आज के समाचार

पिछला पृष्ठ
.

2 लाख 66 हजार मेट्रिक टन खरीफ उपज का उपार्जन

56 हजार 156 किसानों ने लिया समर्थन मूल्य का लाभ:- खाद्य मंत्री श्री बिसाहूलाल सिंह 

भोपाल : शुक्रवार, नवम्बर 27, 2020, 19:55 IST

प्रदेश में 1099 खरीदी केन्द्रों पर 56 हजार 156 किसानों से समर्थन मूल्य पर खरीफ फसल का उपार्जन किया गया। खाद्य मंत्री श्री बिसाहूलाल सिंह ने बताया कि खरीफ विपणन वर्ष 2020-21 में समर्थन मूल्य पर 2 लाख 66 हजार 436 मेट्रिक टन खरीफ उपज का उपार्जन किया गया। इसमें 56 हजार 156 किसानों ने समर्थन मूल्य का लाभ लिया।

56 हजार 156 किसान हुए लाभान्वित

संचालक खाद्य श्री तरूण कुमार पिथौड़े ने बताया कि इसमें 998 उपार्जन केन्द्रों पर 29,202 किसानों से एक लाख 25 हजार 357 मेट्रिक टन धान तथा 101 उपार्जन केन्द्रों पर 24 हजार चार किसानों से एक लाख 25 हजार 599 मे.टन बाजरा तथा दो हजार 952 किसानों से 15 हजार 480 मे.टन ज्वार का उपार्जन किया गया।

-उपार्जन पोर्टल से पंजीकृत किसानों से खरीदी

संचालक खाद्य ने बताया कि खरीफ विपणन का ई-उपार्जन पोर्टल पर पंजीकृत किसानों से किया जा रहा है जिसके अंतर्गत धान के लिये 7 लाख 24 हजार 955, ज्वार के लिए 14 हजार 293 एवं बाजरे के लिए 41 हजार 535 इस प्रकार कुल 7 लाख 81 हजार 783 किसानों का ई-पंजीयन किया गया। राज्य शासन द्वारा खरीफ फसल में धान का 1868 रूपये, ज्वार का 2620 रूपये एवं बाजरे का 2150 रूपये समर्थन मूल्य निर्धारित किया गया है।

उपज विक्रय के लिये 15 दिन का समय

श्री पिथौडे ने कहा कि समर्थन मूल्य पर धान एवं मोटा अनाज उपार्जन के लिये किसानों को एसएमएस के माध्यम से दी गई। एसएमएस में उल्लेखित दिनांक को उपज की तौल का प्रावधान किया गया है। किसानों को प्रेषित एसएमएस में विक्रय की उल्लेखित दिनांक से किसान 15 दिन में अपनी उपज का विक्रय कर सकेंगे।

उपार्जन की अंतिम तिथि

संचालक खाद्य ने बताया कि ग्वालियर एवं चंबल संभाग में धान का उपार्जन 21 दिसंबर 2020 तक एवं शेष संभागों में 16 जनवरी 2021 तक उपार्जन किया जाएगा। इसके अलावा मोटे अनाज के रूप में ज्वारा एवं बाजरा का उपार्जन 5 दिसंबर 2020 एवं शेष संभागों में 16 दिसंबर 2020 तक किया जाएगा।

श्री पिथोड़े ने बताया कि विगत वर्ष प्रदेश में 4 लाख 29 हजार 197 किसानों से 25.85 लाख मेट्रिक टन धान एवं एक हजार 332 किसानों से 5469 मेट्रिक टन ज्वार का उपार्जन किया गया था।


मुकेश दुबे
Post a Comment

घर-घर जाकर होगी कोरोना मरीजों की पहचान: स्वास्थ्य मंत्री डॉ. चौधरी
ऑक्सीजन टैंकरों के निर्बाध परिवहन की सभी स्तरों से हो मॉनीटरिंग
प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने कोविड-19 पर मुख्यमंत्रियों से किया संवाद
कोरोना के विरूद्ध युद्ध में मुख्यमंत्री से लेकर पंच तक एक हों - मुख्यमंत्री श्री चौहान
कोरोना से बचाव में प्रभावी है योग - मुख्यमंत्री श्री चौहान
प्रतिदिन 50 हजार से अधिक हो रहे टेस्ट, पॉजिटिविटी दर लगातार हो रही कम
रेमडेसिविर और ऑक्सीजन की आपूर्ति निर्बाध रूप से जारी: मुख्यमंत्री श्री चौहान
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने हरसिंगार का पौधा रोपा
रेमडेसिविर की कालाबाजारी करने वालों पर लगायें रासुका - गृह मंत्री डॉ. मिश्रा
परिवहन मंत्री श्री राजपूत ने राहतगढ़ में किया कोविड सेंटर का शुभारंभ
मीटर रीडर एवं बिल वितरक को सहयोग की अपील
समुचित इलाज के साथ जन-जागरूकता जरूरी है - राज्य मंत्री श्री यादव
मंत्री सुश्री ठाकुर ने किया श्री सुनील मिश्र के निधन पर शोक व्यक्त
कोरोना संक्रमण की चेन तोड़ना हमारी प्राथमिकता - मंत्री सुश्री उषा ठाकुर
नोवल कोरोना वायरस (COVID-19) मीडिया बुलेटिन
ऑक्सीजन की सतत आपूर्ति के लिए मध्यप्रदेश कर रहा है युद्ध स्तर पर प्रयास
स्वास्थ्य मंत्री डॉ. प्रभुराम चौधरी ने पीपीई किट पहनकर कोरोना मरीजों का हालचाल जाना
राष्ट्रीय वर्चुअल मीटिंग में मलेरिया उन्मूलन के लिए प्रतिबद्धता व्यक्त की
प्रदेश में कोरोना पॉजिटिविटी रेट में हो रही है कमी - मंत्री श्री सारंग
मंत्री श्री पटेल ने बड़वानी अस्पताल को सौपे 100 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर और 5 वेंटिलेटर
1