आज के समाचार

पिछला पृष्ठ
.

रोजगार सेतु पोर्टल से जारी है मजदूरों को रोजगार मिलना

कौशल एवं दक्षतानुसार 38,906 श्रमिक जुड़े रोजगार से 

भोपाल : रविवार, अगस्त 9, 2020, 19:37 IST

कोरोना संक्रमण काल में प्रदेश वापस लौटे प्रवासी मजदूरों को स्थानीय स्तर पर उनकी कुशलता एवं दक्षता के अनुसार रोजगार उपलब्ध करवाने के लिये रोजगार सेतु पोर्टल प्रारंभ किया गया। पोर्टल पर सभी प्रवासी मजदूरों का पंजीयन कर ऐसे नियोक्ताओं का भी पंजीयन किया गया जिन्हें काम के लिये मजदूरों की तलाश थी। मध्यप्रदेश में कारगर हुई रोजगार सेतु पोर्टल योजना में 7 लाख 30 हजार 311 प्रवासी श्रमिकों और 31 हजार 733 नियोक्ताओं का पंजीयन हो चुका है।

रोजगार सेतु के माध्यम से 38 हजार 906 प्रवासी मजदूरों को उनकी कुशलता और दक्षतानुसार विभिन्न प्रायवेट नियोक्ताओं की संस्थाओं में रोजगार मिला है। मनरेगा के कार्यों में एक लाख 94 हजार 75 प्रवासी श्रमिकों को स्थानीय स्तर पर रोजगार उपलब्ध करवाया जा रहा है। तीन लाख 58 हजार 956 ऐसे प्रवासी मजदूरों के मनरेगा अन्तर्गत जॉब कार्ड भी बनाये गये, जिनके अभी तक जॉब कार्ड नहीं थे। इनमें ऐसे श्रमिक भी शामिल हैं, जो मध्यप्रदेश के न होकर अन्य राज्यों के हैं।

गरीबों के लिये हर स्तर पर सहायता उपलब्ध करवाने वाली संबल योजना के पोर्टल पर तीन लाख 24 हजार 715 व्यक्तियों का पंजीयन, बीओसीडब्ल्यू पोर्टल पर 16 हजार 496 का पंजीयन हो चुका है। श्रमिकों की स्किल मैपिंग में 7 लाख 20 हजार 997 श्रमिकों की उनके कौशल अनुसार मैपिंग का कार्य किया गया है।

आत्मनिर्भर भारत एवं राष्ट्रीय खाद्यान्न सुरक्षा कानून के अंतर्गत 13 लाख 10 हजार 186 व्यक्तियों को खाद्यान्न वितरण किया गया। प्रवासी श्रमिकों के शाला से बाहर 75 हजार 385 बच्चों को शालाओं में प्रवेश की कार्यवाही की गई है।


लक्ष्मण सिंह
Post a Comment

स्थाई पटटे से बैंक ऋण और भू-खंडों का अंतरण होगा संभव
आवासीय नजूल भूमि के स्थाई पट्टेदारों को अब मिल सकेगा भूमिस्वामी का हक
सहकारिता से साकार करेंगे आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश का सपना - मुख्यमंत्री श्री चौहान
मुख्यमंत्री श्री चौहान से मिले प्रशासनिक सेवा के अधिकारी
मुख्यमंत्री श्री चौहान से भारतीय किसान संघ के पदाधिकारियों की भेंट
सबको साख-सबका विकास कार्यक्रम में मुख्यमंत्री श्री चौहान ने किसानों से किया संवाद
छोटे किसानों के लिए वरदान साबित होगी मुख्यमंत्री किसान सम्मान निधि योजना
मुख्यमंत्री श्री चौहान संबल योजना में 3700 हितग्राहियों को देंगे अनुगृह राशि
कृषि बिल किसान कल्याण की दिशा में महत्वपूर्ण कदम
हाई परफारमेंस लीडरशिप प्रोग्राम आपकी आंतरिक शक्ति और आत्मविश्वास को बढ़ावा देगा - श्रीमती सिंधिया
श्वसन क्रिया फेल होने से वृद्ध नर भालू आर्या की हुई मृत्यु
वर्षाकाल 2020 में प्रमुख नदियों एवं जलाशयों का दैनिक जल स्तर की जानकारी
मुख्यमंत्री श्री चौहान ग्रामीणों को व्यवसाय के लिये सरकार की गांरटी पर बैंक ऋण वितरित करेंगे
309 करोड़ से अधिक लागत से तैयार होंगी 306 जल संरचनाऐं
अटल जी का सपना होगा साकार - केन-बेतवा लिंक परियोजना जल्द लेगी आकार - मंत्री श्री सिलावट
नोवल कोरोना वायरस (COVID-19) मीडिया बुलेटिन
स्वास्थ्य मंत्री डॉ. चौधरी ने 4 करोड़ 67 लाख की नल-जल योजनाओं और गौशालाओं का किया भूमिपूजन
कृषि तथा कृषि आधारित व्यापार में केसीसी से किसानों को मिलेगी बड़ी मदद-डॉ. चौधरी
मछुआ संघो के सदस्यो को आधुनिक तकनीक सीखने के लिए अन्य प्रान्तों में भेजा जाएगा- मंत्री श्री सिलावट
औद्योगिक और शैक्षणिक संस्थाओं के मध्य इंडिस्ट्री एकेडेमिया मीट 24 सितंबर को होगी
राष्ट्रीय पोषण माह में पोर्टल पर ऑनलाइन प्रतियोगिताओं का आयोजन
मध्यप्रदेश में किसानों का हित संरक्षण राज्य सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता
चिकित्सा शिक्षा मंत्री श्री विश्वास सारंग का दौरा कार्यक्रम
उद्यानिकी एवं खाद्य प्रसंस्करण स्वतंत्र प्रभार राज्य मंत्री श्री कुशवाह दो दिवसीय ग्वालियर प्रवास पर
समाज के अन्तिम छोर के गरीब व्यक्ति का उत्थान करना ही सरकार का संकल्प : मंत्री श्री सखलेचा
नगरीय निकायों में एक मतदान केंद्र में 1000 से अधिक नहीं होंगे मतदाता
बेहतर प्रशिक्षण त्रुटि-रहित निर्वाचन का आधार है
गरीबी रेखा के नीचे के वास्तविक हकदारों को मिली अन्न सुरक्षा की गारंटी
समाज के सभी वर्गों को आत्म-निर्भर बनाना राज्य सरकार का लक्ष्य
1