Department of Public Relation:Government of Madhya Pradesh

तेंदूपत्ता संग्राहक एवं असंगठित श्रमिक सम्मेलन
गरीब और किसानों का विकास सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता

टीकमगढ़, मध्यप्रदेश सरकार प्रदेश के सर्वांगीण विकास के लिये संकल्पित है। गांव, गरीब और किसानों का विकास सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता है। प्रदेश में मुख्यमंत्री जन-कल्याण (संबल) योजना के तहत प्रत्येक गरीब व्यक्ति को समर्थ बनाया जायेगा। यह बात मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने टीकमगढ़ जिले के बड़ागांव (धसान) में तेंदूपत्ता संग्राहक एवं असंगठित श्रमिक सम्मेलन को संबोधित करते हुये कही।

मुख्यंमत्री ने कहा कि सरकार हर गरीब एवं श्रमिक को उसकी पहचान स्थापित करने के लिये पंजीयन प्रमाण-पत्र के रूप में स्मार्ट कार्ड देगी। स्मार्ट कार्ड में उसकी संपूर्ण जानकारी होगी। स्मार्ट कार्डधारी व्यक्ति मुख्यमंत्री जन-कल्याणकारी (संबल) योजना का लाभ लेने के लिये पात्र होगा। योजना के तहत उसे 11 प्रकार की सुविधाओं/सहायता/बैंक लिंकेज का लाभ दिया जायेगा। गरीब बच्चों की कक्षा एक से लेकर पीएचडी तक की पढ़ाई की फीस अब सरकार भरेगी। उन्होंने कहा कि गरीब महिलाओं को स्व-रोज़गार स्थापना के लिये बैंक लिंकेज दिया जायेगा। युवाओं को रोज़गार देने के लिये सरकार जल्द ही नई भर्ती करेगी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि अगले चार साल में 40 लाख गरीबों को पक्का मकान बनाकर देंगे। हर गरीब व्यक्ति को जमीन का पट्टा देकर उसका पक्का मकान बनाया जायेगा तथा उनका इलाज कराया जायेगा, मुख्यमंत्री अन्त्योदय आवास योजना के तहत हर साल 10 लाख मकान बनाकर दिये जायेंगे।

श्री चौहान ने असंगठित श्रमिकों और तेंदूपत्ता संग्राहकों को मुख्यमंत्री जन-कल्याण (संबल) योजना की जानकारी देते हुये कहा कि सभी श्रेणी के मेहनतकश मजूदर, ढाई एकड़ से कम कृषि भूमि वाले काश्तकार, छोटे व्यापारी, आयकर न देने वाले तथा जो शासकीय सेवा में नहीं हैं, ये सभी इस योजना के दायरे में आयेंगे।
इस अवसर पर केंद्रीय महिला एवं बाल विकास तथा अल्पसंख्यक कार्य राज्यमंत्री डॉ. वीरेन्द्र कुमार ने मुख्यमंत्री से टीकमगढ़ संसदीय क्षेत्र में विभिन्न श्रेणी के विकास और निर्माण कार्यों को पूरा करने की मंजूरी देने और कुछ मामलों में भारत सरकार को प्रस्ताव भेजने का अनुरोध किया।