| اردو خبریں | संस्कृत समाचारः मुख्य पृष्ठ | हिन्दी | English | संपर्क करें | साइट मेप
You Tube
पिछला पृष्ठ

Download Kruti News Download Chanakya News
"नमामि देवि नर्मदे''-सेवा यात्रा

नर्मदा तट के दोनों ओर जितने सघन वन लगेंगे प्रवाह उतना ही अविरल होगा

मुख्यमंत्री श्री चौहान ग्राम सुडानिया के जन-संवाद कार्यक्रम में

भोपाल : रविवार, मार्च 26, 2017, 22:11 IST
 

नर्मदा की अविरल धारा सघन वनों पर निर्भर नर्मदा तट के दोनों किनारों पर जितने सघन वन होंगे, उतना ही तेज प्रवाह नर्मदा का रहेगा। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने यह बात सुडानिया में जन-संवाद कार्यक्रम में कही। उन्होंने कहा अंधाधुंध वनों के दोहन के कारण प्रदेश की तवा और बेतवा जैसी नदियाँ सूख गयी हैं। इन नदियों में केवल वर्षा ऋतु में ही पानी दिखाई देता है। नर्मदा के साथ इन नदियों के संरक्षण का काम भी शुरू किया जायेगा। उन्होंने कहा कि वर्षा भले ही अच्छी हो, लेकिन वर्षा जल को सहेज कर रखने के प्रयास करने होंगे। लोगों को जल साक्षरता के लिये प्रेरित करना होगा जल और जल की स्वच्छता तभी संभव है जब हमारे मन में जल के प्रति प्रेम और सम्मान का भाव पैदा होगा।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा हमने जल सुरक्षा के लिए हमारे पूर्वजों द्वारा किये गये प्रयासों पर पानी फेर दिया है। तालाब और कुँओं को पाट दिया है। तात्कालिक स्वार्थों के कारण पृथ्वी पर उपलब्ध संसाधनों का दोहन किया। हमारी नदियाँ सूख रही हैं। उन्होंने कहा कि राजधर्म का उद्देश्य तात्कालिक समस्या हल करने के साथ गम्भीर समस्याओं को हल करना भी है। आमजनों की सहभागिता भी जरूरी है। कार्यक्रम में विधानसभा अध्यक्ष श्री सीतासरन शर्मा, लोक निर्माण मंत्री श्री रामपाल सिंह, संत कमल किशोर महाराज, फिल्म अभिनेता श्री विवेक ओबेराय भी उपस्थित थे।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि कन्याएँ अक्षय उर्जा का भंडार है। बेटियाँ देवी हैं, उनका यथोचित सम्मान किया जाना चाहिए। बेटी नही होगी तो सृष्टि भी नहीं बचेगी। बेटी बचाओं-बेटी पढ़ाओं की बात करते हुए श्री चौहान ने कहा कि सरकारी नौकरी में महिलाओं को प्राथमिकता देने के साथ ही शिक्षक की भर्ती में 50 प्रतिशत और पुलिस में 33 प्रतिशत भर्ती महिलाओं की होगी। श्री चौहान ने कहा कि 12वीं की परीक्षा में 75 प्रतिशत से अधिक अंक लाने वाले विद्यार्थियों की उच्च पढ़ाई की फीस सरकार भरेगी। मुख्यमंत्री ने उपस्थित नागरिकों को नर्मदा संरक्षण के प्रति जागरूकता लाने का संकल्प दिलवाया। मुख्यमंत्री ने नर्मदा कलश, ध्वज एवं कन्याओं का पूजन किया। मध्यप्रदेश में बेटी बचाओ, साक्षरता और नशा-मुक्ति को भी नर्मदा सेवा यात्रा से जोड़ा गया है। प्रदेश में 1 अप्रैल से नदी तट के 5-5 किलोमीटर दूर तक की शराब की दुकानें बंद की जायेंगी।

पुष्कर से आये कापरी महाराज ने मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा किये जा रहे नर्मदा संरक्षण अभियान को आशीर्वाद दिया। अभिनेता विवेक ओबेराय ने कहा कि नर्मदा यात्रा के प्रयासों को देश के अन्य राज्यों में भी अपनाया जाना चाहिए।

पारम्परिक अंदाज में हुआ यात्रा का स्वागत

नर्मदा सेवा यात्रा के आज शाम सुडानिया पहुँचने पर महिलाओं ने पारम्परिक परिधानों में सिर पर कलश रखकर यात्रा की अगवानी की। यात्रा में भोपाल और सीहोर जिले की उप-यात्राएँ भी शामिल हुई।

मन की नहीं श्रद्धा की बात है

'नमामि देवि नर्मदे''-सेवा यात्रा में शामिल होने पहुँची महिलाओं ने दोपहर बाद पवित्र सलिला नर्मदा में स्नान किया। महिलाओं के समूह ने सुडानिया घाट पर पर्व का वातावरण बना दिया। उनका कहना था कि माँ नर्मदा के पवित्र जल में स्नान करने के लिए किसी समय विषेष का महत्व नहीं है।

 
विभागीय समाचार

नवीनतम समाचार 

मुख्यमंत्री श्री चौहान द्वारा शासकीय विद्यालयों को एलसीडी मय सोलर पेनल वितरण का शुभारंभ
भौतिक विकास के साथ पर्यावरण संरक्षण भी जरूरी : मुख्यमंत्री श्री चौहान
नर्मदा सेवा यात्रा जैसा नदी बचाने का अभियान पूरे देश में चलाने प्रधानमंत्री से चर्चा की जायेगी -सदगुरू जग्गी वासुदेव
मुख्यमंत्री श्री चौहान द्वारा श्री सदगुरु जग्गी वासुदेव महाराज का स्वागत
नदी संरक्षण का विश्व में सबसे बडा अभियान है नर्मदा सेवा यात्रा : मुख्यमंत्री श्री चौहान
नदी को स्वच्छ बनाने का उदाहरण बनेगी नर्मदा सेवा यात्रा
मुख्यमंत्री श्री चौहान को लेखकों ने पुस्तकें भेंट की
प्रोजेरिया बीमारी के इलाज का पूरा खर्च उठायेगी सरकार
पोषण आहार व्यवस्था में सुधार के समन्वित प्रयास करें : मुख्यमंत्री श्री चौहान
रियल स्टेट व्यवसायियों की होगी पंचायत
नर्मदा ने हमें सब कुछ दिया, हम भी नर्मदा को प्रदूषणमुक्त बनाने का संकल्प लें
90 वर्षीय भूरियाबाई की आँखों की जाँच कराकर दिलाये अच्छा चश्मा
निवेश के माध्यम से रोजगार बढ़ाने के प्रयास
रोजगार की संभावनाओं को खोजने होगा वैश्विक समिट
नर्मदा नदी में जलकुंभी के फैलाव को रोकने के स्थायी उपाय करें
दो जुलाई को नर्मदा किनारे 10 करोड़ पौधे रोपे जायेंगे
स्वर्गीय श्री गुरूचरण सिंह का जीवन प्रेरणादायी -मुख्यमंत्री श्री चौहान
विश्व जल दिवस और नमामि देवि नर्मदे सेवा यात्रा का महत्व - शिवराजसिंह चौहान
नर्मदा तट पर 2 जुलाई को एक साथ रोपे जायेंगे लाखों पौधे
मुख्यमंत्री श्री चौहान से आज अमेरिका से लौटी श्रीमती रेखा पंदराम ने की भेंट