्यों की संख्या कम से कम 21 होगी

आयुक्त सहकारिता एवं पंजीयक सहकारी संस्थाएँ डॉ. एम.के. अग्रवाल ने बताया कि किसान उत्पादक सहकारी संस्थाओं के गठन के लिये मॉडल बायलॉज में सदस्य संख्या, सदस्यों की पात्रता, कार्यक्षेत्र, अंशपूंजी के साथ ही कार्य योजना व अन्य प्रक्रियाएँ निर्धारित की गई हैं। मॉडल वायलॉज के अनुसार किसान उत्पादक सहकारी संस्था का पंजीयन सहकारिता अधिनियम 1960 के प्रावधान अनुसार हो तथा सदस्यों की संख्या कम से कम 21 हो, जो भिन्न-भिन्न परिवारों के हों। यह सदस्य सहकारी संस्था की सदस्यता की पात्रता रखते हों किन्तु भारत सरकार की योजना से लाभ प्राप्ति के लिये न्यूनतम 300 सदस्य की मापदंड की पूर्ति तथा दिशा-निर्देशों का पालन करने पर ही पात्रता आयेगी।

कार्यक्षेत्र चयनित ग्रामों तक सीमित होगा

आयुक्त सहकारिता डॉ. अग्रवाल ने बताया कि किसान उत्पादक सहकारी संस्था का कार्यक्षेत्र प्रारंभिक स्तर पर कुछ चयनित ग्रामों तक सीमित रखा जाए तथा एक समान संस्था के कार्यक्षेत्र में अन्य उत्पादक सहकारी संस्था का पंजीयन न किया जाए किन्तु भारत सरकार की योजना में सम्मिलित होने पर भारत सरकार के निर्देश भी लागू होंगे। किसान उत्पादक सहकारी संस्थाओं के लिये प्रत्येक सदस्य से निर्धारित अंशपूंजी एकत्रित कर सकेंगे। अंश का न्यूनतम मूल्य 100 रूपये तथा प्रवेश शुल्क 10 रूपये होगा किन्तु अंश मूल्य में वृद्धि प्रवर्तक सदस्य आपसी सहमति से कर सकेंगे।

कार्य योजना स्पष्ट, सारगर्भित एवं सर्वे के अनुरूप हों

आयुक्त डॉ. अग्रवाल ने बताया कि प्रत्येक किसान उत्पादक सहकारी संस्था द्वारा प्रारंभिक कार्य योजना बनवाई जायेगी, जिसके उद्देश्य मॉडल बायलॉज के अनुरूप होने चाहिए। इनसे अलग उद्देश्यों को कार्य योजना में उल्लेख न किया जाए। उन्होंने बताया कि यदि भविष्य में इन संस्थाओं को भारत सरकार के निर्देशों के तहत विस्तृत कार्यक्षेत्र एवं कार्य योजना अनुरूप कार्य करना है तो इसके लिये कार्य योजना स्पष्ट, सारगर्भित एवं सर्वे के अनुरूप बनाई जाये। उन्होंने यह भी बताया कि कार्य योजना के निर्माण के लिये कृषि उद्यानिकी, पशुपालन आदि से संबंधित विभागों एवं एफपीओ विशेषज्ञों की सहायता भी ली जा सकती है।

प्रवर्तक सदस्यों के लिये पात्रता

आयुक्त डॉ. अग्रवाल ने बताया कि किसान उत्पादक सहकारी संस्थाओं में जो भी प्रवर्तक सदस्य होंगे वह अधिनियम, उपनियम के तहत पात्रता रखते हों तथा न्यूनतम एक एकड़ कृषि भूमि के भूमिस्वामी हों, जिसके प्रमाण स्वरूप अद्यतन खसरे की प्रति लगानी होगी। परिचय के रूप में आधार कार्ड, स्वयं का फोटोग्राफ आदि निर्धारित प्रपत्र पात्रता हेतु लिये जाएंगे। इक्विटी शेयर का लाभ प्राप्त करने के लिये कुल सदस्यों में 50 प्रतिशत लघु सीमांत कृषक व महिला कृषकों को भी सदस्य बनाना होगा।

पंजीयक द्वारा समय समय पर जारी दिशा-निर्देशों का पालन करना होगा

किसान उत्पादक सहकारी संस्थाओं के पंजीयन के लिये सहकारी अधिनियम/नियम एवं पंजीयक द्वारा समय-समय पर जारी दिशा-निर्देशों का पालन सुनिश्चित करना होगा। इसके अलावा सहकारी संस्थाओं के पंजीयन में उपरोक्त आवश्यकताओं की पूर्ति के साथ ही भारत सरकार द्वारा जारी दिशा-निर्देशों का भी पालन सुनिश्चित करना होगा।


श्रवण कुमार सिंह
Post a Comment

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान की केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री से मुलाकात
मुख्यमंत्री श्री चौहान की केन्द्रीय रक्षा मंत्री श्री राजनाथ सिंह से मुलाकात
मुख्यमंत्री श्री चौहान की केन्द्रीय भूतल परिवहन मंत्री श्री नितिन गड़करी से मुलाकात
मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान की केन्द्रीय गृह मंत्री श्री अमित शाह से मुलाकात
मुख्यमंत्री श्री चौहान, गृह मंत्री के निवास पर मकर संक्रांति कार्यक्रम में शामिल हुए
मुख्यमंत्री श्री चौहान "संबल हितग्राहियों" को 224 करोड़ वितरित करेंगे
मुख्यमंत्री श्री चौहान से मिला संस्कृत भारती मध्यप्रदेश का प्रतिनिधिमंडल
मुख्यमंत्री श्री चौहान की केन्द्रीय वन एवं पर्यावरण मंत्री श्री प्रकाश जावडे़कर से मुलाकात
मंत्रालय में ई-ऑफिस प्रणाली को क्रियान्वित करें - राज्य मंत्री श्री परमार
मंत्री डॉ. मिश्रा के निवास पर संक्रांति मिलन समारोह आयोजित
केन्द्रीय मंत्री श्री प्रधान ने प्राथमिक स्कूल भवन और बॉयो गैस संयंत्र का किया लोकार्पण
पुलिसकर्मियों को मिलेगा साप्ताहिक अवकाश
केन्द्रीय वित्त पोषित योजनाओं में मिलने वाले सहायक अनुदान को बढ़ाया जाये
25 जनवरी से होगी जूनियर राष्ट्रीय एथलेटिक प्रतियोगिता
वन मंत्री ने विंध्य हर्बल्स उत्पादों के ऑनलाइन विक्रय का किया लोकार्पण
ऊर्जा मंत्री श्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने किया सुंदर नगर भानपुर जोन का औचक निरीक्षण
हर घर में जले बल्ब, यही है हमारा लक्ष्य :ऊर्जा मंत्री श्री तोमर
बैतूल के ग्राम बांचा में सौर ऊर्जा से रसोई गैस बनाने का प्रकल्प लोकार्पित
ग्रामीण जल-प्रदाय के लिये भारत सरकार से मिलेंगे अतिरिक्त 26 करोड़
सफाई संरक्षकों का वेतन एक तारीख को देने के निर्देश
सड़क निर्माण में घटिया डामर का उपयोग करने पर होगी एफआईआर - मंत्री श्री भार्गव
14 वीं विज्ञान मंथन यात्रा आरंभ, पांच कक्षाओं के 1051
अनुसूचित-जाति के छात्रावासों में रहने वाले विद्यार्थियों की शिष्यवृत्ति में वृद्धि
खाद्य मंत्री श्री सिंह अनूपपुर, अमरकंटक प्रवास पर जायेंगे
50 करोड़ की राशि से होगा अमरकंटक में माँ नर्मदा तट का सौन्दर्यीकरण मंत्री श्री सिंह
नोवल कोरोना वायरस (COVID-19) मीडिया बुलेटिन
स्वास्थ्य सुविधाओं के विस्तार की जानकारी आम जनता तक पहुँचाएँ
महाविद्यालयों के विकास के लिये दान देने वाले होंगे सम्मानित : उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. यादव
राज्य मंत्री स्वतंत्र प्रभार श्री कुशवाह ने पंडित रामनारायण तिवारी के
आयुष राज्यमंत्री श्री कावरे ने की विभागीय समीक्षा
स्कूलों की छतों पर लगेगा सोलर रूफटॉप
मुख्यमंत्री श्री चौहान द्वारा शोक व्यक्त
बर्ड फ्लू की जद में आये प्रदेश के 32 जिले
निर्माण श्रमिकों के पंजीयन का अभियान 31 मार्च तक
1