दिनांक
विभाग

मुख्यमंत्री श्री चौहान 24 जनवरी को करेंगे पंख अभियान का शुभारंभ

संशोधित

राष्ट्रीय बालिका दिवस पर करेंगे लाड़ली लक्ष्मियों से संवाद
435 आँगनवाड़ी, 12 वन स्टॉप सेंटर का करेंगे लोकार्पण

भोपाल : बुधवार, जनवरी 20, 2021, 17:56 IST

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान 24 जनवरी राष्ट्रीय बालिका दिवस पर बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ योजनांतर्गत 'पंख अभियान'' का शुभारंभ करेंगे। मुख्यमंत्री श्री चौहान वर्चुअल माध्यम से 435 आँगनवाड़ी और 12 वन स्टॉप सेंटर का लोकार्पण भी करेंगे। राष्ट्रीय बालिका दिवस के अवसर पर मुख्यमंत्री लाड़ली लक्ष्मी योजना और मातृ वंदना योजना के हितग्राहियों को राशि का अंतरण करने के साथ लाड़ली लक्ष्मी योजना से लाभान्वित बालिकाओं से संवाद भी करेंगे।

पंख अभियान

'बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ'' योजना के तहत पंख (PANKH) अभियान का उद्देश्य किशोरी बालिकाओं को P-Protection सुरक्षा, A-Awareness-जागरूकता, N-Nutrition-पोषण, K-Knowledge-जानकारी और H-Health a Hygiene-स्वास्थ्य एवं स्वच्छता से जोड़ते हुए विभिन्न गतिविधियों के माध्यम से उनका विकास सुनिश्चित करना है। साथ ही ग्राम स्तर पर सामुदायिक पहल एवं जिम्मेदारी के साथ किशोरियों के विकास के लिये जागरूक करना है। अभियान के तहत शिक्षा, सामाजिक कल्याण, लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण, विभाग द्वारा किशोरियों के स्वास्थ्य, शिक्षा और सुरक्षा को सुनिश्चित किया जायेगा। इसके तहत डाटाबेस तैयार कर उनके विकास की मॉनीटरिंग की जायेगी। पुलिस विभाग के साथ समन्वय स्थापित कर किशोरियों को उनकी रुचि अनुसार आत्मरक्षा का प्रशिक्षण और पंचायत स्तर पर वोकेशनल ट्रेनिंग भी दी जायेगी।

उल्लेखनीय है कि नेशनल फैमिली हेल्थ सर्वे के अनुसार प्रदेश में जन्म के समय लिंगानुपात एक हजार बालक पर 927 बालिका है, 15-49 वर्ष की महिलाओं में शिक्षा का स्तर 59.4 प्रतिशत एवं एनीमिया 52.5 प्रतिशत है। किशोरावस्था के समय यह जरूरी है कि उनकी जीवन-शैली एवं सपनों को सही ज्ञान एवं व्यवहारिक रूप दिया जाये। इसी तारतम्य में मध्यप्रदेश द्वारा नई पहल की शुरूआत की जा रही है, जो किशोरियों के बहुमुखी विकास के लिये पंख अभियान की परिकल्पना की गई है।

बिन्दु सुनील

व्हाटसएप पिक्चर मैसेज क्रियेटिंग प्रतियोगिता
महिला-बाल विकास विभाग की योजनाओं की जानकारी अब
शौर्यादल अंतर्गत 3 हजार किशोरी बालिकाओं (मास्टर ट्रेनर्स) का ऑनलाइन प्रशिक्षण
बाल देखरेख संस्थानों के 18 वर्ष के ऊपर के बालक/बालिकाओं को रोजगार देने लॉन्च पैड स्कीम प्रारंभ
लाडली लक्ष्मी योजना में अब तक 37 लाख से ज्यादा बालिकाएँ लाभान्वित
महिलाओं, बालिकाओं और बच्चों की सुरक्षा के लिए क्रियान्वित " सेफ सिटी कार्यक्रम
आंगनवाडी केन्द्रों पर होगा रियूसेबल कपड़े के नेपकिन बनाने का प्रशिक्षण
अति गंभीर कुपोषित बच्चों को 31 मार्च 2021 तक सामान्य श्रेणी में
आँगनवाड़ी केन्द्रों पर सहयोगिनी मातृ समिति का होगा पुनर्गठन
अनूठी पहल, स्व-सहायता समूह की महिलाओं को उपलब्ध कराया गया स्टाल
भोपाल सेंट्रल जेल में स्त्री रोग जाँच शिविर आयोजित
"पोषित परिवार-सुपोषित म.प्र." के अन्तर्गत अति गंभीर कुपोषित बच्चों के परिवारों को मिलेगी प्रोत्साहन राशि
राज्य दत्तकग्रहण संसाधन अभिकरण के शासी निकाय का गठन
प्रमुख सचिव श्री अशोक शाह ने रीवा जिले को कुपोषण मुक्त करने का आव्हान किया
कोविड में तनाव से जूझ रहे बच्चों के लिए बाल आयोग ने शुरू की "संवेदना टोल फ्री टेली काउंसलिंग
महिलाओं के विरुद्ध अपराधों के प्रकरणों में सशक्त पैरवी के‍ लिये वेबिनार
राष्ट्रीय पोषण माह में पोर्टल पर ऑनलाइन प्रतियोगिताओं का आयोजन
"सही समय पर ऊपरी आहार की शुरूआत और भ्रांतियाँ" पर वेबिनार आज
राष्ट्रीय पोषण माह के रूप में मनाया जाएगा सितंबर माह 
आँगनवाड़ी कार्यकर्ताओं के लिए सफल गाथाओं का वीडियो संकलन प्रतियोगिता
1