Department of Public Relation:Government of Madhya Pradesh

पीपीपी मोड पर
रोज़गार कार्यालयों का प्लेसमेंट सेंटर के रूप में होगा उन्नयन

कौशल विकास एवं तकनीकी शिक्षा राज्यमंत्री श्री दीपक जोशी की मौजूदगी में भोपाल स्थित मंत्रालय में प्रदेश के रोज़गार विभाग और यशस्वी एकेडमी फॉर टैलेन्ट मैनेजमेंट प्राइवेट लिमिटेड, पुणे के बीच पब्लिक प्राइवेट पार्टनरशिप (पीपीपी) मोड के आधार पर रोज़गार कार्यालयों को प्लेसमेंट सेंटर के रूप में उन्नयन के लिये करारनामे (एमओयू) पर हस्ताक्षर हुये। रोज़गार विभाग की ओर से संचालक श्री संजीव सिंह और एकेडमी की ओर से संचालक श्री विश्वेष कुलकर्णी ने करारनामे पर हस्ताक्षर किये।
प्लेसमेंट सेंटर के लिये चयनित जिले

प्रदेश में रोज़गार कार्यालयों को प्लेसमेंट सेंटर के रूप में प्रोजेक्ट करने के लिये 15 जिले चयनित किये गये हैं। इनमें भोपाल, इंदौर, जबलपुर, रीवा, ग्वालियर, सागर, उज्जैन, होशंगाबाद, शहडोल, धार, खरगौन, देवास, सिंगरौली, सतना एवं कटनी जिले शामिल हैं।

इसमें कंपनी आधुनिक प्लेसमेंट सेंटर्स को नियोजित एवं क्रियान्वित करेगी। कंपनी द्वारा युवाओं को निजी क्षेत्र में बेहतर रोज़गार के अवसर उपलब्ध करवाने के साथ-साथ व्यक्तित्व विकास, सी.वी. लेखन तथा बाजार की अद्यतन मांग आदि की जानकारी भी उपलब्ध करवाई जायेगी। पीपीपी मोड के अंतर्गत बाजार की मानव संसाधन मांगों का आकलन एवं विश्लेषण किया जायेगा और बेरोज़गार युवाओं की कैरियर काउंसिलिंग की जायेगी। युवा बेरोज़गारों को बाजार की मांगों के अनुसार तैयार करने के साथ-साथ रोज़गार मेले एवं कैरियर काउंसिलिंग सत्रों का आयोजन होगा।