Department of Public Relation:Government of Madhya Pradesh

‘सरल बिजली बिल’ और ‘मुख्यमंत्री बकाया बिजली बिल माफी’ योजना
गरीबों का कल्याण और न्याय होगा सुनिश्चित
मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान भोपाल में मुख्यमंत्री जन-कल्याण (संबल) योजना के तहत ‘सरल बिजली बिल योजना’ और ‘मुख्यमंत्री बकाया बिजली बिल माफी योजना’ के शुभारंभ समारोह को संबोधित करते हुये।

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि राज्य सरकार ने अपने खजाने का मुंह गरीबों की ओर मोड़ दिया है। अब प्रदेश में गरीबों को उनकी संख्या के अनुपात में बजट में हिस्सेदारी दी जायेगी। मध्यप्रदेश में गरीबों के कल्याण और न्याय की एक अनूठी और नयी क्रांति हो रही है, जिसे पूरा देश देख रहा है। श्री चौहान मुख्यमंत्री जन-कल्याण (संबल) योजना में सरल बिजली बिल योजना और मुख्यमंत्री बकाया बिजली बिल माफी योजना के राज्य स्तरीय शुभारंभ समारोह को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कार्यक्रम में हितग्राहियों को मुख्यमंत्री बकाया बिजली बिल माफी योजना के प्रमाण-पत्र भी वितरित किये।

भोपाल, मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि पूर्ववर्ती सरकार में लोगों को बिजली नहीं मिलती थी। हमने पर्याप्त बिजली की व्यवस्था की है। गरीबों को बिजली के बिल की ज्यादा बकाया राशि परेशान करती थी। इसलिये राज्य सरकार ने यह तय किया है कि जुलाई और अगस्त माह में कैम्प लगाकर गरीब श्रमिकों के बिजली के बिल माफ किये जायें और उन्हें शून्य बिजली बिल के प्रमाण-पत्र दिये जायें। इसके बाद उन्हें हर माह दो सौ रुपये फ्लैट रेट से बिजली बिल दिये जायेंगे, जिसमें चार बल्ब, दो पंखे, एक कूलर और एक टी.वी. चलाया जा सकेगा।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि स्वर्गीय पंडित दीनदयाल उपाध्याय कहते थे गरीबों की सेवा में ही परमात्मा के दर्शन होते हैं। राज्य सरकार गरीबों के लिये काम कर रही है।

संबल योजना में गरीबों को सभी सुविधायें दी जायेंगी। अगले चार साल में गरीबों के लिये प्रदेश में 40 लाख मकान बनवाये जायेंगे और कोई गरीब बिना मकान के नहीं रहेगा।

संबल योजना में गरीबों के बेटे-बेटियों की फीस राज्य सरकार भरवाएगी। श्रमिक बहनों को प्रसूति सहायता के रूप में बच्चे के जन्म के पहले 4000 और प्रसव के बाद 12,000 रुपये दिये जायेंगे। गरीब मजदूरों के निःशुल्क इलाज की व्यवस्था होगी। मजदूर परिवार में 60 वर्ष से कम उम्र के सदस्य की मृत्यु पर दो लाख, दुर्घटना में मृत्यु होने पर चार लाख और अंत्येष्टि के लिये पाँच हजार रुपये सहायता के रूप में दिये जायेंगे। उन्होंने कहा कि संबल योजना में यदि किसी गरीब मजदूर का पंजीयन छूट गया है, तो वह तुरंत करायें।

‘मुख्यमंत्री बकाया बिजली
बिल माफी’ योजना

मुख्यमंत्री जन-कल्याण (संबल) योजना में पंजीकृत श्रमिक एवं बीपीएल उपभोक्ता मुख्यमंत्री बकाया बिजली बिल योजना में पात्र होंगे। इस स्कीम में जून 2018 की स्थिति में पूर्ण मूल बकाया एवं सरचार्ज राशि की माफी होगी।

श्री चौहान ने प्रतीक स्वरूप कुछ हितग्राहियों को शून्य बिजली बिल के प्रमाण-पत्र और उज्ज्वला योजना के हितग्राहियों को निःशुल्क घरेलू गैस कनेक्शन के लाभ वितरित किये।

  • जिनके पास बिजली कनेक्शन नहीं हैं उन्हें निःशुल्क बिजली कनेक्शन प्रदान किये जायेंगे।
  • गरीबों की संख्या के अनुपात में तय होगा बजट।
  • बिजली चोरी के प्रकरण वापस लिये जायेंगे।
  • 5000 करोड़ रुपये से ज्यादा बिजली बिल माफ होंगे।
  • चार साल में गरीबों के लिये 40 लाख मकान बनाये जायेंगे।
  • शून्य बिजली बिल योजना में लाभांवित होंगे 81 लाख परिवार।