| اردو خبریں | संस्कृत समाचारः मुख्य पृष्ठ | हिन्दी | English | संपर्क करें | साइट मेप
You Tube
पिछला पृष्ठ

"नमामि देवि नर्मदे''-सेवा यात्रा

नर्मदा तट का रहवासी होना सौभाग्य की बात

डिण्डौरी के लुकामपुर के जन-संवाद में मंत्री श्री ओमप्रकाश धुर्वे 

भोपाल : गुरूवार, मई 4, 2017, 14:21 IST

खाद्य-नागरिक आपूर्ति मंत्री श्री ओमप्रकाश धुर्वे ने कहा है कि नर्मदा नदी के तट का रहवासी होना सौभाग्य की बात है। श्री धुर्वे आज डिण्डौरी जिले के लुकामपुर में 'नमामि देवि नर्मदे''-सेवा यात्रा के पहुँचने के बाद हुए जन-संवाद को संबोधित कर रहे थे। जिला पंचायत की अध्यक्ष श्रीमती ज्योति प्रकाश धुर्वे और अन्य जन-प्रतिनिधि मौजूद थे।

श्री ओमप्रकाश धुर्वे ने बताया कि विश्व में नर्मदा ही ऐसी नदी है, जिसकी परिक्रमा की जाती है। आदि गुरु शंकराचार्य की तपोभूमि नर्मदा नदी का तट ही रहा है। इसीलिये इसका महत्व और बढ़ जाता है। उन्होंने नागरिकों से कहा कि नर्मदा के जल में कमी होना चिंता का विषय है। नर्मदा नदी को जीवित रखने के लिये उसके जल-स्रोत को बढ़ाना होगा। नदी के जल का उपयोग तो किया जाये, लेकिन उसमें गंदगी अथवा प्रदूषण न होने दें। श्री धुर्वे ने कहा कि हमें जल के महत्व को स्वीकार कर उसके संरक्षण का संकल्प लेना चाहिये।

श्री धुर्वे ने बताया कि राज्य सरकार अब सतही जल योजनाओं पर विशेष ध्यान दे रही है। घर-घर जल पहुँचाने के लिये नल-जल योजना शुरू की गयी है। डिण्डौरी के 160 ग्राम के लिये योजना तैयार की गयी है। आगामी 4-5 साल में जिले के सभी गाँव नल-जल योजना से जुड़ेंगे। श्री धुर्वे ने नर्मदा नदी के संरक्षण और संवर्धन को लेकर नागरिकों से सुझाव भी लिये। श्री धुर्वे और आदिवासी वित्त विकास निगम के अध्यक्ष श्री शिवराज शाह और अन्य अतिथियों ने माँ नर्मदा की आरती की तथा नागरिकों को नदी को स्वच्छ रखने, वृक्षारोपण, नशामुक्ति का संकल्प दिलाया। उन्होंने कन्याओं का पूजन भी किया।

इसके पहले नर्मदा यात्रा के हिनौता मुड़की और विचारपुर पहुँचने पर ग्रामवासियों ने नर्मदा कलश व ध्वज का पूजन कर नर्मदा सेवा-यात्रात्रियों का स्वागत किया गया। ग्रामों की प्रवेश सीमा पर तोरण द्वार बनाये गये थे। पुष्प-वर्षा और हर-हर नर्मदे के घोष के साथ यात्रा की अगवानी की गई।

ग्राम देवरा पहुँचने पर शासकीय माध्यमिक शाला के प्रांगण में जन-संवाद को आदिवासी वित विकास निगम के अध्यक्ष डॉ. शिवराज शाह ने सम्बोधित किया। उन्होंने कहा कि नर्मदा नदी में जल की अविरल धारा बरकरार रखने में जन-सहयोग महत्वपूर्ण है। श्री शाह ने ग्रामीणों को नर्मदा को प्रदूषणमुक्त रखने, वृक्षारोपण और नशामुक्ति का संकल्प भी दिलवाया। कार्यक्रम में साध्वी प्रज्ञा भारती, सरपंच श्री रंजीत कटारे और ग्रामवासी मौजूद थे। जन-संवाद के बाद विद्यार्थियों द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किये गये। ग्राम देवरा के आयोजन की तैयारियों में युवा सर्वश्री कमलेश राव, राकेश सोनी, प्रवीण वर्मा, विमल बर्मन, कनछेदी आदि का सराहनीय योगदान रहा, जिन्होंने जन-सहयोग से धनराशि एकत्रित कर भोजन, पंडाल आदि की व्यवस्थाएँ की।

Youtube
 
समाचारो की सूची