आज के समाचार

पिछला पृष्ठ
.

कृषि के क्षेत्र में जल्द ही लाएंगे क्रान्ति : मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ

आगर-मालवा जिले के 9448 किसानों के 135 करोड़ के फसल ऋण माफ
मुख्यमंत्री द्वारा 865 करोड़ के कार्यों का भूमि-पूजन और लोकार्पण
 

भोपाल : सोमवार, मार्च 2, 2020, 18:44 IST

मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ ने आगर-मालवा जिला मुख्यालय पर आयोजित जय किसान फसल ऋण माफी कार्यक्रम में कहा कि प्रदेश में पिछले 14 महीनों में कृषि के क्षेत्र में भारी परिवर्तन आया है। राज्य सरकार ने जय किसान फसल ऋण माफी योजना लागू कर पहले चरण में ही 21 लाख से अधिक पात्र किसानों के ऋण माफ कर अपनी नेकनीयती का सशक्त प्रमाण दिया है। श्री कमल नाथ ने बताया कि इस योजना के तृतीय चरण में आगर-मालवा जिले के 9448 किसानों के करीब 135 करोड़ के फसल ऋण माफ किये गये है। मुख्यमंत्री ने कार्यक्रम में किसान फफ्फू बाई, धर्मराज, मेहरबान सिंह, प्रताप सिंह, रामदयाल, हीरालाल, जोरालाल और तिलक सिंह को ऋण माफी के सम्मान पत्र प्रदान किये।

नौजवान और किसान राज्य सरकार की प्राथमिकता

मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ ने कहा कि नौजवान और किसान राज्य सरकार की प्राथमिकता हैं। उन्होंने कहा कि आज का युवा काम चाहता है। युवाओं को रोजगार उपलब्ध कराने के लिये हम प्रदेश में निवेश लाने में काफी हद तक सफल रहे हैं। उन्होने कहा कि किसानों को उनकी फसलों का उचित मूल्य दिलाने की दिशा में भी राज्य सरकार ने कारगर पहल की है। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में कृषि के क्षेत्र में जल्द ही क्रांति लाएंगे। श्री कमल नाथ ने कहा कि आगर-मालवा जिले में विकास का नया इतिहास लिखा जायेगा।

आगर-मालवा में जल्द स्थापित होगी फूड प्रोसेसिंग यूनिट

श्री कमल नाथ ने विधायक श्री राणा विक्रम सिंह की मांग पर घोषणा की कि आगर-मालवा जिले में शीघ्र ही फूड प्रोसेसिंग यूनिट स्थापित की जायेगी। उन्होने कहा कि हमारी संस्कृति लोगों को जोड़कर एक-साथ रखने की है। अनेकता में एकता हमारे देश की पहचान है। उन्होंने कहा कि भारत के अलावा दुनिया में कोई भी ऐसा देश नहीं है, जहां विभिन्न धर्म, भाषा और त्यौहार हों। श्री कमल नाथ ने कहा कि हमें अपनी संस्कृति और इतिहास को सुरक्षित रखना है।

604 करोड़ की हर घर-नल जल योजना

मुख्यमंत्री ने आगर-मालवा जिले के ग्रामीण इलाकों में हर घर-नल जल योजना से पेय जल पहुँचाने के लिये 604 करोड़ की योजना का भूमि-पूजन किया। मुख्यमंत्री ने आगर-मालवा जिले में कुल 865 करोड़ रूपये लागत के विकास एवं निर्माण कार्यों का भूमि-पूजन एवं लोकार्पण किया। इसमें 686 करोड़ लागत के कार्यो का भूमि-पूजन और 180 करोड़ की लागत के कार्यों का लोकार्पण शामिल है। इसमें जिले के ग्रामीण अंचलों में हर घर-नल से जल पहुँचाने के लिये 604 करोड़ की योजना भी शामिल है। आगर-मालवा जिला प्रदेश का पहला जिला है, जहां इतने बड़े पैमाने पर नल-जल योजना के लिये धनराशि स्वीकृति की गई है।

अतिवृष्टि प्रभावित किसानों को 150 करोड़ मुआवजा राशि वितरित

जिले के प्रभारी नगरीयविकास एवं आवास मंत्री श्री जयवर्द्धन सिंह ने कहा कि प्रदेश में पिछले 14 महीनों में जनकल्याण के जितने काम हुए हैं, उतने पिछले 15 वर्षों में नहीं हुए। उन्होंने बताया कि आगर-मालवा जिले के अतिवृष्टि से प्रभावित किसानों को नुकसान की भरपाई के लिये 150 करोड़ रूपये मुआवजा राशि का वितरण किया जा चुका है। श्री सिंह ने कहा कि जिले में 30 आधुनिक गौ-शालाएँ स्थापित की गई हैं। आने वाले दिनों में 50 और नई गौ-शालाएँ स्थापित की जाएंगी।

छिन्दवाड़ा मॉडल की तर्ज पर होगा आगर-मालवा जिले का विकास

लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी मंत्री श्री सुखदेव पांसे ने कहा कि कुण्डलिया डेम से पानी लाकर उसे शुद्ध किया जायेगा और आगर-मालवा जिले के 480 गाँव के प्रत्येक घर में नल के माध्यम से प्रदाय किया जायेगा। उन्होंने बताया कि इस काम का टेंडर हो चुका है और अगले तीन वर्षों में यह योजना मूर्त रूप ले लेगी।

कार्यक्रम को किसान कल्याण एवं कृषि विकास मंत्री श्री सचिन यादव, जल संसाधन मंत्री श्री हुकुम सिंह कराड़ा, जनसम्पर्क मंत्री श्री पी.सी. शर्मा, उच्च शिक्षा मंत्री श्री जीतू पटवारी और ऊर्जा मंत्री श्री प्रियव्रत सिंह ने भी संबोधित किया। कार्यक्रम में विधायक श्री कुणाल चौधरी, अन्य जन-प्रतिनिधि, गणमान्य नागरिक और बड़ी संख्या में किसान और ग्रामीण उपस्थित थे।

नव-निर्मित संयुक्त कलेक्ट्रेट भवन का लोकार्पण

मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ ने आगर-मालवा जिले के प्रथम आगमन पर जिला मुख्यालय पर 21 करोड़ रूपये लागत के नव-निर्मित संयुक्त कलेक्ट्रेट भवन का लोकार्पण किया।

बाबा बैजनाथ महादेव मंदिर में पूजा-अर्चना

मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ ने आगर-मालवा जिले के प्रथम प्रवास के दौरान आगर स्थित बाबा बैजनाथ महादेव मंदिर में पूजा-अर्चना की। श्री कमल नाथ ने इस मौके पर प्रदेश की तरक्की एवं प्रदेशवासियों की सुख-समृद्धि की कामना की। श्री कमल नाथ ने कहा कि मंदिर परिसर में 5 करोड़ के विकास कार्य कराए जाएंगे।


मनोज पाठक
Post a Comment

मानव मूल्य आधारित पत्रकारिता का विश्वविद्यालय करें दिशा दर्शन: श्री टंडन
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने एक क्लिक से जमा किए 66 लाख विद्यार्थियों के लिए 146 करोड़
गेहूँ उपार्जन लघु, मध्यम एवं सीमांत किसानों के लिये वरदान साबित हुआ
वरिष्ठ चिकित्सक रोज वार्डों में जाएं, मरीजों को सर्वोत्तम इलाज दें
मुख्यमंत्री श्री चौहान रात्रि 8 बजे प्रदेशवासियों को संबोधित करेंगे
मोदी नाम नहीं, मंत्र है जो ऊर्जा भरता है : मुख्यमंत्री श्री चौहान
आईएएस एवं आईपीएस अधिकारियों की पदस्थापना
जल आपूर्ति बाधित न हों : मंत्री डॉ. मिश्रा
संग्राहकों से 1582 क्विंटल महुआ फूल खरीदा गया
पलाश और कुसुम लाख के न्यूनतम समर्थन मूल्य में वृद्धि
रविवार को भी जमा होंगे बिजली बिल
सरसों का उपार्जन 10 जून तक होगा - मंत्री श्री पटेल
टिड्डी दलों के नियंत्रण के लिए चलाया जा रहा सघन अभियान
5 लाख 74 हजार श्रमिक वापस लाये गये
लॉकडाउन अवधि में प्रदेश में 57 हजार से ज्यादा सुधारे गए हैंड पम्प
विभिन्न 5 विकास कार्यों पर 6.25 करोड़ से ज्यादा राशि होगी खर्च
महर्षि पतंजलि संस्कृत संस्थान से नवीन संबद्धता एवं नवीनीकरण के लिये आवेदन 31 जुलाई तक आमंत्रित
नोवल कोरोना वायरस (COVID-19) मीडिया बुलेटिन
कोरोना संकट में जरूरतमंदों का सहारा बन रही आँगनवाड़ी कार्यकर्ता
पीसीसीएफ श्री पी.सी. दुबे राष्ट्रीय औषधीय पादप बोर्ड में सदस्य बने
सी.एम. हेल्पलाइन से बड़ी संख्या में लोगों को मिल रही सहायता
नगरीय निकायों एवं पंचायतों की मतदाता सूची का अंतिम प्रकाशन 4 अगस्त को
लॉकडाउन अवधि में बैंक-सखियों के माध्यम से 62 करोड़ रूपये पहुंचे खातेदारों तक
मास्क बनाने के लिए 10 हजार महिला उद्यमियों ने करवाया पंजीयन
1