दिनांक
विभाग

युवाओं के लिये कृषि आधारित उद्योग के अवसर बढ़ाने होंगे

जवाहरलाल नेहरू कृषि वि.वि. के दीक्षांत समारोह में राज्यपाल श्रीमती पटेल

भोपाल : गुरूवार, मार्च 14, 2019, 21:21 IST

राज्यपाल श्रीमती आनन्दीबेन पटेल ने कहा है कि युवाओं में कृषि के प्रति लगाव पैदा करना होगा। उन्नत कृषि, वैज्ञानिक पद्धति से व्यावसायिक फसलों के उत्पादन और रोजगारमूलक कार्यक्रमों से छात्रों को जोड़कर उनके लिये कृषि आधारित उद्योग की स्थापना के अवसर बढ़ाने होंगे। इससे युवा गाँव के प्रति आकर्षित होंगे और उनका रूझान शहरों की छोटी-छोटी नौकरियों की तरफ कम होता जायेगा। राज्यपाल आज जबलपुर में जवाहरलाल नेहरू कृषि विश्वविद्यालय के 15वें दीक्षांत समारोह को सबोधित कर रही थीं।

राज्यपाल ने कहा कि भारतीय परिवेश में कृषि के बिना जीवन-शैली की कल्पना नहीं की जा सकती है। युवाओं द्वारा कृषि आधारित उद्योग स्थापित करने से किसानों को लाभ होगा तथा उन्हें उपज का सही मूल्य मिलेगा। उन्हें अपने उत्पादन की बिक्री के लिये गाँव के बाहर नहीं जाना पड़ेगा। रोजगार के अवसर बढ़ेंगे। राज्यपाल ने कहा कि कृषि स्नातक केवल नौकरी पर ध्यान केन्द्रित करने के बजाय अपने उद्यम लगाने तथा कृषि विकास में योगदान के लिये तैयार हों। उन्होंने कहा कि कृषि विश्वविद्यालय को देश और विदेश के चुनिंदा शैक्षणिक संस्थानों से आपसी समझौते करने चाहिये।

राज्यपाल ने देश के सर्वोच्च कृषि संस्थान आईसीएआर के पूर्व डायरेक्टर जनरल एवं जनेकृविवि के पूर्व कुलपति तथा रानी लक्ष्मी बाई केन्द्रीय कृषि विश्वविद्यालय, झाँसी के कुलाधिपति प्रो. पंजाब सिंह को डॉक्टर आफ साइंस की मानद उपाधि से विभूषित किया। राज्यपाल ने छात्रों को स्वर्ण पदक, नगद पुरूस्कार एवं उपाधियों से अलंकृत किया।

समारोह में कृषि एवं कृषि अभियांत्रिकी संकाय के 306 छात्रों को स्नातकोत्तर एवं 28 छात्रों को विद्यावाचस्पति (पी.एच.डी.) की उपाधियाँ प्रदान की गई। स्वर्ण पदक/नगद पुरूस्कार से 13 छात्रों को अलंकृत किया गया। राज्यपाल ने प्राथमिक शाला के बच्चों को फल और पुस्तकें वितरित की और मॉं वैष्णवी स्व-सहायता केन्द्र मंडला की अध्यक्ष सुश्री इन्दु दुबे को शाल, श्रीफल और स्मृति-चिन्ह से सम्मानित किया।

समारोह को प्रो. पंजाब सिंह ने भी संबोधित किया। स्वागत भाषण एवं प्रतिवेदन प्रस्तुति कुलपति डॉ. प्रदीप कुमार बिसेन ने की।

प्रलय श्रीवास्तव

राज्यपाल श्रीमती पटेल ने परिसहाय श्री शहवाल को दी विदाई
9 अगस्त को आदिवासी दिवस पर सामान्य अवकाश घोषित
विशेष भर्ती अभियान की समय-सीमा में एक वर्ष की वृद्धि
चिकित्सकों में विशेषज्ञता के साथ सेवा भाव भी जरूरी : राज्यपाल श्रीमती पटेल 
6 जिलों में 30 सड़कों के लिये साढ़े 21 करोड़ स्वीकृत
विद्यार्थियों को औद्योगिक प्रतिष्ठानों का भ्रमण कराएं : श्रीमती पटेल
प्याज का भाव 800 रुपये प्रति क्विंटल सुनिश्चित करेगी सरकार
सड़क यातायात को सुगम बनाने के लिये 5 वर्ष में बनेंगे 472 पुल
अजजा वर्ग के हितग्राहियों द्वारा प्राप्त ऋण राशि में से एक लाख रूपये तक कर्ज माफ
गेहूँ की उत्पादकता बढ़ाने के लिये जय किसान समृद्धि योजना लागू
डॉ. पंकज लक्ष्मण जानी कुलपति नियुक्त
अपराधियों को सजा दिलाने में देश में अग्रणी मध्यप्रदेश : गृह मंत्री श्री बच्चन
स्वच्छ सर्वेक्षण-2019 में मध्यप्रदेश को प्रथम पुरस्कार
जय किसान फसल ऋण माफी योजना में अपील प्रक्रिया निर्धारित
तेंदूपत्ते की संग्रहण दर 2500 रूपये प्रति मानक बोरा निर्धारित
सरकारी योजनाओं से जन-सामान्य के जीवन में आया है बदलाव
कृषि उत्पादों पर समर्थन मूल्य के अलावा प्रोत्साहन राशि जय किसान समृद्धि योजना में दी जायेगी
राजभवन में बोनसाई एवं पुष्प प्रदर्शनी के प्रमाण पत्र वितरित
राज्यपाल श्रीमती पटेल ने महाशिवरात्रि पर दी प्रदेशवासियों को बधाई
प्रदेशभर में पुलवामा के शहीदों को समर्पित "भारतीयम्" कार्यक्रम 3 मार्च को
1