आज के समाचार

पिछला पृष्ठ
.

कृषि के क्षेत्र में मध्यप्रदेश देश का "मोस्ट इम्प्रूव्ड" राज्य

मुख्यमंत्री श्री चौहान को इंडिया टुडे समूह की ओर से दिया गया अवार्ड
प्रदेश के "सकल मूल्य वर्धित" में कृषि क्षेत्र का 45 प्रतिशत योगदान
 

भोपाल : शुक्रवार, नवम्बर 27, 2020, 18:58 IST

कृषि के क्षेत्र में मध्यप्रदेश गत तीन वर्षों से लगातार भारत का 'मोस्ट इम्प्रूव्ड' राज्य बना हुआ है। राज्य के सकल मूल्य वर्धित में कृषि क्षेत्र का योगदान 45 प्रतिशत है, जबकि निर्माण क्षेत्र का योगदान 20 प्रतिशत है एवं सेवा क्षेत्र का योगदान 35 प्रतिशत है। कृषि मध्यप्रदेश की सबसे प्रमुख आर्थिक गतिविधि है।

मुख्यमंत्री श्री चौहान को गत दिवस 'इंडिया टुडे' पत्रिका समूह के एसोसिएट एडिटर श्री राहुल नरोन्हा द्वारा भोपाल में 'मोस्ट इम्प्रूव्ड' राज्य का अवार्ड प्रदान किया गया। इस अवसर पर संचालक जनसंपर्क श्री आशुतोष प्रताप सिंह उपस्थित थे।

इंडिया टुडे द्वारा करवाए गए मूल्यांकन में 'मोस्ट इम्प्रूव्ड' राज्य की श्रेणी में मध्यप्रदेश 320 में से 258.6 अंक प्राप्त कर भारत का प्रथम राज्य रहा। वहीं पंजाब को 'बैस्ट परफार्मिंग' राज्य की श्रेणी में 271.6 अंक के साथ देश में प्रथम स्थान प्राप्त हुआ है।

कृषि आय में 05 वर्ष में 70 प्रतिशत की वृद्धि

मध्यप्रदेश में कृषि क्षेत्र में गत 5 वर्षों में 70 प्रतिशत की अभूतपूर्व वृद्धि दर्ज की गई है। वर्ष 2014-15 में मध्यप्रदेश का सकल मूल्य वर्धित (जी.वी.ए.) 01 लाख 30 हजार 946 करोड़ रूपए था वहीं वर्ष 2019-20 में यह बढ़कर 02 लाख 21 हजार 86 हो गया है। कृषि क्षेत्र में इतनी अधिक वृद्धि गत तीन वर्षों में देश के किसी राज्य में नहीं हुई।

बासमती धान ने बढ़ाई आय

मध्यप्रदेश के भोपाल, रायसेन, सीहोर, होशंगाबाद, हरदा एवं रायसेन जिलों में खरीफ में बासमती धान की खेती ने किसानों की आय में वृद्धि की है।

सिंचाई एवं बिजली का महत्वपूर्ण योगदान

मध्यप्रदेश में कृषि क्षेत्र में अभूतपूर्व वृद्धि सिंचाई सुविधाओं के निरंतर विकास एवं बिजली की पर्याप्त आपूर्ति के चलते संभव हुई है। इससे रबी के संचित क्षेत्र में अत्यधिक वृद्धि हुई है।

किसानों को शून्य प्रतिशत ब्याज पर ऋण

मध्यप्रदेश में किसानों को कृषि आदानों के लिए सरकार द्वारा शून्य प्रतिशत ब्याज पर ऋण दिए जाना कृषि क्षेत्र में वृद्धि का एक और महत्वपूर्ण कारण है। साथ ही सरकार द्वारा समर्थन मूल्य पर खरीदी ने भी कृषि क्षेत्र में वृद्धि को प्रोत्साहित किया है।

किसानों को पुरस्कार का श्रेय

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि पूर्व में भी मध्यप्रदेश को कृषि क्षेत्र में कई अवार्ड मिले हैं। मैं प्रदेश के किसानों को इन पुरस्कारों का श्रेय देता हूँ। वर्ष 2005 में ही हमने तय किया था कि मध् प्रदेश में कृषि को लाभ का धंधा बनाने का हरसंभव प्रयास करेंगे।

ये रहे प्रमुख प्रयास

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रदेश में कृषि उत्पादन बढ़ाने लिए सिंचाई और बिजली की उपलब्धता सुनिश्चित की गई। खाद-बीज की समय पर बेहतर वितरण व्यवस्था की गई। साथ ही किसानों को बोनस प्रदान करना, आधुनिक पद्धतियों के प्रति आकर्षित करना, रिज़ एंड फेरो पद्धति और 0% ब्याज की व्यवस्था आदि से कृषि क्षेत्र में वृद्धि हुई। उत्पादन का किसानों को उचित दाम दिलवाया गया। इस वर्ष समर्थन मूल्य पर 1 करोड़ 29 लाख मीट्रिक टन गेहूं का उपार्जन हुआ है, जो देश में प्रथम है। किसानों को क्षति की भरपाई के लिए फसल बीमा योजना की राशि दिलवाना तथा प्रधानमंत्री किसान कल्याण निधि की राशि बढ़वाने के कार्य भी हुए हैं जो किसानों के लिए बड़ा सहारा‍सिद्ध हुए।


पंकज मित्तल
Post a Comment

मुख्यमंत्री श्री चौहान "संबल हितग्राहियों" को 224 करोड़ वितरित करेंगे
मुख्यमंत्री श्री चौहान से मिला संस्कृत भारती मध्यप्रदेश का प्रतिनिधिमंडल
मुख्यमंत्री श्री चौहान की केन्द्रीय वन एवं पर्यावरण मंत्री श्री प्रकाश जावडे़कर से मुलाकात
मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान की केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री से मुलाकात
मुख्यमंत्री श्री चौहान की केन्द्रीय रक्षा मंत्री श्री राजनाथ सिंह से मुलाकात
मुख्यमंत्री श्री चौहान की केन्द्रीय भूतल परिवहन मंत्री श्री नितिन गड़करी से मुलाकात
मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान की केन्द्रीय गृह मंत्री श्री अमित शाह से मुलाकात
मुख्यमंत्री श्री चौहान, गृह मंत्री के निवास पर मकर संक्रांति कार्यक्रम में शामिल हुए
मंत्रालय में ई-ऑफिस प्रणाली को क्रियान्वित करें - राज्य मंत्री श्री परमार
मंत्री डॉ. मिश्रा के निवास पर संक्रांति मिलन समारोह आयोजित
केन्द्रीय मंत्री श्री प्रधान ने प्राथमिक स्कूल भवन और बॉयो गैस संयंत्र का किया लोकार्पण
पुलिसकर्मियों को मिलेगा साप्ताहिक अवकाश
केन्द्रीय वित्त पोषित योजनाओं में मिलने वाले सहायक अनुदान को बढ़ाया जाये
25 जनवरी से होगी जूनियर राष्ट्रीय एथलेटिक प्रतियोगिता
वन मंत्री ने विंध्य हर्बल्स उत्पादों के ऑनलाइन विक्रय का किया लोकार्पण
ऊर्जा मंत्री श्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने किया सुंदर नगर भानपुर जोन का औचक निरीक्षण
हर घर में जले बल्ब, यही है हमारा लक्ष्य :ऊर्जा मंत्री श्री तोमर
बैतूल के ग्राम बांचा में सौर ऊर्जा से रसोई गैस बनाने का प्रकल्प लोकार्पित
ग्रामीण जल-प्रदाय के लिये भारत सरकार से मिलेंगे अतिरिक्त 26 करोड़
सफाई संरक्षकों का वेतन एक तारीख को देने के निर्देश
सड़क निर्माण में घटिया डामर का उपयोग करने पर होगी एफआईआर - मंत्री श्री भार्गव
14 वीं विज्ञान मंथन यात्रा आरंभ, पांच कक्षाओं के 1051
अनुसूचित-जाति के छात्रावासों में रहने वाले विद्यार्थियों की शिष्यवृत्ति में वृद्धि
खाद्य मंत्री श्री सिंह अनूपपुर, अमरकंटक प्रवास पर जायेंगे
50 करोड़ की राशि से होगा अमरकंटक में माँ नर्मदा तट का सौन्दर्यीकरण मंत्री श्री सिंह
नोवल कोरोना वायरस (COVID-19) मीडिया बुलेटिन
स्वास्थ्य सुविधाओं के विस्तार की जानकारी आम जनता तक पहुँचाएँ
महाविद्यालयों के विकास के लिये दान देने वाले होंगे सम्मानित : उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. यादव
राज्य मंत्री स्वतंत्र प्रभार श्री कुशवाह ने पंडित रामनारायण तिवारी के
आयुष राज्यमंत्री श्री कावरे ने की विभागीय समीक्षा
स्कूलों की छतों पर लगेगा सोलर रूफटॉप
मुख्यमंत्री श्री चौहान द्वारा शोक व्यक्त
बर्ड फ्लू की जद में आये प्रदेश के 32 जिले
निर्माण श्रमिकों के पंजीयन का अभियान 31 मार्च तक
1