दिनांक
विभाग

केन्द्रीय वित्त पोषित योजनाओं में मिलने वाले सहायक अनुदान को बढ़ाया जाये

केन्द्रीय वित्त मंत्री के साथ प्री-बजट चर्चा में वित्त मंत्री श्री देवड़ा ने दिये सुझाव
आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश का होगा निर्माण

भोपाल : सोमवार, जनवरी 18, 2021, 19:55 IST

राज्य सरकार ने केन्द्रीय वित्त पोषित योजनाओं में मिलने वाले सहायक अनुदान में कमी को देखते हुए बढाने का आग्रह किया है। इसी प्रकार बिना शर्त जी.एस.डी.पी. का एक प्रतिशत अतिरिक्त ऋण और प्राप्त करने की स्वीकृति देने पर भी केन्द्र से विचार करने का आग्रह किया है।

आज केन्द्रीय वित्त मंत्री श्रीमती निर्मला सीतारमण से केन्द्रीय बजट के पहले राज्यों के वित्त मंत्रियों से विभिन्न बजट प्रस्तावों पर चर्चा में वित्त मंत्री श्री जगदीश देवड़ा ने राज्य सरकार की ओर से मध्यप्रदेश को केन्द्रीय बजट में जरूरत के अनुकूल बजट प्रस्तावों पर चर्चा कर महत्वपूर्ण सुझाव दिये।

आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश का होगा निर्माण

वित्त मंत्री श्री देवड़ा ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी की आत्मनिर्भर भारत निर्माण की दूरदृष्टि से प्रेरित होकर मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने आत्म निर्भर मध्यप्रदेश बनाने के लिये रोडमैप बनाया है। इस साल के बजट से यह कल्पना साकार होगी और शक्तिशाली आत्मनिर्भर भारत के साथ आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश का भी निर्माण होगा।

वित्त मंत्री श्री देवड़ा ने कहा कि केन्द्र प्रवर्तित एवं केन्द्र क्षेत्रीय योजनाओं के अंतर्गत भारत सरकार से सीधे बैंक खाते में राशि अंतरित की जा रही है। इन योजनाओं की राशि राज्य की समेकित निधि के माध्यम से उपलब्ध करायी जानी चाहिए। उन्होंने अधोसंरचना कार्यों से संबंधित केन्द्र प्रवर्तित एवं केन्द्र सहायतित महत्वपूर्ण योजनाओं जैसे प्रधानमंत्री आवास योजना, प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना, स्मार्ट सिटी मिशन आदि में केन्द्रांश के अनुपात में बढ़ोत्तरी करने की भी चर्चा की।

आपदाओं से निपटने राज्यों को ज्यादा राशि मिले

मंत्री श्री देवड़ा ने केन्द्रीय वित्त मंत्री को बताया कि कीट प्रकोप एवं बाढ़ आपदा के कारण हुई क्षति के मुआवजे के रूप में भारत सरकार से 3,685 करोड़ रूपये की मांग की गई है। अभी तक 611 करोड़ रूपये मिले है। विभिन्न प्राकृतिक आपदाओं के समय राहत एवं पुनर्वास के लिये राज्यों को ज्यादा राशि उपलब्ध कराने का प्रावधान रखा जाये।

वित्त मंत्री श्री देवड़ा ने कहा कि खाद्यान्न का उपार्जन राज्य की संस्थाऐं करती हैं तथा व्यय की गई राशि की प्रतिपूर्ति, भारतीय खाद्य निगम/केन्द्र सरकार द्वारा की जाती है। उपार्जन पर हुए व्यय की स्थिति में केन्द्र सरकार को नीतिगत पहल करनी चाहिए।

बिना कटौती मिले चाही बजट राशि

वित्त मंत्री ने कहा कि बिना किसी कटौती के मध्यप्रदेश को अनुमान की पूरी राशि मिलना चाहिए। उन्होंने इस वर्ष भी बजट अनुमान तथा पुनरीक्षित अनुमान के अंतर की राशि को अतिरिक्त ऋण के रूप में प्राप्त करने की अनुमति देने का आग्रह किया।

राज्य सरकार की ओर से प्री-बजट चर्चा में प्रमुख सचिव वित्त श्री मनोज गोविल, सचिव वित्त श्री गुलशल बामरा, उप सचिव वित्त श्री रूपेश पटवार उपस्थित थे।

संतोष मिश्रा

विकास के कार्यों में कोई कमी नहीं आने दी जाएगी: मंत्री श्री देवड़ा
मध्यप्रदेश 3 नागरिक केन्द्रित सुधार पूरा करने वाले 2 राज्यों में शामिल
सड़कें अर्थव्यस्था की रीढ़ होती हैं : वित्त मंत्री श्री देवड़ा
वित्त मंत्री श्री देवडा़ ने दी नववर्ष की शुभकामनाएं
स्थानीय निकायों में सुधार के मामले मे मध्य प्रदेश सबसे आगे
मालवा अंचल की अर्थव्यवस्था को मिलेगी गति - वित्त मंत्री श्री देवड़ा
मंत्री श्री देवड़ा ने ग्राम लोध में 1 करोड़ 57 लाख की लागत के पीपलखूंटा से लोध मार्ग का शिलान्यास किया
मंत्री श्री देवड़ा ने ग्राम बही में 21.96 लाख के पुल का किया भूमि-पूजन
वित्त मंत्री श्री देवड़ा के समक्ष उप कोषालयों के युक्तियुक्तकरण को लेकर प्रस्तुतिकरण किया गया
मानव जाति को अपने अस्तित्व के लिए श्रीराम कथा से प्रेरणा लेना होगी: वित्त मंत्री श्री देवड़ा
मुख्य सचिव की अध्यक्षता में साधिकार समिति गठित
आर्थिक धोखाधड़ी की शिकायतों पर समय से सख्त कार्यवाही हो
वित्त एवं वाणिज्यिक कर मंत्री श्री देवड़ा ने दी दीप पर्व की शुभकामनाएँ
वित्त मंत्री श्री देवड़ा ने कोष एवं लेखा की समीक्षा बैठक ली
जीएसटी काउंसिल की 42वीं बैठक संपन्न
वित्त मंत्री श्री देवड़ा ने श्री दुबे के निधन पर शोक व्यक्त किया
सेवानिवृत्त शासकीय कर्मियों के पेंशन प्रकरण और स्वत्वों के निराकरण के निर्देश
मंत्री श्री जगदीश देवड़ा ने स्वतंत्रता दिवस पर ध्वजारोहण किया
भविष्य निधि वार्षिक लेखा विवरण वेबसाईट पर अपलोड
एमआरपी से अधिक दर पर मदिरा विक्रय के मामलों में कार्यवाही की जायेगी-मंत्री श्री देवड़ा
1