Department of Public Relation:Government of Madhya Pradesh
social media accounts

स्वच्छ गंगा अभियान
ब्रिटिश मूल के भारतीय उद्योगपतियों के साथ मिलकर मुहिम चलायेगी सरकार

केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग, जहाजरानी और जल संसाधन एवं नदी विकास मंत्री नितिन गडकरी ने ब्रिटेन की कंपनियों से स्वच्छ गंगा अभियान में हिस्सा लेने का आह्वान किया है। गडकरी ने कहा कि वह इस दौरे में नदी पुनरुद्धार से जुड़े ब्रिटेन के मंत्रियों और अधिकारियों के साथ बैठकें करने वाले हैं। उन्होंने इंडियन जर्नलिस्ट्स एसोसिएशन के एक समूह को संबोधित करते हुए कहा कि हमारे पास गंगा सफाई से जुड़ी परियोजना के लिये काफी अच्छी योजना है, जिसके तहत 15 साल के रख-रखाव के आधार पर परियोजनायें दी जा रही हैं।
इनमें पौधारोपण परियोजना से लेकर प्रदूषण रोधी उपाय शामिल हैं। उन्होंने कहा, ‘हमारे पास गंगा एवं उसकी 20 नदियों के लिये विशिष्ट प्रौद्योगिकी के इस्तेमाल के साथ काफी अच्छी योजना है। हमारा विचार गंगा के साथ भावनात्मक जुड़ाव वाली विभिन्न कंपनियों को जिम्मेदारियां देना हैं।’

साथ ही उन्होंने कहा कि ‘नमामि गंगे’ से जुड़ी 95 परियोजनाओं में से 25 पर काम शुरू हो चुका है। इसके अलावा कर्नाटक और तमिलनाडु में पानी की कमी का संकट दूर करने को लेकर गोदावरी नदी का अतिरिक्त पानी इस्तेमाल में लाने के लिये नदी जोड़ने की महत्वाकांक्षी परियोजना पर भी काम
जारी है।

हरिद्वार, कानपुर, पटना और कोलकाता शहर में गंगा के तटों पर सुधार और घाटों के निर्माण की जिम्मेदारी भारतीय मूल के उद्योगपतियों ने ली है।
श्री गड़करी ने कहा कि इन उद्योगपतियों ने इस अभियान के लिये 500 करोड़ रुपये के सहयोग की प्रतिबद्धता जताई है।