| اردو خبریں | संस्कृत समाचारः मुख्य पृष्ठ | हिन्दी | English | संपर्क करें | साइट मेप
You Tube
पिछला पृष्ठ

"नमामि देवि नर्मदे सेवा यात्रा

इम्पेक्ट - नर्मदा सेवा यात्रा

नर्मदा माई - कब तक करेगी बच्चों की साफ-सफाई 

भोपाल : मंगलवार, मई 2, 2017, 14:13 IST

नर्मदा सेवा यात्रा में नदी की स्वच्छता और जल-संवर्धन के लिये हो रहे जन-संवाद से लोगों में अपने व्यवहार के प्रति आत्म-चिंतन आरंभ हुआ है। खासतौर पर विद्यार्थी और युवा वर्ग इस बारे में मुखर हो रहा है। वे जन-प्रतिनिधियों तथा अधिकारियों से अपने क्षेत्र में साफ-सफाई की व्यवस्था के लिये माँग भी कर रहे हैं।

डिण्डोरी के विक्रमपुर में जन-संवाद में मौजूद कक्षा-आठ की छात्रा अर्पिता प्रजापति और मोनिका प्रजापति का कहना था कि नर्मदा नदी हमारी माँ समान है। यह सही है कि बच्चों की साफ-सफाई माँ की जिम्मेदारी है। पर लोग तो समझदार हो ही नहीं रहे। खुद की साफ-सफाई हो या बैल, भैंस की या फिर घर-गाड़ी की, बड़े, बूढ़े, सयाने सभी लोग पूरी गंदगी नर्मदाजी के हवाले कर देते हैं।

जन-संवाद में शामिल छात्र-छात्राओं ने कहा कि इस स्थिति में सुधार और उनकी गरिमा की रक्षा के लिये सबको मिलकर काम करना होगा। अपनी आदतें सुधारनी होंगी। बातचीत के इस क्रम में अर्पिता और मोनिका ने अपने मोहल्ले में शौचालय बनवाने और नाली के पानी की निकासी ठीक करवाने की माँग, खाद्य मंत्री श्री ओमप्रकाश धुर्वे से की। श्री धुर्वे ने कहा कि वे स्वयं विक्रमपुर आकर व्यवस्था ठीक करवाना सुनिश्चित करेंगे। नर्मदा सेवा यात्रा में स्वच्छता और नदी संरक्षण के लिये बन रहा यह वातावरण सुखद भविष्य के लिये आश्वस्त करता है।

Youtube
 
समाचारो की सूची