आज के समाचार

पिछला पृष्ठ
.

मध्यप्रदेश प्रोफोशनल एक्जाम बोर्ड सुरक्षित ऑनलाइन परीक्षाओं के लिये सशक्त सेवा प्रदाता का सहयोग लेगा

 

भोपाल : सोमवार, नवम्बर 23, 2020, 21:11 IST

मध्यप्रदेश प्रोफेशनल एक्जाम बोर्ड विभिन्न कम्प्यूटर पर आधारित परीक्षाओं के संचालन के लिये निष्पक्ष और पारदर्शी प्रक्रिया अपनाने के लिये राष्ट्रीय ख्याति के एक विश्वसनीय सेवा प्रदाता की सेवाएँ लेगा। यह एजेंसी ऑनलाइन परीक्षा कराने में 13 वर्ष के अनुभव के साथ भारत की अग्रणी सेवा प्रदाता है।

एमपीपीईबी एजेंसी अपनी विशेषज्ञता के सहारे प्रभावी प्रौद्योगिकी, सायबर सुरक्षा और संसाधनों का प्रबंधन सुनिश्चित करेगी। यह देश में अपनी तरह का एकमात्र संगठन है, जो हर साल बड़े पैमाने पर विभिन्न व्यावसायिक पाठ्यक्रमों में प्रवेश के लिये प्रतियोगी परीक्षाओं का आयोजन करता है। इसके अलावा पीईबी विभिन्न सरकारी विभागों एवं सार्वजनिक उपक्रमों में भी राज्य-स्तरीय पदों के लिये भर्ती परीक्षाएँ आयोजित करता है।

एमपीपीईबी की निदेशक श्रीमती शनमुगा प्रिया मिश्रा ने बताया कि जेल प्रहरी परीक्षा, जो 20 नवम्बर से 2 दिसम्बर के बीच आयोजित की जाना थी, उसे अपरिहार्य कारणों से स्थगित कर दिया है। इसकी नई तिथि पृथक से जारी की जायेगी। उन्होंने बताया कि नवीन शेड्यूल की पीईबी वेबसाइट के माध्यम से जानकारी प्राप्त होगी। एमपीपीईबी की टीम अब परीक्षा वाले दिन अपने कंट्रोल-रूम में बैठकर सभी गतिविधियों पर नजर रख सकेगी। कंट्रोल-रूम डेशबोर्ड पूरी प्रक्रिया में पारदर्शिता प्रदान करेगा। तकनीकी प्रगति और डिजिटल बदलाव में सेवा प्रदाता की विशेषता के सहारे अतीत में पेश आई विभिन्न चुनौतियों पर अंकुश लगाना संभव हो सकेगा, जिससे आगामी महीनों में लगातार भर्ती परीक्षाएँ निर्विवाद रूप से आयोजित की जायेंगी।

पीईबी के साथ अनुबंध पर हस्ताक्षर करने के बाद सेवा प्रदाता ने थोड़े ही समय में संयुक्त रूप से 3 परीक्षाओं का सफल आयोजन किया है, जिनमें प्री-एग्रीकल्चर टेस्ट (पैट) 2020, प्री-वेटरनरी एण्ड फिशरीज एंट्रेस टेस्ट (पीवी एण्ड एफटी) 2020 और डिप्लोमा इन एनिमल हस्बैंड्री प्रवेश परीक्षा (डीएएचईटी) 2020 शामिल है। इन सभी परीक्षाओं को कोविड-19 का पालन कराते हुए 59 हजार 638 उम्मीदवारों ने भाग लिया।


के.के. जोशी
Post a Comment

समय से पूरी की जाएँ सभी सीवरेज परियोजनाएँ
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने मंत्रियों से की वन-टू-वन चर्चा
कोरोना मुक्ति में होगी युवाओं की महत्वपूर्ण भूमिका
वैक्सीनेशन जैसा पुनीत कार्य दूसरा नहीं
कोविड-19 की दूसरी लहर पर काबू के बाद अब शत-प्रतिशत वैक्सीनेशन का लक्ष्य
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बादाम का पौधा लगाया
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने सर संघ संचालक श्री के.एस. सुदर्शन की जयंती पर किया माल्यार्पण 
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने महारानी लक्ष्मी बाई को किया नमन
दतिया में 50 लाख से बनेगी सर्व-सुविधायुक्त आधुनिक सब्जी मण्डी - डॉ. मिश्रा
मुख्यमंत्री कोविड-19 विशेष अनुग्रह योजना क्रियान्वयन के संबंध में निर्देश जारी
आपदा प्रबंधन की तैयारियों के लिये ट्रेनिंग व मॉकड्रिल का आयोजन
मोतीझील फीडर के डिस्ट्रीब्यूशन ट्रांसफार्मर पर लापरवाही के चलते विद्युत कंपनी ने की दो कार्यपालन यंत्री, 3 सहायक यंत्री एवं तीन कनिष्ठ यंत्री पर कार्रवाई
इंदौर जिले का महू बन रहा पूर्णतः स्मार्ट मीटर वाला पहला शहर
किसानों से धोखाधड़ी करने वालों को बख्शा नहीं जायेगा - मंत्री श्री पटेल
कोरोना वैक्सीनेशन महा-अभियान को अपनी भागीदार से सफल बनायें- राज्य मंत्री श्री यादव
योजना के कार्यस्थलों का करें नियमित निरीक्षण
रोजगार गतिविधियों के सृजन से आत्म-निर्भर बनेगा मध्यप्रदेश- लोक निर्माण मंत्री श्री भार्गव
वैक्सीनेशन कराएं और दूसरो को भी प्रेरित करें : राज्य मंत्री श्री परमार
राज्य मंत्री श्री परमार ने स्कूल शिक्षा विभाग की ऑनलाइन अनुकंपा नियुक्ति प्रबंधन प्रणाली का शुभारंभ किया
राज्य आनंद संस्थान ने किया बच्चों के लिए ऑनलाइन आनंद सभा का आयोजन
वैक्सीन से नहीं घबराए वृद्धाश्रम के वृद्ध
नोवल कोरोना वायरस (COVID-19) मीडिया बुलेटिन
गाँव-गाँव जाना है - कोरोना मुक्त बनाना है
वैक्सीनेशन के लिये ग्रामीणों को पीले चावल दिये
कोरोना की रोकथाम के लिये ट्रांसजेंडर्स की अद्भुत पहल
देवास में 102 वर्षीय मिट्ठू बाई ने लगवाया कोरोना का टीका
1