Department of Public Relation:Government of Madhya Pradesh
social media accounts

 
युवाओं को रोजगार और कौशल सम्पन्न बनाने के लिए चलेगा अभियान
लोक सेवा को मिशन बनाकर सरकार ने काम किया - मुख्यमंत्री

भोपाल, पिछले बारह वर्षों में राज्य सरकार ने लोक सेवा को मिशन बनाकर काम किया है। इस दौरान लोगों से रिश्ता मजबूत हुआ है, वहीं जनता का भरपूर स्नेह और सहयोग भी मिला है। राज्य सरकार का फोकस अब रोज़गार सृजन और कौशल विकास पर है। हर साल साढ़े सात लाख युवाओं को रोज़गार देने का लक्ष्य रखा गया है। इसके लिए अभियान चलाया जायेगा। यह बात मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने भोपाल में अपने मुख्यमंत्रित्व कार्यकाल के बारह वर्ष पूरे होने पर मीडिया से चर्चा करते हुए कही।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि आजादी के समय से लेकर वर्ष 2003 तक कुल साढ़े सात लाख हेक्टेयर में सिंचाई होती थी। इन बारह सालों में अब चालीस लाख हेक्टेयर में सिंचाई हो रही है और हर साल सिंचाई क्षेत्र में पांच लाख हेक्टेयर की बढ़ोत्तरी हो रही है। उन्होंने कहा कि इन वर्षों में विकास के कई आयाम स्थापित हुए हैं और कई ऐतिहसिक काम हुए हैं। श्री चौहान ने कहा कि लोगों की पसंद, सहयोग और सुझावों से कल्याणकारी योजनाओं को लागू करना एक नई पहल रही है। उन्होंने मुख्यमंत्री मेधावी विद्यार्थी प्रोत्साहन योजना का ज़िक्र करते हुए कहा कि विद्यार्थियों के सुझाव पर ही योजना बनाई गई है, ताकि पैसे के अभाव में कोई भी प्रतिभाशाली विद्यार्थी पढ़ाई में पीछे न रहे। मुख्यमंत्री ने कृषक उद्यमी योजना की चर्चा करते हुए कहा कि किसानों की आजीविका में खेती से जुड़े अन्य कार्य भी शामिल होने चाहिये।

क्या है कृषक उद्यमी योजना

मध्यप्रदेश में किसानों के बच्चों को उद्यमशीलता से जोड़ने के लिये ‘कृषक उद्यमी योजना’ चलाई गई है। इस योजना के तहत राज्य सरकार किसानों के बच्चों को 10 लाख से दो करोड़ रुपये तक का ऋण उपलब्ध करायेगी।