दिनांक
विभाग

पर्यटन मंत्री सुश्री ठाकुर ने संवाद-सत्र में भागीदारी की

केरल के रिसॉर्ट मालिकों तथा पर्यटन से जुड़ी नामचीन हस्तियों से किया संवाद

भोपाल : रविवार, जनवरी 17, 2021, 19:58 IST

अपने केरल प्रवास के दौरान पर्यटन मंत्री सुश्री उषा ठाकुर ने कोट्टायम, कुमारकम्, असवायकम के रिसॉर्ट मालिकों, चेम्बर ऑफ होटल एसोसिएशन, होम स्टे ओनर, होम स्टे फेडरेशन के अध्यक्ष, डीटीपीसी के सचिव, ताज होटल के महाप्रबंधक कुमार अनुभव, नॉट ऑन मैप के संस्थापक के साथ चर्चा में मध्यप्रदेश में पर्यटन को बढ़ावा देने के सिलसिले में विस्तृत विचार-विमर्श किया।

कार्यक्रम में अपने उद्बोधन में मंत्री सुश्री ठाकुर ने कहा कि आज का दिन बेहद महत्वपूर्ण है जब हम केरल के प्रतिष्ठित पर्यटन व्यवसाय से जुड़े लोगों से रू-ब-रू होकर पर्यटन को बढ़ावा देने के गुर सीख रहे हैं। उन्होंने कहा कि केरल से हमारा अनुबंध मध्यप्रदेश पर्यटन को नई ऊँचाई देगा और प्रदेश में पर्यटन के विकास के मार्ग में मील का पत्थर साबित होगा। सुश्री ठाकुर ने कहा कि केरल का जीवन धार्मिक, सांस्कृतिक और मौलिक है, इसीलिये हमारे यहाँ के ऋषि परशुराम ने अपनी कर्मभूमि यहीं बनाई थी। यह आदि शंकराचार्य की जन्म-भूमि है और इस पावन भूमि को मैं नमन करती हूँ।

इस दौरान पर्यटन इण्डस्ट्री एवं रिस्पांसिबिल टूरिज्म मिशन के स्टेट को-ऑर्डिनेटर श्री रूपेश कुमार ने मध्यप्रदेश की पर्यटन मंत्री की केरल विजिट और रिस्पांसिबिल टूरिज्म मिशन के अनुबंध के बारे में विस्तार से जानकारी दी।

संवाद-सत्र में चैम्बर ऑफ रिसॉर्ट्स के अध्यक्ष एवं लेक सांग के महाप्रबंधक श्री संजय वर्मा ने भी रिस्पांसिबिल टूरिज्म मिशन के विभिन्न आयामों पर प्रकाश डाला। उन्होंने कहा कि टूरिज्म मिशन में काम करने से स्थानीय समुदाय और निवासियों ने पर्यटन उद्योग को स्वीकार किया और वे इस उद्योग में सहभागी बने हैं। स्थानीय लोगों को रोजगार मिलने और उनके उत्पाद क्रय करने के कारण स्थानीय लोग आत्मनिर्भर हुए और 'लोकल फॉर वोकल'' सार्थक हुआ।

डीटीपीसी सचिव इन्दु नायर ने कहा कि रिस्पांसिबिल टूरिज्म मिशन के आने से समुदाय एवं महिलाओं का सशक्तिकरण हुआ है। ताज ग्रुप के महाप्रबंधक श्री आशीर्वाद ने कहा कि वे स्थानीय पर्यटन और ग्रामीण पर्यटन में रुचि रखते हैं और पुरानी सम्पत्तियों का नवीनीकरण करते हैं। श्री आशीर्वाद ने कहा कि मध्यप्रदेश में पर्यटन की अपार संभावनाओं के मद्देनजर हम पर्यटन विभाग के साथ होमस्टे एवं ग्रामीण पर्यटन प्रारंभ करना चाहते हैं। अपर प्रबंध संचालक ने मध्यप्रदेश में पर्यटन की अपार संभावनाओं को रेखांकित किया।

डीटीपीसी के सचिव श्री इन्दु नायर ने कहा कि वर्ष 1986 में डीटीपीसी की स्थापना हुई है। रिस्पांसिबिल टूरिज्म मिशन के आने से समुदाय, विशेषकर महिलाओं का सशक्तिकरण हुआ है। इस मौके पर श्री सलिल दास ने भी अपने विचार व्यक्त किये।

नीरज शर्मा

केरल पर्यटन एवं मध्यप्रदेश पर्यटन के बीच हुआ करार
संस्कृति मंत्री सुश्री ठाकुर ने स्वामी विवेकानंद की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया
हम सौभाग्यशाली हैं कि हमारा जन्म भारतवर्ष में हुआ - संस्कृति मंत्री सुश्री उषा ठाकुर
पर्यटन एवं संस्कृति मंत्री सुश्री उषा ठाकुर "धाकड़" फिल्म की शूटिंग का शुभारंभ करेंगी
भारतीय संस्कृति और आध्यात्म से जोड़ा जाएगा पर्यटकों को - पर्यटन मंत्री सुश्री ठाकुर
पर्यावरणीय नियमों के उल्लंघनकारी उद्योगों पर होगी कार्रवाई
पर्यटन विभाग द्वारा कन्या-पूजन आदेश पर अमल शुरू
सुश्री उषा ठाकुर ने किया अध्‍यक्ष का पदभार ग्रहण
टापू पर्यटन का आनंद उठाने विदेश जाने की जरूरत नहीं
ग्वालियर और ओरछा यूनेस्को की वर्ल्ड हैरिटेज सूची में शामिल
प्रदेश के अनछुए पर्यटन स्थलों का होगा विकास
होम स्टे की बढ़ती माँग को देखते हुए पर्यटन विभाग द्वारा नवीन योजनाएँ लागू
मिन्टो हॉल, बोट क्लब, विन्ड एण्ड वेव्ज़ सहित निगम की 21 इकाईयों को मिला आई.एस.ओ. सर्टिफिकेट
प्रदेश में निर्भीक, निडर और सुरक्षित पर्यटन
पर्यटन मंत्री सुश्री उषा ठाकुर "टाइग्रेस ऑन द ट्रेल" रैली को रवाना करेंगी
भारतीय इतिहास के पुनर्लेखन की नहीं, शोध की आवश्यकता
पर्यटकों की रौनक से लम्बे अरसे बाद रविवार को गुलजार हुआ शौर्य स्मारक
आधी क्षमता के साथ प्रदेश में जल-पर्यटन पुन: शुरू
हलाली डेम पर पिकनिक और सामाजिक आयोजन कर सकेंगे लोग
एनटीए में परीक्षा लेने वाला देश का पहला संस्थान होगा भोपाल का आईएचएम
1