आज के समाचार

पिछला पृष्ठ
.

केन-बेतवा लिंक परियोजना स्वीकृत कर खेतों तक पानी पहुँचाया जाएगा: मुख्यमंत्री श्री चौहान

किसानों की प्रभावित फसलों का सर्वे कर हरसंभव मदद की जाएगी
बड़ामलहरा के लिधौरा में 544 करोड़ रूपए से अधिक के विकास कार्यों का भूमिपूजन और लोकार्पण
 

भोपाल : मंगलवार, सितम्बर 15, 2020, 19:30 IST

   मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि अतिवृष्टि के कारण जिन किसानों की फसलें खराब हुई हैं, उनका सर्वे कर हरसंभव सहायता की जाएगी। किसानों के साथ अन्याय नहीं होगा। उन्होंने कहा कि केन बेतवा लिंक परियोजना को स्वीकृत कर छतरपुर जिले के प्रत्येक खेत तक पानी पहुँचाया जाएगा। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान छतरपुर जिले की तहसील बड़ामलहरा के ग्राम लिधौरा में काठन वृहद सिंचाई परियोजना के भूमिपूजन एवं हितग्राही सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने इस अवसर पर 544 करोड़ रूपए की लागत विकास कार्यों का भूमिपूजन और लोकार्पण किया। जिसमें 394 करोड़ रूपए की काठन सिंचाई परियोजना का भूमिपूजन भी शामिल है। इस परियोजना से 74 गांव के 15 हजार हेक्टेयर में सिंचाई होगी। इस अवसर पर विभिन्न योजनाओं के हितग्राहियों को लाभांवित किया गया। जिनमें वन अधिकार पट्टों का वितरण, लाड़ली लक्ष्मी योजना, प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना, पीएम स्वनिधि योजना के हितग्राही शामिल हैं। 

कार्यक्रम का शुभारंभ कन्या पूजन से हुआ। इस अवसर पर पूर्व केन्द्रीय मंत्री सुश्री उमा भारती, लोक निर्माण मंत्री पं. गोपाल भार्गव, सांसद श्री व्ही.डी. शर्मा, नागरिक आपूर्ति निगम के अध्यक्ष श्री प्रद्युम्न सिंह लोधी, विधायकगण सहित जनप्रतिनिधि उपस्थित थे।

हीरा खदानों में 75 प्रतिशत रोजगार बुन्देलखंड के युवाओं को

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि क्षेत्र में विकास के जो कार्य ठप्प हो गए थे, उन्हें पुनः प्रारंभ किया जाएगा। स्थानीय उद्योगों, जिले की हीरों की खदानों में 75 प्रतिशत नौकरियाँ बुंदेलखण्ड के युवाओं को मिलेंगी। उन्होंने कहा कि छतरपुर में मेडिकल कॉलेज का कार्य शुरू किया जाएगा। संबल योजना में गरीबों को लाभ दिलाया जाएगा। किसानों के साथ अब न्याय होगा। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह ने कहा कि 18 सितम्बर को 20 लाख किसानों के खातों में फसल बीमा 4600 करोड़ की राशि डाली जाएगी, 16 सितम्बर को मध्यप्रदेश के 37 लाख लोगों को 1 रूपए प्रति किलो की दर से गेहूँ मिलना शुरू हो जाएगा। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के आशीर्वाद से छतरपुर जिले के 88 हजार 773 गरीबों को सस्ता राशन मिलना शुरू हो जाएगा। जल-जीवन मिशन के तहत प्रत्येक गांव नलों से पानी मिलेगा।

लिधौरा में स्टेडियम और घुवारा में कॉलेज

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि लिधौरा में स्टेडियम बनेगा, हाईस्कूल का उन्नयन होगा, घुवारा में अगले सत्र से कॉलेज शुरू होगा, भीमकुण्ड पर्यटन स्थल बनेगा, बड़ामलहरा में 100 बिस्तर का अस्पताल उन्नयन होगा।  

कार्यक्रम में पूर्व केन्द्रीय मंत्री सुश्री उमा भारती ने मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान की प्रशंसा करते हुए कहा कि उनमें गम्भीरता, परिपक्वता, सहनशीलता और शालीनता हैं। जितने अच्छे तरीके से वे सरकार चला रहे हैं उतने अच्छे से मैं भी नहीं चला पाती। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान एक गृहस्थ संत की तरह लोगों की सेवा कर रहे हैं। पूर्व केन्द्रीय मंत्री ने कहा कि आत्मनिर्भर देश के बनाने में मध्यप्रदेश एक मॉडल स्टेट के रूप में कार्य करेगा। यहां सारे संसाधन उपलब्ध हैं। परिश्रम करने वाले लोग हैं। प्राकृतिक संपदा है। अब विकास के मामले में बुंदेलखण्ड पीछे नहीं रहेगा। बांध के बन जाने से सिंचाई परियोजना के पूर्ण होने पर बुंदेलखण्ड की गरीबी दूर होगी। परकेपिटा इनकम के मामले में बुंदेलखण्ड में बढ़ोत्तरी होगी। 

प्रदेश अध्यक्ष श्री व्ही.डी. शर्मा ने कहा कि पूर्व विधायक श्री प्रद्युम्न सिंह लोधी ने क्षेत्र के विकास का जो संकल्प लिया है उसे राज्य सरकार पूरा करेगी। आज 394 करोड़ की काठन वृहद सिंचाई परियोजना का भूमिपूजन हुआ है। इससे विकास के नए रास्ते खुलेंगे। 

लोक निर्माण मंत्री श्री गोपाल भार्गव ने कहा कि विकास के मामले में यह क्षेत्र अब पीछे नहीं रहेगा। 2003 के बाद इस क्षेत्र के विकास के लिए लगातार कार्य किए जा रहे है। डाकू समस्या का उन्मूलन हुआ है। क्षेत्र में लोक निर्माण विभाग द्वारा सभी आवश्यक निर्माण कार्य कराए जाएंगे। 

कार्यक्रम में नागरिक आपूर्ति निगम के अध्यक्ष श्री प्रद्युम्न लोधी ने अपने क्षेत्र की विभिन्न समस्याओं और मांगे मुख्यमंत्री के समक्ष रखीं। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि क्षेत्र के विकास की मांगों को पूरा किया जाएगा। 


पूजा थापक
Post a Comment

स्थाई पटटे से बैंक ऋण और भू-खंडों का अंतरण होगा संभव
आवासीय नजूल भूमि के स्थाई पट्टेदारों को अब मिल सकेगा भूमिस्वामी का हक
पात्र किसानों को बीमा राशि दिलवानें के पूरे प्रयास करेंगे- राज्यमंत्री श्री परमार
सहकारिता से साकार करेंगे आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश का सपना - मुख्यमंत्री श्री चौहान
मुख्यमंत्री श्री चौहान से मिले प्रशासनिक सेवा के अधिकारी
मुख्यमंत्री श्री चौहान से भारतीय किसान संघ के पदाधिकारियों की भेंट
सबको साख-सबका विकास कार्यक्रम में मुख्यमंत्री श्री चौहान ने किसानों से किया संवाद
छोटे किसानों के लिए वरदान साबित होगी मुख्यमंत्री किसान सम्मान निधि योजना
मुख्यमंत्री श्री चौहान संबल योजना में 3700 हितग्राहियों को देंगे अनुगृह राशि
कृषि बिल किसान कल्याण की दिशा में महत्वपूर्ण कदम
भारतीय प्रशासनिक सेवा के अधिकारियों की पदस्थापना
हाई परफारमेंस लीडरशिप प्रोग्राम आपकी आंतरिक शक्ति और आत्मविश्वास को बढ़ावा देगा - श्रीमती सिंधिया
श्वसन क्रिया फेल होने से वृद्ध नर भालू आर्या की हुई मृत्यु
वर्षाकाल 2020 में प्रमुख नदियों एवं जलाशयों का दैनिक जल स्तर की जानकारी
राज्यमंत्री श्री परमार का दौरा कार्यक्रम
मुख्यमंत्री श्री चौहान ग्रामीणों को व्यवसाय के लिये सरकार की गांरटी पर बैंक ऋण वितरित करेंगे
309 करोड़ से अधिक लागत से तैयार होंगी 306 जल संरचनाऐं
अटल जी का सपना होगा साकार - केन-बेतवा लिंक परियोजना जल्द लेगी आकार - मंत्री श्री सिलावट
नोवल कोरोना वायरस (COVID-19) मीडिया बुलेटिन
स्वास्थ्य मंत्री डॉ. चौधरी ने 4 करोड़ 67 लाख की नल-जल योजनाओं और गौशालाओं का किया भूमिपूजन
कृषि तथा कृषि आधारित व्यापार में केसीसी से किसानों को मिलेगी बड़ी मदद-डॉ. चौधरी
मछुआ संघो के सदस्यो को आधुनिक तकनीक सीखने के लिए अन्य प्रान्तों में भेजा जाएगा- मंत्री श्री सिलावट
औद्योगिक और शैक्षणिक संस्थाओं के मध्य इंडिस्ट्री एकेडेमिया मीट 24 सितंबर को होगी
राष्ट्रीय पोषण माह में पोर्टल पर ऑनलाइन प्रतियोगिताओं का आयोजन
मध्यप्रदेश में किसानों का हित संरक्षण राज्य सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता
चिकित्सा शिक्षा मंत्री श्री विश्वास सारंग का दौरा कार्यक्रम
उद्यानिकी एवं खाद्य प्रसंस्करण स्वतंत्र प्रभार राज्य मंत्री श्री कुशवाह दो दिवसीय ग्वालियर प्रवास पर
समाज के अन्तिम छोर के गरीब व्यक्ति का उत्थान करना ही सरकार का संकल्प : मंत्री श्री सखलेचा
नगरीय निकायों में एक मतदान केंद्र में 1000 से अधिक नहीं होंगे मतदाता
बेहतर प्रशिक्षण त्रुटि-रहित निर्वाचन का आधार है
गरीबी रेखा के नीचे के वास्तविक हकदारों को मिली अन्न सुरक्षा की गारंटी
समाज के सभी वर्गों को आत्म-निर्भर बनाना राज्य सरकार का लक्ष्य
1