Department of Public Relation:Government of Madhya Pradesh
social media accounts

एशियाई मैराथन चैम्पियनशिप
स्वर्ण पदक जीतने वाले पहले भारतीय पुरूष धावक बने गोपी
दो घंटे 15 मिनट और 48 सेकेंड में पूरी की रेस

डोंगगुआन, भारतीय मैराथन धावक गोपी थोनाकल ने एशियाई मैराथन चैम्पियनशिप में स्वर्ण पदक जीतकर इतिहास रच दिया है। यह कारनामा करने वाले वे पहले भारतीय पुरुष एथलीट हैं। चीन के डोंगगुआन में आयोजित इस चैम्पियनशिप में गोपी ने दो घंटे 15 मिनट और 48 सेकेंड में रेस पूरी कर स्वर्ण पदक अपने नाम किया।

प्रतियोगिता में उज्बेकिस्तान के आंद्रे पेत्रोव ने दो घंटे 15 मिनट और 51 सेकेंड में रजत पदक, वहीं मंगोलिया के ब्यमबालेव सीवेन रावदान ने दो घंटे 16 मिनट और 14 सेकेंड का समय निकालकर कांस्य पदक जीता। गोपी से पहले भारत दो बार एशियाई मैराथन में महिला वर्ग में चैम्पियन बन चुका है। भारत के लिए आशा अग्रवाल ने वर्ष 1985 में और सुनीता गोदारा ने वर्ष 1992 में यह खिताब जीता था।