| اردو خبریں | संस्कृत समाचारः मुख्य पृष्ठ | हिन्दी | English | संपर्क करें | साइट मेप
You Tube
पिछला पृष्ठ

"नमामि देवि नर्मदे''-सेवा यात्रा

यात्रा नर्मदा नदी के प्रति कर्त्तव्य बोध की यात्रा

नर्मदा को सतत् प्रवाहमान रखने के लिए वर्षा ऋतु में 12 करोड़ पौधे लगाये जायेंगे मुख्यमंत्री श्री चौहान ने मोबाईल फोन के माध्यम से जन-संवाद को किया संबोधित 

भोपाल : शनिवार, मई 6, 2017, 14:16 IST

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि आगामी वर्षा ऋतु के दौरान नर्मदा नदी के दोनों तटों से 2-2 किलोमीटर की दूरी तक 12 करोड़ फलदार और घनी छाया की प्रजातियों वाले पौधे लगाये जायेंगे। इससे पौधों द्वारा अवशोषित जल से धीरे-धीरे नर्मदा के मुख्य प्रवाह को निरन्तर पानी मिलता होगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान आज अनूपपुर जिले के खाल्हे दूधी में जन-संवाद को मोबाईल फोन से संबोधित कर रहे थे। वायुयान में तकनीकी खराबी आ जाने से मुख्यमंत्री श्री चौहान व्यक्तिगत रूप से जन-संवाद में उपस्थित नहीं हो सके। श्री चौहान ने कहा कि शीघ्र ही मैं खाल्हे दूधी के शेष घाट स्थित आश्रम में स्वामी नर्मदा दास जी से आशीर्वाद लूँगा।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि मॉ नर्मदा को नुकसान पहुँचाने वाले सभी कार्यों पर प्रतिबंध लगाया जायेगा और क्षति पहुँचाने वाले को दण्डित भी किया जायेगा। उन्होंने कहा कि नर्मदा सेवा यात्रा ने पूरे विश्व में नदी संरक्षण के आन्दोलन के रूप में अपनी पहचान बनायी है। मुख्यमंत्री श्री चौहान कहा कि नर्मदा को जीवित इकाई का दर्जा इसलिए दिया गया है कि माँ के प्रति बेटा-बेटी का भी कर्त्तव्य होता है। नर्मदा जीवन-दायिनी है, इस कारण उसकी रक्षा के लिए हमारा भी कुछ कर्त्तव्य है। हम आज है कल नहीं रहेंगे, पर अगर माँ नर्मदा का प्रवाह अवरूद्ध होता है तो हमारी आने वाली पीढ़ियाँ भी क्षमा नहीं करेगी। नर्मदा यात्रा नर्मदा नदी के संरक्षण के प्रति कर्त्तव्य बोध यात्रा है। यह पर्यावरण जन-जागरूकता की यात्रा है। उन्होंने कहा कि नर्मदा के साथ प्रदेश की अन्य नदियों का संरक्षण भी किया जायेगा।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि नर्मदा तट के दोनों तरफ 5 किलोमीटर तक शराब की बिक्री पिछले 1 अप्रैल से बंद कर दी गई। लोगों को नशा मुक्ति के लिए प्रेरित करने के लिये प्रदेश-व्यापी अभियान चलाया जायेगा, जिससे व्यक्ति और समाज की जड़ों को खोखला करने वाली इस समाजिक बुराई को लोग स्वयं ही छोड़ दे।

खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री श्री ओमप्रकाश धुर्वे ने कहा कि मॉ नर्मदा हम सब को अपने पानी के माध्यम से सिंचाई, बिजली तथा पेयजल उपलब्ध करवाकर जीवन दे रही है। इस आशीर्वाद से हम सब के जीवन-स्तर में सुधार आया है। हम सबका भी दायित्व है कि हम माँ नर्मदा के कल-कल, छल-छल अविरल प्रवाह को बनाये रखने के लिये नदी की स्वच्छता, वृक्षारोपण जैसे काम जन-सहयोग से सम्पादित करें। उन्होंने मुख्यमंत्री को धन्यवाद ज्ञापित करते हुए उपस्थित जन-समूह से उनके इस महा अभियान में सहभागी बनने की अपील की। श्री धुर्वे ने बताया कि 15 मई को प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के मुख्य आतिथ्य में अमरकंटक यात्रा की पूर्णता होगी।

इस अवसर पर कन्या-पूजन, संत-पूजन एवं सम्मान तथा मॉं नर्मदा आरती के कार्यक्रम हुए। कार्यक्रम में आश्रम के प्रमुख संत श्री नर्मदा दास सहित बड़ी संख्या में संतगण, जन-अभियान परिषद के प्रदेश उपाध्यक्ष श्री प्रदीप पाण्डेय, यात्रा के समन्वयक डॉ. जितेन्द्र जामदार, पिछड़ा वर्ग आयोग के अध्यक्ष श्री प्रदीप पटेल, विधायक श्री रामलाल रौतेल, श्री जयसिंह मरावी, श्री फुन्देलाल सिंह, श्रीमती प्रमिला सिंह, जिला पंचायत अध्यक्ष अनूपपुर श्रीमती रूपमती सिंह, जिला पंचायत अध्यक्ष डिण्डौरी श्रीमती ज्योति प्रकाश धुर्वे उपस्थित थे।

Youtube
 
समाचारो की सूची