Department of Public Relation:Government of Madhya Pradesh
मध्यप्रदेश सन्देश जून 2009
पिछले अंक
 
  इस अंक मे
 
मध्यप्रदेश सन्देश
मध्यप्रदेश शासन का
मासिक प्रकाशन

अंक 6: वर्ष 105
जून 2009
शक 1931 ज्येष्ठा-आषाढ़


प्रकाशक
मनोज श्रीवास्तव
आयुक्त, जनसम्पर्क

सम्पादक
जी.एल. सोनाने

सहयोगी सम्पादक
रोहित मेहता
ध्रुव शुक्ल

कला
अनंत चालीसगाँवकर

सम्पर्क
जनसम्पर्क संचालनालय
जनसम्पर्क भवन
बाणगंगा, भोपाल
टेलीफोन-2552839, 2555562

मध्यप्रदेश संदेश वेबसाइट
www.mpinfo.org

ई-मेल
editorsandesh@mpinfo.org

पर उपलब्ध

मनीआर्डर द्वारा 10 रुपये
वार्षिक शुल्क 100 रुपये
(केवल मनीआर्डर द्वारा)

गौरव एवं शौर्य की
प्रतीक वीरांगना दुर्गावती
ग्वालियर किले के मंदिर
शैलोत्कीर्ण प्रतिमाएँ और चैत्य गुफाएँ
अनुसूचित जाति के बच्चों
की कामयाबी की नई मिसाल

इस अंक में

प्राचीन लेकिन कारगर जल स्त्रोतों की कलात्मक परम्परा

जल प्रेम का इतिहास बताती हैं बावड़ियाँ

विश्व प्रसिद्ध जल संग्रहण और वितरण प्रणाली कुण्डी भंडारा

पूर्वजों की यश गाथा के जीवंत दस्तावेज

ढाई सौ साल पुरानी बावड़ी करती है आज भी जल की आपूर्ति

वास्तुकला की बेजोड़ मिसाल बावड़ियाँ

कचहरी के कुएँ के पानी से ठीक होती थी अल्सर की बीमारी

प्यास बुझा रहे हैं बीते जमाने के कुएँ-बावड़ी

कुएँ, बावड़ियाँ एवं कुण्ड निर्माण करना हमारी प्राचीन परम्परा

परम्परागत जलस्त्रोत बुझा रहे हैं रामपुरा की प्यास

रतलाम की प्यास बुझाता सरोवर

चार कुंडों और चार तलैयों के शहर में चौबीसों घंटे मिलेगा पानी

सात दशक से प्यास बुझा रहा एक तालाब

बाग उमराव दूल्हा की बावड़ी

हिन्दी के प्रथम व्यंग्य पुरूष - हरिशंकर परसाई (स्मरण)

गौरव एवं शौर्य की प्रतीक वीरांगना दुर्गावती

ग्वालियर किले के मंदिर शैलोत्कीर्ण प्रतिमाएँ और चैत्य गुफाएँ

कुकर्रामठ ऋण मुक्तेश्वर मंदिर

प्रदेश में पर्यटकों के लिए हैं सभी रंग (24 मई राज्य पर्यटन दिवस)

अनुसूचित जाति के बच्चों की कामयाबी की नई मिसाल

पूरे प्रदेश में अव्वल आए हवलदार पुत्र का सम्मान

इक्कीस ही है प्रदेश पुलिस का अश्वारोही दल

प्रतिभाओं के निखार को मिलेगी सकारात्मक दिशा

समर-कोचिंग कैम्प में 279 बच्चों को खेल प्रशिक्षण

परिंदों के रंगारंग संसार से रूबरू होते हुए

समीक्षा और आलोचना से अधिक कठिन है अनुशीलन

मंत्रिपरिषद के निर्णय

अनुरोध
 
प्रथम और चतुर्थ आवरण के छायाचित्र : शिवपुरी जिले के ग्राम रन्नौद की बावड़ियाँ
छायाकार : प्रहलाद कुमार

मध्यप्रदेश संदेश में व्यक्त विचार लेख कों के अपने हैं, कोई जरूरी नहीं कि शासन उनसे सहमत हो।