दिनांक
विभाग
भोपाल : सोमवार, जुलाई 16, 2018, 20:03 IST

प्रदेश में संस्कृत भाषा के विकास के लिये भरपूर प्रयास किये जायेंगे

भोपाल में राज्य-स्तरीय आवासीय कन्या संस्कृत विद्यालय का हुआ शुभारंभ

स्कूल शिक्षा मंत्री कुँवर विजय शाह ने कहा है कि भारत देश शाश्वत, सनातन संस्कृति वाला देश है। संस्कारों की संवाहिका भारतीय संस्कृति ही है और इसी संस्कृति का संरक्षण एवं पोषण संस्कृत भाषा में समाहित है। इसलिये संस्कृत को भारत की आत्मा कहा जाता है। राज्य सरकार ने प्रदेश में प्राचीन संस्कृत भाषा के विकास के लिये अनेक महत्वपूर्ण कदम उठाये हैं। स्कूल शिक्षा मंत्री कुँवर शाह आज भोपाल के साउथ टी.टी. नगर स्थित नूतन सुभाष विद्यालय परिसर में शासकीय आवासीय कन्या संस्कृत विद्यालय का शुभारंभ कर रहे थे। इस मौके पर प्रमुख सचिव स्कूल शिक्षा श्रीमती दीप्ति गौड़ मुखर्जी के अलावा संस्कृत भाषा के विद्वजन भी मौजूद थे।

मंत्री कुँवर शाह ने कहा कि बालिकाओं के लिये संस्कृत विद्यालय प्रारंभ करना उनकी प्राथमिकताओं में रहा है। प्रदेश में संस्कृत भाषा को स्व-रोजगार से जोड़ने के प्रयास किये जा रहे हैं। इसे देखते हुए रोजगार आधारित नवीन पाठ्यक्रम प्रदेश में शुरू किये गये हैं।

स्कूल शिक्षा राज्य मंत्री श्री दीपक जोशी ने कहा कि प्रदेशभर के संस्कृत शासकीय विद्यालयों को अधोसंरचनात्मक मजबूती दी जायेगी।

महर्षि पतंजलि संस्कृत संस्थान के निदेशक श्री प्रभात राज तिवारी ने बताया कि आवासीय विद्यालय में राज्य-स्तरीय मेरिट-सूची के आधार पर बालिकाओं को प्रवेश दिया गया है। बालिकाओं को पारम्परिक एवं आधुनिक पद्धतियों के समन्वय से संस्कृत भाषा एवं साहित्य के साथ कॅरियर ओरिएंटेड उत्कृष्ट शिक्षा उपलब्ध करवायी जायेगी। विद्यालय में कक्षा-6 से 12वीं तक के अध्यापन की व्यवस्था रहेगी। बालिकाओं को आवास, भोजन, गणवेश और चिकित्सा सुविधा उपलब्ध रहेगी। कार्यक्रम को डॉ. भागीरथ कुमरावत ने भी संबोधित किया।

बताया गया कि प्रदेश में 5 आदर्श संस्कृत विद्यालय विदिशा जिले के सिरोंज, दतिया, उज्जैन, बुरहानपुर और कटनी जिले के बरही में संचालित हैं। विद्यालयों को आधुनिक बनाने के लिये कम्प्यूटर क्रय की स्वीकृति भी दी गयी है। प्रदेश में 187 संस्कृत विद्यालयों को महर्षि पतंजलि संस्कृत संस्थान से संबद्धता दी गयी है। भोपाल में संस्थान के चार मंजिला नवीन भवन के लिये 9 करोड़ की मंजूरी दी जा चुकी है।

मुकेश मोदी

आज शासकीय कन्या आवासीय संस्कृत विद्यालय का शुभारंभ
स्कूल शिक्षा मंत्री श्री शाह ने नवीन स्कूल का किया निरीक्षण
आर.टी.ई. में 2 लाख 50 हजार बच्चों को प्रायवेट स्कूलों में मिलेगा निःशुल्क प्रवेश
डी.एल.एड. पाठ्यक्रम में प्रवेश के लिये पंजीयन 12 जुलाई तक
स्कूल शिक्षा मंत्री कुंवर शाह ने संस्कृत संस्थान के भवन का भूमि-पूजन किया
प्रदेश की एक लाख 11 हजार शालाओं में हुआ मूलभूत दक्षताओं का आकलन
स्कूल शिक्षा राज्य मंत्री श्री जोशी ने की विद्यार्थियों से बात
कैलेंडर के अनुसार संकुल, ब्लाक और जिला स्तर पर होंगी क्रीड़ा प्रतियोगितायें
सी.एम. डेशबोर्ड पर उपलब्ध है बोर्ड परीक्षाओं की सम्पूर्ण जानकारी
राष्ट्रीय शिक्षक पुरस्कार के लिये 15 जुलाई तक दिये जा सकेंगे आवेदन
सरकारी स्कूलों के विकास में सीएसआर फण्ड का उपयोग हो: स्कूल शिक्षा मंत्री
प्रदेश के 25 हजार से अधिक सरकारी स्कूलों में शाला सिद्धि कार्यक्रम का क्रियान्वयन
प्रदेश के 54 लाख विद्यार्थियो की मूलभूत दक्षताओं का आकलन आज से
स्कूलों के विद्यार्थियों की दक्षता आकलन के लिये बेसलाइन टेस्ट 25 जून से
सुपर-100 चयन परीक्षा एक जुलाई रविवार को
प्रदेश में अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर 21 जून को होंगे कार्यक्रम
कन्या आवासीय संस्कृत संस्थान में आवेदन की अंतिम तिथि 30 जून
प्रदेश में अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर 21 जून को होंगे कार्यक्रम
प्रदेश के 224 सरकारी स्कूलों में बनाये गये वर्चुअल क्लॉस-रूम
राज्य सरकार ने समाज के कमजोर वर्ग की भलाई के लिये किये हैं अनेक कार्य
1