social media accounts







सक्सेस स्टोरीज

वंश के बोल पर मिली तालियों की गड़गड़ाहट

भोपाल : मंगलवार, फरवरी 20, 2018, 15:09 IST

नन्हा-मुन्हा बालक वंश बेहिचक गिनती सुनाए जा रहा था, तब राष्ट्रपति श्री रामनाथ कोविंद सहित अन्य अतिथि तालियाँ बजाकर उसे शाबाशी दे रहे थे। यूँ तो छ: वर्षीय बच्चे के लिये गिनती सुना देना साधारण सी बात है। मगर वंश जन्म से ही बोलने और सुनने में असमर्थ था। अब वह कान में “मुख्यमंत्री बाल श्रवण योजना” से कोक्लियर इम्प्लांट लगाकर फर्राटे से हिंदी और अंग्रेजी वर्णमाला और गिनती सुनाने लगा है।

ग्वालियर निवासी दिहाड़ी श्रमिक अरविंद योगी के घर लगभग 6 वर्ष पूर्व जन्मे वंश को लगभग दो साल की उम्र का होने पर भी बोलने-सुनने में बहुत परेशानी हो रही थी। पिता अरविंद सहित पूरे परिवार की चिंता बढ़ गई। वे कहते हैं कि जहाँ भी लोगों ने बताया, वहाँ वंश को लेकर मन्नतें करने गये, लेकिन उसके मुँह से बोल नहीं फूटे। चार साल की उम्र में डॉक्टर को फिर दिखाया तो पता चला कि यदि वंश के कान में कोक्लियर इम्प्लांट लग जाए तो वह बोल और सुन सकेगा। मगर इस पर लगभग 7 लाख रूपये का खर्चा आएगा। अरविंद बताते हैं कि इतना खर्चा सुनकर हमारे तो पैरों तले की जमीन ही खिसक गई। ऐसे विपरीत हालातों में मध्यप्रदेश सरकार द्वारा संचालित “मुख्यमंत्री बाल श्रवण योजना” हमारे परिवार के लिए वरदान बन गई।

सरकार ने इस योजना से 6 लाख रूपये से अधिक राशि खर्च कर भोपाल के दिव्या ईएनटी हॉस्पिटल में वंश के कान में कोक्लियर इम्प्लांट लगवाया और सरकारी खर्च पर स्पीच थैरेपी भी करवाई। अब सरकार के प्रति कृतज्ञता जताते हुए अरविंद दम्पत्ति नहीं थकते। उनका कहना है कि सरकार ने हमें दोहरी खुशियाँ दी हैं। पहले हमें एफोर्डेबल हाउसिंग योजना के तहत सिंधिया नगर में पक्का घर दिया और अब जन्म से ही बोलने-सुनने में असमर्थ हमारे बेटे के कान में कोक्लियर इम्प्लांट लगवाया।

ग्वालियर में दिव्यांग एवं वृद्धजन के सहायतार्थ आयोजित मेगा शिविर में वंश एवं उसके पिता अरविंद सरकार को धन्यवाद देने आए थे। वंश ने इस अवसर पर राष्ट्रपति श्री रामनाथ कोविंद सहित अन्य अतिथियों को गिनती सुनाई, तो अतिथियों ने तालियाँ बजाकर और पीठ थपथपाकर वंश का उत्साहवर्धन किया।

 सक्सेस स्टोरी (ग्वालियर)


दुर्गेश रायकवार
जिसका कोई नहीं, उसकी सरकार है न......
बेरोजगार सुरेन्द्र बन गया लखपति काश्तकार
प्रधानमंत्री आवास योजना से राजेश को भी मिला है पक्का मकान
बच्ची के चौंकने से रोये नाना-नानी, बजीं तालियाँ
कृषि उत्पादन बढ़ाने में सहायक सिद्ध हुए सोलर पम्प
पशु प्रजनन कार्यक्रम से बढ़ रहा है दुग्ध उत्पादन
सफेद मूसली की खेती से लखपति हुए कैलाशचन्द्र
आजीविका मिशन से जरूरतमंदों को मिला संबल
प्रधानमंत्री ग्राम सड़क से आसान हुआ नर्मदा स्नान
अबकी बरसात नहीं टपकेगा मंजू का घर
वृद्धा शगुना बाई को घर पर मिली अंत्येष्टि और अनुग्रह सहायता राशि
सीताफल और मुनगा ने राजकुमार और रामकृष्ण को बनाया प्रगतिशील किसान
मशरूम की खेती और मधुमक्खी पालन से उन्नतशील कृषक बने लक्ष्मणदास
पक्का मकान मिलने से नायजा और मीना को मिला सम्मान
रोजगार मेले में युवाओं की रोजगार पाने की हसरत हुई पूरी
मुख्यमंत्री बाल श्रवण योजना से मासूम महक को मिली बोलने-सुनने की शक्ति
मुख्यमंत्री बाल हृदय योजना से श्रमिक की बेटी को मिली नई जिन्दगी
मुख्यमंत्री कृषक समृद्धि योजना से गदगद हैं किसान
बेटी बाई के खेत में समय पर पर्याप्त पानी दे रहा है सोलर पम्प
रोजगार मेला में नौकरी पाकर खिले युवाओं के चेहरे
शालिनी को अब नहीं है नौकरी की दरकार
काव्या को मुख्यमंत्री बाल हृदय उपचार योजना से मिली दिल की धड़कन
बैक्टिरिया और फंगस से बनी किफायती खाद से पौधे बनेंगे स्मार्ट और इंटेलिजेन्ट
गिरीजा और मीना बनी पशुपतिनाथ मंदिर की पहरेदार
लेप्रोस्कोपिक हार्ट सर्जरी के बाद स्वस्थ है दीपशिखा
जरूरतमंदों की पक्की छत का सपना पूरा कर रही प्रधानमंत्री आवास योजना
प्रधानमंत्री योजना में मिले घर से होगी रामबाई की बेटी की शादी
विदेश अध्ययन से प्राप्त ज्ञान का वायरस रहित मिर्च उत्पादन में भरपूर उपयोग कर रहे हैं महेंद्र
रामकन्या और प्रेम भैरव को मिला सपनों का घर
सौभाग्य योजना से काजल का घर हुआ रौशन
1 2 3 4 5 6 7 8 9 10 ...