Department of Public Relation:Government of Madhya Pradesh
 

चुनाव आयोग के निर्देश पर उसके द्वारा तैनात किए गए सभी प्रेक्षक अपने-अपने जिलों में राजनैतिक दलों, उम्मीदवारों, जिला निर्वाचन अधिकारियों और रिटर्निंग अफसरों के साथ 11 नवंबर को बैठक करेंगे। यदि जरूरी हुआ तो ये प्रेक्षक इस मौके पर हर उम्मीदवार से अलग-अलग चर्चा भी करेंगे। उम्मीदवारों द्वारा व्यक्त किसी विशेष चिंता के बिन्दुओं पर इन प्रेक्षकों की राय के बाद इसे क्रिटिकल मतदान केन्द्रों की पहचान वाले पत्रक में दर्ज किय जाएगा। यदि वे कोई मतदान केन्द्र बताते हैं तो उसका तत्काल परीक्षण भी किया जाएगा। कलेक्टरों को इन बैठकों के लिए निर्देश दिए गए हैं।

योगेश शर्मा