आज के समाचार

पिछला पृष्ठ
.

आत्मनिर्भर भारत के लिए कौशल विकास अनिवार्य

कृषि मंत्री कमल पटेल ने वीडियो कॉन्फ्रेंस से किया सेमिनार को संबोधित  

भोपाल : सोमवार, जून 15, 2020, 20:45 IST

आत्मनिर्भर भारत का सपना साकार करने के लिए कौशल विकास अनिवार्य है। कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री कमल पटेल ने इंदौर में आयोजित वेबीनार को संबोधित करते हुए कहा कि विकास के साथ पर्यावरण को सुरक्षित रखने के लिए प्रभावी तकनीक का व्यापाक तौर पर इस्तेमाल करने की जरूरत है।

इंदौर के शासकीय होल्कर साइंस कॉलेज द्वारा पीजी टेक रिसर्च इंस्टिट्यूट के सहयोग से 'भारत को आत्मनिर्भर बनाना है' विषय पर आयोजित वेबीनार को संबोधित करते हुए कृषि मंत्री श्री पटेल ने कहा कि वेबीनार का उद्देश्य शिक्षकों के दृष्टिकोण को प्रदेश में कौशल और कुशल भारत के निर्माण का मार्ग प्रशस्त करने के दिशा में परिवर्तित करना है। आत्मनिर्भर भारत के सपने को साकार करने के लिए यह महत्वपूर्ण कदम होगा। उन्होंने आयोजकों को बधाई देते हुए कहा कि प्रशिक्षण का लाभ देश के विकास और आत्मनिर्भर भारत के निर्माण के लिये उपयोगी होगा।

कृषि मंत्री श्री पटेल ने पर्यावरण संरक्षण में प्रभावी तकनीकों के इस्तेमाल की जरूरत बताते हुए कहा कि छात्रों को शैक्षणिक संस्थाओं में ऐसी तकनीकों से अवगत कराया जाये जिससे प्रदूषण को कम करने में मदद मिले। मंत्री श्री पटेल ने कहा कि प्रदूषण पूरे विश्व की गंभीर समस्या बन गया है। आने वाले समय में यह समस्या और विकराल होगी इसलिए समय रहते इस चुनौती से निपटने के उपाय तलाशने होंगे।

कृषि मंत्री कमल पटेल ने कहा कि खेती को सरल, सुगम और सुविधाजनक बनाने के लिए किसानों को नई तकनीकों के इस्तेमाल के लिए प्रोत्साहित और प्रशिक्षित करने के लिए सभी को मिलकर काम करना होगा। श्री पटेल ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी किसानों के कल्याण और गांवों के अधोसंरचनात्मक विकास के लिए पूर्ण समर्पण भाव से जुटे हैं। प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना, प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना देश के विकास में मील का पत्थर साबित होंगी। वेबीनार में इंदौर उच्च शिक्षा विभाग के एडिशनल डायरेक्टर डॉ. सुरेश सिलावट, संयोजक पीजी टेक रिसर्च इंस्टिट्यूट के डायरेक्टर आशीष तिवारी, प्रोफेसर आरसी दीक्षित, डॉ. एम.के. द्विवेदी मौजूद थे।


अलूने
Post a Comment

कोरोना के इलाज के लिए बिस्तर, ऑक्सीजन, इंजेक्शन आदि की पर्याप्त व्यवस्था
भोपाल में बिस्तर चाहिए कहाँ मिलेगा
कोरोना संक्रमण के नियंत्रण के लिए प्रभावी कार्य-योजना विकसित की जाएगी - मुख्यमंत्री श्री चौहान
भिलाई, राउरकेला और देवरी से 450 एम.टी. ऑक्सीजन की आपूर्ति शीघ्र
प्रदेश में प्रारंभ हुए 94 कोविड केयर सेंटर
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने मुख्यमंत्री निवास में मौलश्री का पौधा रोपा
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने किया सिख गुरू अर्जुन देव जी को नमन
वरिष्ठ पत्रकार श्री इंटोरिया के निधन पर परिवहन मंत्री श्री राजपूत ने दी श्रद्धांजलि
आरक्षक श्री धुर्वे के निधन पर परिवहन मंत्री श्री राजपूत ने दी श्रद्धांजलि
ऐसे कार्य करें कि कार्मिक और प्रबंधन के बीच विश्वास की भावना पैदा हो
हरदा में 26 अप्रैल तक रहेगा कोरोना कर्फ्यू - मंत्री श्री पटेल
ग्रामीण आबादी की जलापूर्ति के लिए सागर में जारी है 584 करोड़ रूपये के कार्य
10वीं और 12वीं के प्रवेश-पत्रों में 10 मई तक करा सकेंगे संशोधन
खाद्य मंत्री श्री सिंह ने अनूपपुर में की कोरोना व्यवस्थाओं की समीक्षा
नोवल कोरोना वायरस (COVID-19) मीडिया बुलेटिन टीकाकरण सहित
अब तक 69 लाख 69 हजार नागरिकों का हुआ वैक्सीनेशन
ऑक्सीजन टैंकर्स के लिये भी बनेगा ग्रीन कॉरीडोर, पायलेटिंग भी होगी
आर्सेनिक एल्ब-30 का वितरण करायेगा आयुष विभाग
एम्स में कोविड मरीजों के लिये बढ़ेंगे बेड - मंत्री श्री सारंग
प्रभारी मंत्री श्री डंग ने झाबुआ में की कोरोना व्यवस्थाओं की समीक्षा
कोरोना संक्रमण से आमजन का बचाव ही हमारी प्राथमिकता है- मंत्री मीना सिंह
1