Department of Public Relation:Government of Madhya Pradesh

कैप्सूल की मदद से इसरो बचायेगा अंतरिक्ष यात्रियों की जान

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) ने श्री हरिकोटा स्थित सतीश धवन अंतरिक्ष केन्द्र से 5 जुलाई को सुबह 7 बजे एक अंतरिक्ष यात्री बचाव प्रणाली अथवा कैप्सूल (क्द्धड्ढध्र् कद्मड़ठ्ठद्रड्ढ च्न्र्द्मद्यड्ढथ्र्) का सफल परीक्षण किया है। अंतरिक्ष यान के प्रक्षेपण के समय आयी किसी गड़बड़ियों या असफल परीक्षण के दौरान इस कैप्सूल की मदद से अंतरिक्ष यात्रियों की जान बचायी जा सकेगी। परीक्षण के असफल होने की स्थिति में क्रू इस्केप सिस्टम अंतरिक्ष यात्रियों को पैराशूट के सहारे तीव्रता से परीक्षण यान से सुरक्षित दूरी पर ले जाने की एक प्रणाली है।

  • इसमें 12.6 टन की क्षमता वाले कृत्रिम क्रू मापदण्डों सहित बचाव प्रणाली का परीक्षण किया गया।