Department of Public Relation:Government of Madhya Pradesh

जन-संवाद कार्यक्रम
शहडोल एवं मंडला में बैगा छात्रों के लिये बनेंगे कम्प्यूटर प्रशिक्षण केंद्र

डिंडौरी, मध्यप्रदेश में आगामी दो वर्षों में सभी बैगा परिवारों को पक्के मकान दिये जायेंगे। साथ ही इस वर्ष के अंत तक सभी बैगा परिवारों के घरों में बिजली पहुंचा दी जायेगी। बैगा जनजाति के विद्यार्थियों को कम्प्यूटर की शिक्षा देने के लिये शहडोल एवं मंडला में विशेष प्रशिक्षण केंद्र प्रारंभ किये जायेंगे। यह बात मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने डिंडौरी जिले के बजाग विकासखंड के बैकाचक क्षेत्र ग्राम चाडा में ‘जन-संवाद कार्यक्रम’ में कही।

मुख्यमंत्री ने कहा कि बैगा समाज के लोगों की संस्कृति, रीति-रिवाज और परम्पराओं को अक्षुण्ण बनाये रखने के लिये बैगाचक में 7 करोड़ रुपये से बैगा सांस्कृतिक केंद्र बनवाया जायेगा। बैगा समाज के ऐसे परिवार जिनके पास खेती है, किन्तु सिंचाई के संसाधन उपलब्ध नहीं हैं, उनको कुआं खोदने एवं डीजल पंप के लिये निःशुल्क आर्थिक सहायता मुहैया कराई जायेगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि बैगा समाज में कुपोषण के कलंक को मिटाने के लिये शासन द्वारा बैगा परिवार की महिलाओं के खाते में प्रतिमाह एक हजार रुपये की राशि मुहैया करवाई जा रही है।

उन्होंने कहा कि चाडा एवं अन्य स्थानों में पेयजल आवर्द्धन योजना प्रारंभ की जायेगी, जिसके माध्यम से क्षेत्र के आदिवासी परिवारों को शुद्ध पेयजल मुहैया कराया जायेगा।

  • ग्राम चाडा में 70 लाख रुपये की लागत से बनाया गया प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र।
  • मुख्यमंत्री ने ग्राम तातर में प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत बने आवासों का निरीक्षण किया।